मधुबनी : फेंका जा रहा कचरा, लोग हो रहे दुर्गंध एवं इंफेक्शन का शिकार - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 11 अप्रैल 2022

मधुबनी : फेंका जा रहा कचरा, लोग हो रहे दुर्गंध एवं इंफेक्शन का शिकार

people-may-infaced-wih-wasage
जयनगर/मधुबनी,  जिले के जयनगर में ओम जय माता दी सेवा समिति के द्वारा शहर के एलमात्र मुक्तिधाम का संचालन कमला नदी के तट पर किया जा रहा है। प्रबंधन तो इसका बेहतर है, पर यहाँ आने वाले लोग इन्फेक्शन का शिकार हो जाते हैं। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं की यहाँ आने पर हर कोई पहले दुर्गंध फिर जहरीली हवा में सांस लेकर इंफेक्शन का शिकार हो जाते हैं। ऐसा इसलिये है कि क्योंकि इसके अगल-बगल में कचरा डंपिंग यार्ड बना दिया गया है। अपशिष्ट कचरा प्रबंधन नही होने के कारण विवशतापूर्ण नगर पंचायत के कर्मी इसी जगह पर कचरा फेंक देते हैं, जिस कारण इस्तिथि बद-से-बदतर हो चुकी है। इस बाबत संस्था के अध्यक्ष अरुण जैन ने बताया कि नगर पंचायत प्रशासन से कई बार इस बाबत गुहार लगाने के बाद भी कोई करवाई न होता देख अंततः जयनगर एसडीओ बेबी कुमारी को लिखित आवेदन देकर नगर पंचायत प्रशासन से वार्ड छह में कमला नदी के किनारे बनाए गए मुक्तिधाम के बगल में फेंके जा रहे कचरे पर अविलंब रोक लगाने की मांग की है। इस बाबत प्रेस प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए अध्यक्ष श्री जैन ने बताया कि दिए गए अपने आवेदन में उन्होंने बताया है कि कमला नदी के पश्चिमी तट पर मुक्तिधाम श्मशान घाट का निर्माण किया गया है, जिसका संचालन ओम जय माता दी सेवा संस्थान द्वारा किया जा रहा है। विगत कई महीनों से नगर पंचायत प्रशासन की ओर से मुक्तिधाम के अगल-बगल गंदगीयुक्त कचरा फेंका जा रहा है, जिस कारण शवयात्रा एवं अंत्योष्टि में शामिल होने वाले लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। दाह संस्कार के वक्त कचरे से आ रहे दुर्गंध के कारण लोगों का बैठना मुश्किल हो रहा है। राहगीरों को भी परेशानी हो रही है। आसपास के लोगों के बीच बीमारी फैलने का भी खतरा बना हुआ है। कई बार नगर पंचायत प्रशासन से इस बाबत अनुरोध किया गया, लेकिन समस्या का समाधान नहीं किया जा सका। वहीं, अब नगर पंचायत तो इस जगह पर कचरा नही फेंक रहा है, पर स्थानीय लोग और कुछ मजूदर वर्ग के लोग कुछ पैसे की लालच में कोई भी कचरा लाकर यहाँ फेंक जाते हैं। ऐसे ही एक व्यक्ति से जब हमारे संवाददाता ने बात किया तो उसने बताया कि हमारे महाजन ने बोला है कि इसी जगह कचरा फेंकने को। बता दें कि स्थानीय नगर पंचायत प्रशासन एवं स्थानीय अनुमंडल प्रशासन को चाहिए कि ऐसे सामाजिक स्थल के आसपास हो रही ऐसी परिस्थिति का सहज तरीके से कचरा प्रबंधन करवा कर यहाँ आने वाले लोगों को इस दुर्गंध और इन्फेक्शन के खतरे को कम कर सके।

कोई टिप्पणी नहीं: