मधुबनी : किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसान होंगे लाभान्वित :डीएम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 24 अप्रैल 2022

मधुबनी : किसान क्रेडिट कार्ड योजना से किसान होंगे लाभान्वित :डीएम

  • जिले में किसान भागीदारी,प्राथमिकता हमारी" अभियान की हुई शुरुआत।
  • अभियान में भाग लेने को लेकर जिले के किसानों में खासा उत्साह। 

dm-madhubani-for-farmers-credit-card
मधुबनी, आज देश भर में मनाए जाने वाले  आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर किसान भागीदारी, प्राथमिकता हमारी अभियान की शुरुआत माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा की गई। इस मौके पर जिले के सभी 388 पंचायतों में वर्चुअल माध्यम से पंचायत प्रतिनिधियों व किसानों द्वार बड़ी संख्या में भागीदारी की गई। गौरतलब हो कि कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार से प्राप्त निर्देश के आलोक में जिले के सभी 388 पंचायतों में इस अभियान में भाग लेने को लेकर किसानों में खासा उत्साह देखा गया। जिलाधिकारी अमित कुमार ने बताया कि माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा इतने बड़े स्तर पर सीधे किसानों को दिशाबोध प्रदान करने का यह एक अत्यंत महत्वपूर्ण अवसर था। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन, मधुबनी जिले में किसानों के कल्याण की सभी योजनाओं को शत-प्रतिशत तरीके से लागू करने को लेकर कृत संकल्पित है।


उन्होंने कहा कि जिले के वैसे सभी किसान जो पूर्व से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभुक रहे हैं, वे सभी इस योजना का लाभ लेने की अहर्ता रखते हैं। किसानों को इसके लिए अपना आधार कार्ड, बैंक पासबुक की छाया प्रति, उनके जमीन की रसीद या एल पी सी और एक आवेदन प्रपत्र भरकर अपने पंचायतों में किसान सलाहकार के पास जमा करना होगा। इसके बाद सभी योग्य आवेदन किसान सलाहकार के माध्यम से प्रखंड और फिर प्रखंड से जिला स्तर तक पहुंचाई जाएगी।  उन्होंने कहा कि वैसे तो किसान क्रेडिट कार्ड पर मिलने वाले ऋण पर ब्याज दर सात प्रतिशत है, परंतु समय से अपनी किस्त चुका देने वाले किसानों को इसकी ब्याज दर मात्र चार प्रतिशत चुकानी होगी। उन्होंने इसे जिले के उद्यमी किसानों के लिए इसे एक स्वर्णिम अवसर के रूप में चिन्हित किया।पंचायतों में शिविर लगाकर किसानों को जागरूक करने का भी निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि इस आयोजन के द्वारा जिले के किसानों के हित में चलाई जा रही कई लाभकारी योजनाओं को बल मिलेगा। जिसमें किसान उत्पादन संगठन, कृषक हित समूह, महिला खाद्य सुरक्षा समूह आदि प्रमुख हैं। उन्होंने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री जी के संबोधन से प्रेरणा प्राप्त कर जो भी किसान कृषि क्षेत्र में व्यापक और नवाचार आधारित पहल करना चाहते हैं, उनके सुझाव व प्रस्ताव सदैव आमंत्रित हैं। वे अपने सुझाव व प्रस्ताव जिला कृषि पदाधिकारी, मधुबनी अथवा सीधे मुझे दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि जिले के परिश्रमी एवं उद्यमी किसानों को इन योजनाओं से लाभ उठाना चाहिए। ताकि, कृषि क्षेत्र में विकास के नए अवसर प्राप्त हो सकें। इससे किसानों को आर्थिक रूप से सबल बनाने की सरकार की योजना साकार की जा सकेगी। 

कोई टिप्पणी नहीं: