उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव में भाजपा ने जीती 36 में से 33 सीट - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 12 अप्रैल 2022

उत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनाव में भाजपा ने जीती 36 में से 33 सीट

bjp-won-33-mla-seats-in-up
लखनऊ, 12 अप्रैल, उत्तर प्रदेश में विधान परिषद के स्थानीय प्राधिकारी निर्वाचन वाले 35 क्षेत्रों की 36 सीटों के लिये हुए चुनाव में मतदान वाली 27 सीटों पर मंगलवार को मतगणना के बाद चुनाव आयोग द्वारा घोषित चुनाव परिणाम में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने 33 सीटें जीती हैं। दो सीट पर निर्दलीय और एक सीट पर जनसत्ता दल का उम्मीदवार विजयी घोषित किया गया है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) कार्यालय की ओर से मतदान वाली सभी 27 सीटों पर मंगलवार शाम को मतगणना पूरी होने के बाद घोषित किये गये चुनाव परिणाम में यह जानकारी दी गयी है। आयोग द्वारा जारी बयान के अनुसार पूर्व निर्धारित चुनाव कार्यक्रम के तहत कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज सुबह आठ बजे से मतगणना शुरु हुयी थी। मतगणना के शुरुआती रुझानों में ही अधिकांश सीटों पर भाजपा के उम्मीदवारों ने निर्णायक बढ़त हासिल कर ली। नौ सीटों पर सिर्फ भाजपा के ही उम्मीदवारों का नामांकन होने के कारण उन्हें मतदान के पहले ही निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया था। इस प्रकार स्थानीय प्राधिकार निर्वाचन वाली 36 सीटों में से भाजपा ने 33 सीटें जीत कर राज्य विधान मंडल के उच्च सदन में भी पूर्ण बहुमत हासिल कर लि है। उत्तर प्रदेश की सौ सदस्यीय विधान परिषद में अब भाजपा के 66 सदस्य हो गये हैं। चुनाव जीतने वाले तीन अन्य उम्मीदवारों में मऊ-आजमगढ़ सीट से निर्दलीय उम्मीदवार विक्रांत सिंह ‘रिशू’ और वाराणसी सीट पर निर्दलीय उम्मीदवार अन्नपूर्णा सिंह शामिल हैं। वहीं, प्रतापगढ़ सीट पर जनसत्ता दल के अक्षय प्रताप सिंह उर्फ गोपाल जी ने जीत दर्ज की है। मतदान वाली शेष 24 सीटों पर भाजपा के उम्मीदवार जीते हैं।


भाजपा के विजयी घोषित उम्मीदवारों में लखनऊ-उन्नाव सीट से रामचंद्र प्रधान, बहराइच-श्रावस्ती सीट पर प्रज्ञा त्रिपाठी, रायबरेली सीट पर दिनेश प्रताप सिंह, देवरिया सीट पर डा रतनपाल सिंह, बाराबंकी सीट पर अंगद कुमार सिंह, बलिया सीट पर रविशंकर सिंह ‘पप्पू भैया’, इलाहाबाद सीट पर डा केपी श्रीवास्तव, मेरठ-गाजियाबाद सीट पर धर्मेंद्र कुमार भारद्वाज और सीतापुर सीट पर पवन कुमार सिंह शामिल हैं। गौरतलब है कि मतदान वाले 58 जिलों में स्थित 27 निर्वाचन क्षेत्रों के लिये 09 अप्रैल को 739 मतदान केन्द्रों पर कुल 1,20,657 मतदाताओं में से लगभग 98 प्रतिशत ने मतदान किया था। मतदान वाली इन 27 सीटों पर मतगणना के बाद घोषित चुनाव परिणाम के मुताबिक भाजपा के जीते प्रत्याशियों में मुरादाबाद-बिजनौर सीट पर सत्यपाल सिंह, रामपुर-बरेली सीट पर कुंवर महाराज सिंह, पीलीभीत-शाहजहांपुर सीट पर डा सुधीर गुप्ता, सुल्तानपुर सीट पर शैलेन्द्र प्रताप सिंह, गोण्डा सीट पर अवधेश कुमार सिंह उर्फ मंजू सिंह, फैजाबाद सीट पर हरिओम पाण्डेय, बस्ती-सिद्धार्थनगर सीट पर सुभाष चंद्र उर्फ सुभाष यदुवंशी, गोरखपुर-महराजगंज सीट पर सी पी चंद और गाजीपुर सीट पर विशाल सिंह चंचल शामिल हैं। इनके अलावा इस चुनाव में भाजपा उम्मीदवार के रूप में जौनपुर सीट पर बृजेश कुमार सिंह ‘प्रिन्सू’, झांसी-जालौन-ललितपुर सीट पर रमा निरंजन, कानपुर-फतेहपुर सीट पर अविनाश सिंह चौहान, इटावा फर्रुखाबाद सीट पर प्रांशु दत्त द्विवेदी, आगरा-फिरोजाबाद सीट पर विजय शिवहरे और मुजफ्फरनगर-सहारनपुर सीट पर वंदना वर्मा ने चुनावी जीत हासिल की है। ज्ञात हो कि मतदान से पहले जिन नौ सीटों पर भाजपा के उम्मीदवारों को निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया उनमें मिर्जापुर-सोनभद्र सीट पर श्याम नरायन सिंह, बदायूं सीट पर वागीश पाठक, हरदोई सीट से अशोक कुमार, अलीगढ़-हाथरस सीट पर ऋषिपाल सिंह, खीरी सीट पर अनूप कुमार गुप्ता, मथुरा-एटा-मैनपुरी क्षेत्र की दो सीटों पर आशीष कुमार यादव और ओम प्रकाश, बुलंदशहर सीट पर नरेन्द्र सिंह भाटी तथा बांदा-हमीरपुर सीट पर जितेन्द्र सिंह सेंगर शामिल हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं: