बिहार : घोर आपत्तिजनक विषय है उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए :अध्यक्ष - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 अप्रैल 2022

बिहार : घोर आपत्तिजनक विषय है उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए :अध्यक्ष

bihar-congress-angry
पटना. आपने यह क्या कह दिये.पटना जिला ग्रामीण कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ आशुतोष कुमार शर्मा बिफर गये हैं.उन्होंने कहा है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कल रविवार को दिनकर समारोह के दौरान कहा कि कांग्रेस पार्टी ने दिनकर जी से राज्यसभा की सदस्यता छीन ली थी. पटना जिला ग्रामीण कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ आशुतोष कुमार शर्मा ने राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर के संबंध में पूर्व मंत्री रविशंकर प्रसाद की टिप्पणी को झूठ का पुलिंदा करार दिया है.उन्होंने कहा कि इतना बड़ा झूठ कोई भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ही बोल सकते हैं. यह अत्यंत ही निंदनीय विषय है. एक प्रतिष्ठित केंद्रीय मंत्री के पद पर रह कर और भाजपा के बड़े नेताओं की कतार में स्थापित रविशंकर प्रसाद जैसे व्यक्ति इस तरह के साक्षात झूठी बातें बोलकर समाज को क्या संदेश देना चाहते हैं! उक्त कमिटी के अध्यक्ष डॉ आशुतोष कुमार शर्मा ने कहा कि उनको या तो साधारण इतिहास की जानकारी भी नहीं है या तो वे समाज में झूठे भ्रामक बातें फैला फैलाना चाहते हैं. उन्हें पता होना चाहिए कि राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर को कांग्रेस पार्टी ने राज्यसभा सदस्य देकर सम्मानित किया था और स्वयं राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर को पंडित जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी काफी सम्मान करती थी, दिनकर लगातार 12 वर्षों तक राज सभा के सदस्य हैं और उनका सम्मान दिल्ली में हिन्दी सलाहकार के रूप में रही. जीवन पर्यंत राष्ट्रीय रामधारी सिंह दिनकर को जो सम्मान कांग्रेस पार्टी ने दिया वह अविस्मरणीय है, पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद द्वारा इस तरह का झूठी बातें बोलना निंदनीय ही नहीं घोर आपत्तिजनक विषय है उन्हें इसके लिए माफी मांगनी चाहिए.

कोई टिप्पणी नहीं: