कोविंद दूसरे चरण के पद्म पुरस्कार प्रदान करेंगे - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 28 मार्च 2022

कोविंद दूसरे चरण के पद्म पुरस्कार प्रदान करेंगे

president-kovind-give-padma-in-second-phase
नयी दिल्ली 28 मार्च, राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द चुनिंदा हस्तियों को राष्ट्रपति भवन में सोमवार को आयोजित अलंकरण समारोह में पद्म पुरस्कारों से सम्मानित करेंगे। दूसरे चरण के नागरिक अलंकरण समारोह में डॉ. प्रभा अत्रे और श्री कल्याण सिंह (मरणोपरान्त) को पद्म विभूषण से सम्मानित किया जायेगा। पद्म भूषण प्राप्त करने वालों में श्री विक्टर बनर्जी, डॉ. संजय राजाराम (मरणोपरान्त), डॉ. प्रतिभा रे तथा आचार्य वशिष्ठ त्रिपाठी शामिल हैं। पहले चरण का नागरिक अलंकरण समारोह इक्कीस मार्च को आयोजित किया गया था। पद्म पुरस्कार तीन श्रेणियों पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्मश्री में प्रदान किये जाते हैं। ये पुरस्कार कला, सामाजिक कार्य, लोक कार्य, विज्ञान एवं अभियांत्रिकी, व्यापार एवं उद्योग, औषधि, साहित्य एवं शिक्षा, खेल, नागरिक सेवा आदि क्षेत्रों में विशिष्ट तथा उल्लेखनीय सेवा के लिये प्रदान किये जाते है। ‘पद्म विभूषण’ उत्कृष्ट और विशिष्ट सेवा के लिये, ‘पद्म भूषण’ उच्चस्तरीय विशिष्ट सेवा के लिये और ‘पद्मश्री’ किसी भी क्षेत्र में विशिष्ट सेवा के लिये दिया जाता है। पुरस्कारों की घोषणा प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस के अवसर पर की जाती है। इस वर्ष कुल 128 पद्म पुरस्कार दिये जा रहे हैं, जिनमें दो संयुक्त पुरस्कार (संयुक्त पुरस्कारों को एकल पुरस्कार गिना जाता है) शामिल हैं। पुरस्कृतों की सूची में चार पद्म विभूषण, 17 पद्म भूषण और 107 पद्मश्री पुरस्कार हैं। इनमें 34 महिलायें भी हैं। इनके अलावा 13 लोगों को मरणोपरान्त पुरस्कार दिये गये हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: