गया : अवैध खनन पर दर्ज करवाया एफ आई आर - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 25 अप्रैल 2022

गया : अवैध खनन पर दर्ज करवाया एफ आई आर

  • ●’वजीरगंज प्रखंड के तिनेरी गांव के समीप जमुआवाँ बालू घाट में किया गया था बालू का अवैध खनन’
  • ●’जमुआवाँ बालू घाट के संवेदक चुनचुन कुमार प्रोपराइटर मैसर्स माँ मंगला क्रिएटिव प्राइवेट लिमिटेड हिसुआ नवादा के विरुद्ध किया गया प्राथमिकी दर्ज’

illigel-mining-gaya
गया. जिला पदाधिकारी, गया डॉ० त्यागराजन एसएम को बालू के अवैध खनन से संबंधित लगातार मिल रही सूचना के आधार पर उन्होंने जमुआवाँ बालू घाट के क्लस्टर संख्या 25, जो तिनेरी गांव के समीप है. वहां बालू के अवैध खनन कर परिवहन किया जा रहा था. जिला पदाधिकारी के आदेश के आलोक में  अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सदर, खान  निरीक्षक जिला खनन कार्यालय, अंचलाधिकारी वजीरगंज एवं सशस्त्र बल के साथ संयुक्त रूप से जांच की गई.जांच के क्रम में बालू घाट का कोई भी कर्मी मौजूद नहीं पाया गया. जमुआवाँ बालू घाट के लिए निर्धारित सीमा के पर्यावरणीय स्वीकृति क्षेत्र जियो टैगिंग के आधार पर लगभग 700 मीटर से 800 मीटर की दूरी पर लोंगिट्यूड एवं लाटीट्यूड के सीमांकन के समीप बालू का खनन किया हुआ पाया गया,  जिसकी लंबाई लगभग 50 फीट, चैड़ाई 20 फीट एवं गहराई 5 फीट अर्थात कुल 5000 घनफुट बालू खनन एवं प्रेषण किया हुआ पाया गया.


स्थानीय ग्रामीणों से पूछताछ किए जाने पर बताया गया कि जमुआवाँ बालू घाट के संवेदक/ संचालक द्वारा कुछ दिन पहले नदी के रास्ते का निर्माण कर उक्त स्थल से बालू की निकासी की गई है. जमुआवाँ बालू घाट का संचालन चुनचुन कुमार प्रोपराइटर मैसर्स मां लक्ष्मी क्रिएटिव प्राइवेट लिमिटेड हिसुआ नवादा के द्वारा किया जा रहा है, जो जमुआवाँ बालू घाट क्लस्टर संख्या 25 के संवेदक हैं. अवैध रूप से बालू का निकासी किए जाने से सरकार को कुल ₹291250 का राजस्व की क्षति हुई है.अवैध खनन किए जाने से बिहार सरकार को राजस्व की क्षति हुई है जो अवैध कर्ता से वसूली है. खनिज विकास पदाधिकारी, गया द्वारा वजीरगंज प्रखंड के जमुआवाँ बालू घाट के संवेदक चुनचुन कुमार के विरूद्ध वजीरगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है.’जिला पदाधिकारी ने स्पष्ट निर्देश दिया कि अवैध बालू खनन के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति पर कार्य किया जाएगा.कहीं से भी कोई अवैध खनन की सूचना आने पर सीधे तौर पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कठोर कार्रवाई की जाएगी.’ वजीरगंज प्रखंड के तिनेरी गांव के पास स्थित जमुआवां बालू घाट से अवैध खनन की शिकायत मिलने पर डीएम डॉ त्यागराजन के आदेश पर संवेदक चुनचुन कुमार प्रोपराइटर मैसर्स मां मंगला क्रिएटिव प्राइवेट लिमिटेड हिसुआ, नवादा के विरुद्ध वजीरगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है. जिला सूचना व जनसंपर्क कार्यालय से दी गयी जानकारी के अनुसार, तिनेरी गांव के पास स्थित जमुआवां बालू घाट के क्लस्टर संख्या 25 से अवैध खनन होने की लगातार शिकायत डीएम को मिल रही थी. इस मामले को डीएम ने गंभीरता से लिया और डीएम के आदेश पर तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया. इस कमेटी में अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सदर, खनन निरीक्षक व वजीरगंज के सीओ को शामिल किया गया.


पुलिस बलों की मौजूदगी में अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सदर, खनन निरीक्षक व वजीरगंज के सीओ जमुआवां बालू घाट के क्लस्टर संख्या 25 पर पहुंचे और वहां जांच की. जांच के क्रम में बालू घाट का कोई भी कर्मचारी मौजूद नहीं पाया गया. जमुआवां बालू घाट के लिए निर्धारित सीमा के पर्यावरणीय स्वीकृति क्षेत्र जियो टैगिंग के आधार पर लगभग 700 मीटर से 800 मीटर की दूरी पर लोंगिट्यूड व लाटीट्यूड के सीमांकन के समीप बालू का खनन किया हुआ पाया गया. इसकी लंबाई लगभग 50 फुट, चैड़ाई 20 फुट व गहराई पांच फुट अर्थात कुल 5000 घनफुट बालू खनन व प्रेषण किया हुआ पाया गया. कमेटी के सदस्यों द्वारा ग्रामीणों से पूछताछ करने पर बताया गया कि जमुआवां बालू घाट के संवेदक द्वारा कुछ दिन पहले नदी के रास्ते का निर्माण कर उक्त स्थल से बालू की निकासी की गयी है. जमुआवां बालू घाट का संचालन चुनचुन कुमार प्रोपराइटर मैसर्स मां लक्ष्मी क्रिएटिव प्राइवेट लिमिटेड हिसुआ, नवादा के द्वारा किया जा रहा है, जो जमुआवां बालू घाट क्लस्टर संख्या 25 के संवेदक हैं. अवैध रूप से बालू की निकासी किये जाने से सरकार को कुल 2,91,250 रुपये के राजस्व की क्षति हुई है. अवैध खनन किये जाने से हुई राजस्व की क्षति की वसूली की जायेगी. खनिज विकास पदाधिकारी के आवेदन पर वजीरगंज प्रखंड के जमुआवां बालू घाट के संवेदक चुनचुन कुमार के विरुद्ध वजीरगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है. इधर, डीएम ने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिया कि अवैध बालू खनन के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति पर कार्य किया जायेगा. कहीं से भी कोई अवैध खनन की सूचना आने पर सीधे तौर पर प्राथमिकी दर्ज करते हुए कठोर कार्रवाई की जायेगी. ए.सिद्धार्थ का कहना है कि सर टनकुप्पा पंचायत गया के मध्य विद्यालय का औचक निरीक्षण करवाने की कृपा की जाए.वहीं रविकांत सिंह राठौर कां कहना है कि सर परैया में मरहाँ बालू घाट पे भी अवैध बालू खनन बहुत जोरों से हो रहा है पुलिस के मिलीभगत से महोदय नदी को 10 से 15 फुट गढ़ा कर दिया गया है महोदय कृपया इसपे संज्ञान लिया जाए.

कोई टिप्पणी नहीं: