बिहार : त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों को देना होगा संपत्ति का ब्यौरा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 4 मार्च 2022

बिहार : त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों को देना होगा संपत्ति का ब्यौरा

panchayat-repersantative-must-provide-property-details
पटना : बिहार के प्रखंड प्रमुख और मुखिया समेत सभी त्रिस्तरीय पदधारकों को अपनी संपत्ति का ब्यौरा देना होगा। इन सभी पद धारक ओं को 31 मार्च तक अपनी चल और अचल संपत्ति का ब्यौरा देना होगा। विभाग ने बताया कि इन तमाम प्रतिनिधियों के संपत्ति का ब्यौरा डिस्ट्रिक्ट वेबसाइट पर उपलब्ध होगा। इसके लिए पंचायती राज पदाधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। अगर कोई भी प्रतिनिधि तय समय पर संपत्ति का ब्यौरा नहीं देते हैं, तो उनसे स्पष्टीकरण पूछा जाएगा। पंचायती राज विभाग इसके लिए सभी जिलाधिकारियों और जिला पंचायती राज पदाधिकारियों को दिशा-निर्देश जारी किया है। संपत्ति का ब्यौरा देने को लेकर विभाग का मानना है कि सरकार की ओर से पंचायत के उत्थान के लिए बड़ी मात्रा में राशि उपलब्ध कराई जाती है। बावजूद इसके कुछ क्षेत्रों से इसके उचित उपयोग की जानकारी सामने नहीं आकर आपस में बंदरबांट का आरोप लगता है। और यह आरोप उनके सगे संबंधियों से जुड़ता है। इसलिए त्रिस्तरीय पदधारकों को अब अपनी संपत्ति का ब्यौरा देना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: