IPL : पंजाब की बड़ी जीत, चेन्नई की हार की हैट्रिक - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 अप्रैल 2022

IPL : पंजाब की बड़ी जीत, चेन्नई की हार की हैट्रिक

punjab-kings-bea-csk
मुंबई, 03 अप्रैल, पंजाब किंग्स ने दमदार प्रदर्शन करते हुए गत चैंपियन चेन्नई सुपरकिंग्स को रविवार को 54 रन से हराकर बड़ी जीत दर्ज की जबकि चेन्नई को लगातार तीसरी हार का सामना करना पड़ा। आईपीएल इतिहास में चेन्नई की इससे ज्यादा खराब शुरुआत पहले कभी नहीं हुई। पंजाब किंग्स ने 20 ओवरों में आठ विकेट पर 180 रन बनाये और चेन्नई को 18 ओवर में 126 रन पर ढेर कर दिया। पंजाब की तीन मैचों में यह दूसरी जीत है। पंजाब की जीत के हीरो रहे लियाम लिविंग्स्टन, जिन्होंने मात्र 32 गेंदों में पांच चौके और पांच छक्के लगाए । लिविंग्स्टन ने गेंदबाजी में भी अपने हाथ दिखाते हुए 25 रन पर दो विकेट झटके। टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पंजाब की टीम शुरुआत में दो विकेट जल्द गंवाने के बाद शिखर धवन 33, लियाम लिविंग्स्टन 60 और जितेश शर्मा 26 की बेहतरीन पारियों से वापसी की और टीम 200 के स्कोर की तरफ बढ़ रही थी लेकिन चेन्नई ने अंतिम पांच ओवरों में मात्र 35 रन दिए और पंजाब को 180 रन पर रोक दिया। लेकिन फिर लक्ष्य का पीछा नहीं कर पाए। धवन ने 24 गेंदों में चार चौके और एक छक्का लगाया जबकि लिविंग्स्टन ने मात्र 32 गेंदों में पांच चौके और पांच छक्के लगाए। जितेश ने 17 गेंदों पर तीन छक्के जड़े। कैगिसो रबादा ने नाबाद 12 और राहुल चाहर ने 12 रन बनाये। चेन्नई की तरफ से क्रिस जॉर्डन और ड्वेन प्रिटोरियस ने दो-दो विकेट लिए। लक्ष्य का पीछा करते हुए चेन्नई की शुरुआत खराब रही। ऋतुराज गायकवाड मात्र एक रन बनाकर दूसरे ओवर की आखिरी गेंद पर कैगिसो रबादा का शिकार बन गए। रोबिन उथप्पा 13 रन बनाकर टीम के 14 के स्कोर पर आउट हुए। मोईन अली खाता खोले बिना वैभव अरोड़ा की गेंद पर बोल्ड हो गए। अम्बाती रायुडू 13 रन बनाकर ओडीन स्मिथ का शिकार बने। इससे पहले कप्तान रवींद्र जडेजा खाता खोले बिना अर्शदीप सिंह की गेंद पर बोल्ड हो गए। चार विकेट पॉवरप्ले में गंवाने के बाद चेन्नई की टीम मुकाबले में नहीं लौट सकी। महेंद्र सिंह धोनी और शिवम दुबे ने छठे विकेट के लिए 62 रन की साझेदारी की लेकिन दुबे के टीम के 98 रन के स्कोर पर आउट होने के बाद चेन्नई का संघर्ष समाप्त हो गया। दुबे ने 30 गेंदों पर 57 रन में छह चौके और तीन छक्के लगाए। ड्वेन ब्रावो को खाता खोलने का मौका नहीं मिला और वह लिविंग्स्टन को रिटर्न कैच दे बैठे। पूर्व कप्तान धोनी 28 गेंदों में 23 रन बनाने के बाद 121 के स्कोर पर विकेटकीपर जितेश शर्मा के हाथों लपके गए। चेन्नई की पारी 18 ओवर में 126 रन पर सिमट गयी । लिविंग्स्टन को प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: