बिहार : पुण्य शुक्रवार को पूर्ण उपवास और परहेज का दिन कल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 अप्रैल 2022

बिहार : पुण्य शुक्रवार को पूर्ण उपवास और परहेज का दिन कल

good-friday-fasing-omorow
पटना. ईसाई समुदाय का दुःखभोग 15 अप्रैल 2022 को गुड फ्राइडे मनाने के साथ खत्म हो जाएगा. ईसाई समुदाय का कल पुण्य शुक्रवार को पूर्ण उपवास और परहेज का दिन है. ईसाई समुदाय रूस और यूक्रेन के बीच 50 दिनों से जारी महायुद्ध के खिलाफ उपवास और परहेज रखेंगे.पाटलिपुत्र कॉलोनी में स्थित सेक्रेट हार्ट चर्च,पाटलिपुत्र में पुण्य शुक्रवार को रक्तदान शिविर आयोजित किया है. कुर्जी होली फैमिली हॉस्पिटल के लिए रक्तदान संग्रह किया जा रहा है.वहीं प्रभु ईसा के क्रूस  मरण की दुखमय घटना को एक झांकी के रूप में पेश किया जाएगा.परम्परागत मुसीबत गान कुर्जी चर्च में पेश किया जाएगा. गुड फ्राइडे के पुण्य बेला में कुर्जी चर्च के द्वारा और विक्टर फ्रांसिस के नेतृत्व में प्रभु ईसा के क्रूस  मरण की दुःखमयी  घटना को एक झांकी के रूप में सुबह 6ः 30 बजे लोयला हाई स्कूल, कुर्जी से निकलकर कुर्जी के मुख्य सड़क से प्रार्थना, गीत और अभिनय द्वारा कुर्जी चर्च के प्रांगण में पहुंचकर एक विशेष प्रार्थना के साथ सम्पन्न होगी.राजधानी पटना के सभी पत्रकार भाई-बहनों से नम्र निवेदन किया गया है कि कृपया इसके कवरेज के लिए अपना बहुमूल्य समय निकालने की कृपा करें.जैसा कि आपको जानकारी होगी कि गुड फ्राइडे के पुण्य अवसर पर पूरे देश और दुनिया में विशेष प्रार्थना होती है. पश्चिम चंपारण के बेतिया के निवासियों के द्वारा 100 साल पहले शुरू प्रभु येसु ख्रीस्त के चालीस दिवसीय दुःखभोग के ऊपर निर्मित मुसीबत गायन को घर-घर पहुंचाने का प्रयास करने वाले एस.के.लॉरेंस और उनकी टीम का अंतिम मुसीबत गायन गुड फ्राइडे 15 अप्रैल 2022 को कुर्जी चर्च में होगा. टीम का नेतृत्व करने वाले एस. के. लॉरेंस ने कहा कि उनके नेतृत्व में भक्त जनों के साथ कुर्जी चर्च के परिसर में दोपहर 1.50 पर प्रभु येसु के दुःखभोग (प्राणदंड की आज्ञा से लेकर सूली पर चढ़ाए जाने तक की कष्टमय घटना) से सम्बन्धित ‘मुसीबत‘नामक गीत तथा प्रार्थना का भक्तिमय कार्यक्रम प्रारम्भ होगा.आप सभी से आग्रह है कि इस भक्तिमय कार्यक्रम (गीत) में अवश्य शामिल हों तथा परमेश्वर की आशीष प्राप्त करें.

कोई टिप्पणी नहीं: