मसौढ़ी : बीजेपी पूर्व विधायक के चाचा और चचेरे भाई को गोली मार कर हत्या - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 अप्रैल 2022

मसौढ़ी : बीजेपी पूर्व विधायक के चाचा और चचेरे भाई को गोली मार कर हत्या

bjp-ex-mla-shoo-dead
मसौढ़ी. बिहार के जहानाबाद और पटना के मसौढ़ी में अपराधियों ने दो लोगों की गोली मार कर हत्या कर दी. मरने वाले होटल कारोबारी अभिशार शर्मा और दिनेश शर्मा बीजेपी विधायक के चाचा और चचेरे भाई थे. दोनों की अलग-अलग जगहों पर एक ही समय तीन-तीन गोली मारकर हत्या कर दी गई. आज अमंगल साबित हुआ मंगलवार.बीजेपी के पूर्व विधायक और नेता चितरंजन शर्मा के चाचा और भतीजे की पूरी प्लानिंग के साथ हत्या कर दी गई. सबसे ज्यादा चौंकान्ने वाली बात यह है कि दोनों को एक ही समय में दो जिलों में गोली मारी गई. मंगलवार सुबह करीब 6:30 बजे अपराधियों ने पूर्व विधायक के चाचा अभिराम शर्मा को जहानाबाद में उनके होटल में घुसकर और भतीजा दिनेश शर्मा को मसौढ़ी में उसके किराना दुकान पर गोली मारी. जहानाबाद एसडीपीओ अशोक पांडेय ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में दो नकाबपोश अपराधी होटल से भागते हुए दिखे हैं. दोनों की पहचान की जा रही है. आपसी रंजिश के तहत हत्या की बात सामने आ रही है.कुछ लोगों से पूछताछ की जा रही है.अपराधियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है. शहर के कनैदी इलाके में स्थित श्रीराम होटल में मंगलवार सुबह दो अपराधी अंदर घुसे.उन्होंने स्टाफ से कहा कि वे अभिराम शर्मा को शादी का कार्ड देने आए हैं. होटल के स्टाफ ने कहा कि वो अपने कमरे में सो रहे हैं.इसके बाद एक अपराधी ने स्टाफ की कनपटी पर पिस्टल सटा दिया और चुप रहने के लिए कहा. इसके बाद दोनों अपराधी कमरे में गए और सो रहे अभिराम शर्मा को गोली मार दी.


परिजनों का कहना है कि पूर्व विधायक और नेता चितरंजन शर्मा का भतीजा दिनेश शर्मा मसौढ़ी में किराना दुकान चलाता था.वह रोज की तरह मंगलवार सुबह दुकान पर गया था.जैसे ही उसे दुकान खोली वैसे ही अपराधियों ने उसे गोली मार दी.परिजनों का कहना है कि पुलिस मामले को गंभीरता से ले और आरोपियों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी करे. बताया गया कि कारोबारी अभिराम शर्मा पटना जिले के नीमा गांव के रहने वाले थे.यह भी बताया जा रहा है कि बाइक सवार अपराधियों ने मंगलवार की सुबह करीब 6:30 बजे होटल में घुसकर घटना को अंजाम दिया. ठीक उसी समय में मसौढ़ी में होटल कारोबारी के चचेरे भाई की भी गोली मारकर हत्या कर दी.   परिजनों का कहना है कि दोनों हत्या आपसी रंजिश में की गई है. घटना के बाद लोग आक्रोशित हो गए और जहानाबाद में सड़क पर उतर कर हंगामा करने लगे.लोग अपराधियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे.जिस तरह से अपराधियों ने एक समय में दोनों जगहों पर घटना को अंजाम दिया हैं. इससे यहीं लगता है कि अपराधियों ने घटना को अंजाम देने के लिए फुल प्रूफ प्लानिंग की थी. होटल कारोबारी अभिराम शर्मा के मैरिज हॉल के पास आसपास के लोगों की भीड़ लग गई.उधर, आक्रोशित लोगों ने पटना गया एनएच-83 को जाम किया.घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और जांच में जुट गई. पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत करवाया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. 1990-95 के दशक में चर्चित नीमा गांव के पांडव गिरोह के बीच आपसी अदावत में घटना को अंजाम देने की बात सामने आ रही है. पांडव गिरोह की अवैध कमाई के पुराने लेन-देन, मसौढ़ी के धनरूआ में एक आलीशान मकान और गांव की जमीन को लेकर लंबे समय से विवाद चल रहा.इसको लेकर गिराेह के सरगना संजय सिंह और चितरंजन सिंह आमने-सामने थे.धनरूआ के मकान विवाद की पुष्टि जहानाबाद एसपी दीपक रंजन ने भी की है. एक पक्ष उस मकान को जमींदोज करने की तैयारी में था. इसको लेकर गत दिनों चितरंजन सिंह के नीमा स्थित मकान पर भी गोलीबारी होने की बात भी ग्रामीणों ने बताई.अभिराम शर्मा और दिनेश शर्मा चितरंजन के चचेरे चाचा-भतीजा थे.चितरंजन का कामकाज यही दोनों देखते थे. इस कारण दोनों को निशाना बनाया गया.अभिराम शर्मा होटल के साथ जमीन के कारोबार से जुड़े थे. उन्होंने हाल में एसपी आवास के पास 60 लाख में एक मकान खरीदा था.इसके अलावा शहर में उनका एक चर्चित श्रीराम होटल है और श्रीराम आवास है.

कोई टिप्पणी नहीं: