दिलचस्प होगी राजस्थान रॉयलस और गुजरात टाइटन्स के बीच भिड़ंत - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 अप्रैल 2022

दिलचस्प होगी राजस्थान रॉयलस और गुजरात टाइटन्स के बीच भिड़ंत

rajasthan-gujarat-ipl-match
नवी मुंबई, 13 अप्रैल, हार्दिक पंड्या की गुजरात टाइटन्स और संजू सैमसन की अगुआई वाली राजस्थान रॉयल्स के बीच गुरूवार को यहां होने वाला इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मुकाबला दिलचस्प होने की उम्मीद है जिसमें दोनों के पास पैना गेंदबाजी आक्रमण है। राजस्थान रॉयल्स का इस सत्र में गेंदबाजी आक्रमण सर्वश्रेष्ठ में से एक रहा है जिसमें उनके सभी स्पिनरों और तेज गेंदबाजों ने सटीक प्रदर्शन किया है। अनुभवी ट्रेंट बोल्ट का नयी गेंद से दमदार प्रदर्शन जारी है और वह ‘स्लॉग ओवर’ में भी इतने ही प्रभावशाली रहे हैं। लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ पिछले मैच में उनका शुरूआती स्पैल कातिलाना रहा जिसमें उन्होंने पहले ही ओवर में कप्तान लोकेश राहुल और कृष्णप्पा गौतम के विकेट झटक लिये। प्रसिद्ध कृष्णा ने भी झलक दिखायी कि उन्हें भारतीय क्रिकेट की अगली तेज गेंदबाजी सनसनी के रूप में क्यों देखा जा रहा है। बोल्ट के साथ दोनों ने रफ्तार और आक्रामकता के साथ गेंदबाजी की है। वहीं नये खिलाड़ी कुलदीप सेन ने भी साबित किया कि वह भी बड़े खिलाड़ियों के साथ खेलने का माद्दा रखते हैं। अपने पदार्पण मैच में उन्होंने काफी दबाव में गेंदबाजी की और लखनऊ सुपर जायंट्स के खिलाफ अंतिम ओवर में 15 रन का बचाव किया। स्पिन विभाग की जिम्मेदारी सीनियर भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और युजवेंद्र चहल के कंधों पर है। चहल इस समय लीग के इस सत्र में सर्वाधिक विकेट चटकाने वाले गेंदबाज हैं, इस लेग स्पिनर ने 6.50 के इकोनोमी से 11 विकेट चटकाये हैं। अश्विन हालांकि ज्यादा विकेट नहीं झटक सके हैं लेकिन इस ऑफ स्पिनर ने विपक्षी टीम की रन गति पर लगाम लगायी है और उनकी इकोनोमी 6.87 रही है। गुजरात टाइटन्स के कम अनुभव रखने वाले बल्लेबाजों के लिये राजस्थान रॉयल्स की गेंदबाजी से निपटना कड़ी चुनौती होगी।


यह नयी टीम बल्लेबाजी में अपने युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल और पंड्या पर काफी निर्भर रही है। गिल शानदार फार्म में चल रहे हैं लेकिन तेजी से रन जुटाने के लिये मशहूर कप्तान बल्लेबाजी में ज्यादा सतर्क दिख रहे हैं और उनकी कोशिश पारी को गहराई देने की दिख रही है। मैथ्यू वेड रन जुटाने में जूझ रहे हैं जबकि डेविड मिलर का धमाल दिखाना बाकी है जिससे नये खिलाड़ियों अभिनव मनोहर और बी साई सुदर्शन को अधिक जिम्मेदारी से खेलना होगा। हालांकि राहुल तेवतिया ‘फिनिशर’ की अपनी भूमिका का लुत्फ उठाते दिख रहे हैं और इच्छानुसार छक्के जड़ रहे हैं। गुजरात टाइटंस की खुद की गेंदबाजी इकाई काफी मजबूत है। तेज गेंदबाजी विभाग में लॉकी फर्ग्यूसन शामिल हैं जो विश्व क्रिकेट के सबसे तेज गेंदबाजों में शुमार हैं। उनके अलावा भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी और पंड्या सभी विकेट झटकने वाले गेंदबाज हैं जो प्रतिद्वंद्वी टीम को दबाव में रख सकते हैं। राशिद खान उम्मीद के अनुरूप उनके सबसे किफायती गेंदबाज रहे हैं। प्रतिद्वंद्वी बल्लेबाज उनके चार ओवर में कोई बड़ा शॉट लगाने के बजाय इन्हें जल्दी से जल्दी खत्म होने को तरजीह देते हैं। गुजराज टाइंटस के गेंदबाजों में हालांकि सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ मिली हार में पैनेपन की कमी दिखी जो इस सत्र में उनकी पहली हार थी। यह देखना दिलचस्प होगा कि वे राजस्थान रॉयल्स के बल्लेबाजी लाइन-अप के खिलाफ किस तरह एकजुट होते हैं जिसमें विस्फोटक जोस बटलर, ‘बिग हिटर’ शिमरोन हेटमायर और सैमसन के अलावा प्रतिभाशाली देवदत्त पडीक्कल शामिल हैं। दोनों टीमों ने तीन मैच जीते हैं और एक में उन्हें हार मिली है लेकिन राजस्थान रॉयल्स की टीम अपने बेहतर नेट रन रेट की वजह से अंक तालिका में शीर्ष पर बैठी है जबकि गुजरात टाइटंस चौथे स्थान पर है।

कोई टिप्पणी नहीं: