एम्स निदेशक पद के लिए तीन नामों का चयन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 25 मार्च 2022

एम्स निदेशक पद के लिए तीन नामों का चयन

three-selection-for-aiims-director
नयी दिल्ली, 25 मार्च, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण की अध्यक्षता वाली खोज एवं चयन समिति ने एम्स निदेशक के पद के लिए तीन नामों का चयन किया है, जिन्हें संस्थान के निर्णय लेने वाले सर्वोच्च निकाय के समक्ष 29 मार्च को पेश किया जाएगा। एक बार जब अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का निकाय इसे मंजूरी दे देगा तो इन नामों को अंतिम सहमति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति (एसीसी) के पास भेजा जाएा। जिन तीन नामों का चयन किया गया है उनमें एम्स के अंत:स्राव विज्ञान (एन्डोक्राइनोलॉजी) विभाग के प्रमुख डॉ. निखिल टंडन, एम्स ट्रामा सेंटर के प्रमुख एवं हड्डी रोग विभाग के प्रमुख डॉ. राजेश मल्होत्रा और संस्थान में जठरांत्ररोग विज्ञान (गैस्ट्रोएन्टेरोलॉजी) विभाग में प्रोफेसर डॉ. प्रमोद गर्ग शामिल हैं। एम्स निदेशक पद के लिए नामों का चयन का जिम्मा जिस समिति को सौंपा गया है उसमें राजेश भूषण के अलावा जैव प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव राजेश एस गोखले, सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. विजय राघवन और दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति योगेश सिंह शामिल हैं। उन्होंने मंगलवार को बैठक की और तीन नामों का चयन किया। एक आधिकारिक सूत्र ने बताया, ‘‘इन तीन नामों को मंजूरी के लिए 29 मार्च को एम्स के निकाय के समक्ष पेश किया जाएगा और उसके बाद अंतिम मंजूरी के लिए प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली एसीसी को भेजा जाएगा।’’ नयी दिल्ली में स्थित एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया का कार्यकाल तीन महीने के लिए बढ़ा दिया गया है। उनका कार्यकाल 24 मार्च को खत्म होना था। उन्हें 28 मार्च 2017 को इस पद पर नियुक्त किया गया था। एम्स के निदेशक पद के लिए करीब 32 उम्मीदवारों ने आवेदन दिया था। इनमें आईसीएमआर के महानिदेशक बलराम भार्गव के साथ ही एम्स के 13 डॉक्टर शामिल हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: