सपा की सहयोगी दलों की बैठक से शिवपाल नदारद - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 मार्च 2022

सपा की सहयोगी दलों की बैठक से शिवपाल नदारद

shivpal-not-attend-sp-alliance-meeting
लखनऊ, 29 मार्च, समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने मंगलवार को पार्टी के सहयोगी अपना दल (के), सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (एसबीएसपी) और राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के नेता के साथ बैठक की और भविष्य की रणनीति पर चर्चा की। अखिलेश के चाचा शिवपाल यादव, जिन्होंने जसवंत नगर से सपा के टिकट से चुनाव लड़ा था, बैठक में मौजूद नहीं थे। यह अटकलें लगायी जा रही हैं कि वह "नाखुश" हैं क्योंकि उन्हें पिछले सप्ताह सपा विधायकों की बैठक में नहीं बुलाया गया था। बैठक में उपस्थित लोगों में एसबीएसपी नेता ओम प्रकाश राजभर, रालोद नेता राजपाल बाल्यान और अपना दल (के) नेता पंकज निरंजन शामिल हुए। बैठक के बारे में पूछे जाने पर बाल्यान ने कहा, "हमने सदन (विधानसभा) में अपनी भविष्य की रणनीति के बारे में चर्चा की। हम किसानों और मजदूरों के लिए संघर्ष करना जारी रखेंगे और उनके लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे।" शिवपाल की अनुपस्थिति को तवज्जो नहीं देते हुए एसबीएसपी नेता ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि उनके गठबंधन में कोई मतभेद नहीं है। इटावा में मौजूद शिवपाल से जब पत्रकारों ने पूछा तो उन्होंने कहा, "मैं कुछ नहीं कहूंगा। अगर मेरे पास साझा करने के लिए कुछ है, तो मैं आपको (मीडिया) फोन करूंगा।" हाल ही में हुए चुनाव में सपा को 111 सीट मिली थीं, जबकि सहयोगी दल रालोद और एसबीएसपी को क्रमश: आठ और छह सीट मिली थीं।

कोई टिप्पणी नहीं: