मधुबनी : राज्य स्तरीय विद्यालय बैडमिंटन खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 28 मार्च 2022

मधुबनी : राज्य स्तरीय विद्यालय बैडमिंटन खेल प्रतियोगिता का शुभारंभ

  • खेलों से समाज को मिलती है सकारात्मक दिशा :डीएम 

state-junior-badminton-in-madhubani
मधुबनी , जिला पदाधिकारी, मधुबनी के कर कमलों से   राज्य स्तरीय विद्यालय बैडमिंटन खेल प्रतियोगिता 2021/22 का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर नगर भवन, मधुबनी में किया गया। बताते चलें कि कला संस्कृति एवं युवा विभाग, बिहार सरकार के तत्वावधान में राज्य स्तरीय विद्यालय बैडमिंटन खेल प्रतियोगिता 2021/22 अंडर 14/17/19 आयुवर्ग ( बालक वर्ग ) का आयोजन दिनांक 28 से 30 मार्च 2022 तक मधुबनी जिले में किया जा रहा है। इस कार्यक्रम का भव्य उद्घाटन समारोह नगर भवन, मधुबनी में आयोजित हुआ। इस आयोजन में बिहार के कुल 38 जिलों से लगभग 450 खिलाड़ियों एवं 150 कोच एवं खेल पदाधिकारी शामिल हो रहे हैं। खेल की शुरुआत  जिला पदाधिकारी सह उद्घाटनकर्ता श्री अमित कुमार द्वारा बैडमिंटन के शटल शॉट से की गई। उद्घाटन समारोह को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी ने राज्य के विभिन्न हिस्सों से आए हुए खिलाड़ियों का मिथिला की धरती पर स्वागत किया। उन्होंने कहा कि आज आप अपने जिले का प्रतिनिधित्व करने इस राज्य स्तरीय विद्यालय बैडमिंटन प्रतियोगिता में पहुंचे हैं, आप ही में से चयनित खिलाड़ी आने वाले दिनों में राज्य का प्रतिनिधित्व राष्ट्रीय स्तर पर करेंगे। उन्होंने कहा कि कला और खेल हमारे जीवन का अभिन्न अंग हैं। कला हमारे जीवन में रंग भरते हैं, वहीं खेल हमारे जीवन को संतुलन प्रदान करते हैं। खेल भावना हमारे लिए जीवन के हर क्षेत्र में आगे बढ़ने की प्रेरणा देती है। खेल हमें आपसी समन्वय और सहयोग से बढ़ना सिखाती है, जो हमारे लिए अत्यंत उपयोगी है।

उन्होंने बताया कि बैडमिंटन खेल की शुरुआत भारत में ही पूना में हुई थी। आज यह खेल एक विश्वप्रसिद्ध खेल है। खेलों के महत्व पर प्रकाश डालते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि खेल और नियमों का सीधा जुड़ाव है। बिना नियमों के खेल संभव ही नहीं है। नियमों का अनुपालन ही अनुशासन है। जीवन में अनुशासन के महत्व को भला कौन नकार सकता है। खेल एक टीम वर्क से ही संपन्न किए जाते हैं और इस प्रकार के आयोजनों से जीवन में आगे बढ़ने की दिशा प्राप्त होती है।  उन्होंने कहा कि हमें खेल के आदर्शों को अपनी दिनचर्या में शामिल करना चाहिए। उन्होंने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए कहा कि संघर्ष से कभी मुंह न मोड़ें। उदाहरण प्रस्तुत करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि आपमें से कुछ जीत कर राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ जाएंगे और कुछ हार कर अपने घरों को लौट जाएंगे। ऐसे में हार कर प्रयत्न नहीं छोड़ना है, आपकी आगे बढ़ने की जीत का जज्बा और संघर्ष करने की आपकी सोच ही आपको पुनः मौका दिलाएगी। अतः संघर्ष का रास्ता न छोड़ें।  उन्होंने उपस्थित खिलाड़ियों से कहा कि उनके आवासन और पारदर्शी खेल के आयोजन की पूरी तैयारी है। सभी इवेंट का सोशल मीडिया के माध्यम से लाइव प्रसारण किया जा रहा है।  उन्होंने सभी को बैडमिंटन प्रतियोगिता के सफल आयोजन की शुभकामनाएं दी और सभी तैयारियों पर खुशी जाहिर की। सादगीपूर्ण समारोह के उक्त अवसर पर श्री अवधेश राम, अपर समाहर्ता, मधुबनी, श्री सुरेन्द्र राय, विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा, मधुबनी, श्री किशोर कुमार, स्थापना उप समाहर्ता, मधुबनी, श्री आमेत विक्रम बैनामी, नाजारत उप समाहर्ता, मधुबनी, श्री साहब रसूल, वरीय उप समाहर्ता, मधुबनी, श्री बालेंदु पाण्डेय, वरीय उप समाहर्ता, मधुबनी, श्रीमती आरती, वरीय उप समाहर्ता, मधुबनी, सुश्री नलिनी, वरीय उप समाहर्ता, मधुबनी, श्री शैलेंद्र कुमार, जिला पंचायती राज पदाधिकारी सह सूचना एवं जनसंपर्क, पदाधिकारी, मधुबनी, श्री नसीम अहमद, जिला शिक्षा पदाधिकारी, श्री अश्वनी कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर मधुबनी, श्री अभिषेक कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, फुलपरास, श्री शैलेश कुमार चौधरी, अनुमंडल पदाधिकारी, झंझारपुर, श्री विजय कुमार पंडित, जिला खेल पदाधिकारी, मधुबनी सहित जिले के सभी वरीय पदाधिकारी एवं समूचे राज्य से आए हुए खिलाड़ी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: