बिहार : 5 साल बाद नीतीश ने ली अंगड़ाई, बदली करवट - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 अप्रैल 2022

बिहार : 5 साल बाद नीतीश ने ली अंगड़ाई, बदली करवट

  • इफ्तार के आमंत्रण पर राबड़ी आवास पहुंचे मुख्‍यमंत्री

niish-reach-ejaswi-house
विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव के आमंत्रण पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार इफ्तार के दावत में शामिल होने पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी के आवास 10, सर्कुलर रोड पर पहुंचे। करीब 5 साल बाद नीतीश कुमार 10 सर्कुलर रोड पहुंचे। इससे पहले 2016 में नीतीश कुमार राबड़ी आवास पर छठ का प्रसाद लेने और इफ्तार में शामिल होने पहुंचे थे। जुलाई, 2017 में नीतीश कुमार ने पाला बदलकर भाजपा के साथ सरकार बना ली थी। इस घटना के करीब 5 साल बाद मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार आज राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर इफ्तार में शामिल होने पहुंचे तो बिहार की राजनीति में नयी संभावनाओं को लेकर चर्चा तेज हो गयी। यह भी कयास लगाये जाने के लगे कि बिहार में सरकार का नेतृत्‍व बदल सकता था।


हम और वरिष्‍ठ पत्रकार कन्‍हैया भेलारी इन्‍हीं संभावनाओं को लेकर कयास लगा रहे थे कि करीब 6 बजकर 9 मिनट पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार मुख्‍य दरवाजे की ओर आगे बढ़े। नेता प्रतिपक्ष ने उनका स्‍वागत किया और फिर मंडप में ले गये। मंडप में एक ही सोपा पर मुख्‍यमंत्री के साथ राजद के वरिष्‍ठ नेता अब्‍दुल बारी सिद्दीकी और तेज प्रताप यादव बैठे हुए थे। इसके बाद मीसा भारती और राबड़ी देवी बैठी थीं। अब्‍दुलबारी सिद्दीकी के बगल में विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह, मंत्री शाहनवाज हुसैन, पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी समेत कांग्रेस, राजद और वामपंथी दलों के नेता बैठे थे। तेजस्‍वी यादव अतिथियों का स्‍वागत कर रहे थे। इफ्तार शुरू होने के बाद मुख्‍यमंत्री ने खजूर के साथ शुरुआत की। राबड़ी देवी ने एक प्‍लेट पत्रकारों की ओर भी बढ़ाया। 6 बजकर 38 मिनट पर मुख्‍यमंत्री ने मंडप से निकलकर पंडाल ओर बढ़े और रोजेदारों से मुलाकात कर प्रस्‍थान कर गये।


इफ्तार के लिए आधे दर्जन पंडाल बनाये गये थे। गेट से लेकर अंदर तक व्‍यवस्‍था बनाये रखने का पूरा इंतजाम किया गया था। पार्टी के पदाधि‍कारियों को अलग-अलग जगहों पर व्‍यवस्‍था बनाये रखने की जिम्‍मेवारी दी गयी थी। लगभग 3 बजे से ही रोजेदार और पार्टी के कार्यकर्ता जुटने लगे थे। यह सिलसिला लगभग 7 बजे तक जारी रहा, हालांकि पौने सात बजे से लोग प्रस्‍थान भी करने लगे थे। व्‍यवस्‍था पर निगरानी की जिम्‍मेवारी पूर्व विधायक शक्ति सिंह यादव संभाल रहे थे। वे माईक से व्‍यवस्‍था बनाये रखने की लगातार अपील कर रहे थे। कभी-कभार अब्‍दुलबारी सिद्दीकी भी लोगों से निर्धारित जगह पर पहुंचने का आग्रह कर रहे थे। पार्टी प्रवक्‍ता चितरंजन गगन भी अतिथियों का स्‍वागत कर रहे थे। विधायक सुदय यादव और मुकेश यादव, पूर्व मंत्री शयाम रजक और शिवचंद्र राम, कुमार चंद्रदीप, अरुण यादव, राहुल कुमार सिंह समेत अन्‍य लोग भी व्‍यवस्‍था बनाने में जुटे हुए थे। इस कार्यक्रम में 5 हजार से अधिक लोग जुटे थे। मीडिया के लिए यह आयोजन खास आकर्षण बना हुआ था, क्योंकि पिछले 5 वर्षों की सबसे बड़ी खबर उनकी आंखों के सामने तैर रही थी।


--- वीरेंद्र, वरिष्‍ठ संसदीय पत्रकार, पटना ---  

कोई टिप्पणी नहीं: