दिल्ली में ऑटो, टैक्सी किराया संशोधन पर विचार के लिए समिति : गहलोत - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 16 अप्रैल 2022

दिल्ली में ऑटो, टैक्सी किराया संशोधन पर विचार के लिए समिति : गहलोत

committee-for-revised-auto-taxi-fare-gehlot
नयी दिल्ली, 15 अप्रैल, सीएनजी पर सब्सिडी की मांग को लेकर अगले सप्ताह ऑटो रिक्शा और टैक्सी संघों द्वारा हड़ताल के आह्वान से पहले शुक्रवार को दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने समयबद्ध तरीके से किराया संशोधन पर विचार करने के लिए एक समिति गठित करने की घोषणा की। गहलोत ने एक ट्वीट में कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार ऑटो रिक्शा और टैक्सी संघों की चिंताओं को समझती है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ईंधन की बढ़ती कीमतों के कारण, ऑटो, टैक्सी यूनियन किराये में संशोधन की मांग कर रहे हैं। अरविंद केजरीवाल नीत सरकार उनकी चिंताओं को समझती है। परिवहन विभाग द्वारा जल्द ही एक समिति गठित की जाएगी, जो समयबद्ध तरीके से अपनी सिफारिशें देगी।’’ कंप्रेस्ड नैचुरल गैस (सीएनजी) की कीमतों में 2.50 रुपये की नयी बढ़ोतरी के साथ ऑटो रिक्शा, टैक्सी और कैब चालक संघों के सदस्यों ने बृहस्पतिवार को अधिकारियों को आगाह किया कि वे गैस की कीमतों पर सब्सिडी की मांग के लिए 18 अप्रैल से हड़ताल पर जाएंगे। सैकड़ों ऑटो रिक्शा, टैक्सी और कैब चालकों ने सीएनजी कीमतों पर सब्सिडी की मांग को लेकर 11 अप्रैल को दिल्ली सचिवालय के सामने धरना दिया था। दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के तत्वावधान में विरोध प्रदर्शन किया गया। बस संचालकों ने भी शहर में ऑटो रिक्शा और टैक्सी यूनियन की हड़ताल में शामिल होने की घोषणा की है। एसटीए ऑपरेटर्स एकता मंच के महासचिव श्यामलाल गोला ने कहा, ‘‘पिछले दो वर्षों में हम भी कोविड-19 के असर से प्रभावित हुए हैं और अब सीएनजी की कीमतें बढ़ती जा रही हैं। हमारे संगठन के सदस्य भी 18 अप्रैल को हड़ताल में शामिल होंगे और उस दिन निजी बसें नहीं चलेंगी।’’ दिल्ली ऑटो रिक्शा संघ के महासचिव राजेंद्र सोनी ने कहा, ‘‘सीएनजी की कीमत हर दिन बढ़ रही है और हम सरकार से मांग कर रहे हैं कि हमें प्रति किलोग्राम 35 रुपये सब्सिडी दी जाए।’’ दिल्ली के ऑटो रिक्शा और टैक्सी एसोसिएशन ने छह अप्रैल को मुख्यमंत्री केजरीवाल को पत्र लिखकर सीएनजी पर प्रति किलोग्राम 35 रुपये सब्सिडी देने की मांग की थी। राष्ट्रीय राजधानी में बृहस्पतिवार को एक बार फिर सीएनजी की कीमत में 2.50 रुपये प्रति किलोग्राम की बढ़ोतरी की गई। दिल्ली में अभी सीएनजी की कीमत 71.61 रुपये प्रति किग्रा है।

कोई टिप्पणी नहीं: