सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 30 अप्रैल - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 30 अप्रैल 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 30 अप्रैल

आज 100 से अधिक फुटबाल खिलाड़ियों को मैडल के साथ किया जाएगा टी-शर्ट आदि का वितरण

  • मुख्य अतिथि के रूप में भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा करेंगे खिलाड़ियों को उत्साहवर्धन
  • आज खेला जाएगा सीनियर और जूनियर फुटबाल टीमों का फाइनल मैच

sehore news
सीहोर। शहर के चर्च मैदान पर खेली जा रही ब्लाक स्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता के पहले चरण का रविवार को शाम साढ़े पांच बजे भव्य रूप से समापन किया जाएगा। इस मौके पर जिला फुटबाल एसोसिएशन के द्वारा लगाए गए पूर्व खेल अधिकारी स्व. आनंद स्वामी की स्मृति प्रशिक्षण शिविर के 30 दिवसीय प्रशिक्षण शिविर के प्रथम सत्र में शामिल होने वाले 100 से अधिक खिलाड़ियों को मुख्य अतिथि के रूप में भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के द्वारा टी-शर्ट, फुटबाल, मेडल और फुटबाल कीट आदि का वितरण किया जाएगा। इस संबंध में जिला फुटबाल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष सुदीप व्यास ने बताया कि शनिवार को ब्लाक स्तरीय फुटबाल प्रतियोगिता का सेमीफाइनल मैच खेला गया। इस मौके पर न्यूक्लियर्स कोटा कोचिंग संस्थान सीहोर के डायरेक्टर ऋषि मीणा, घनश्याम परमार, अर्जुन मेवाडा, एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कमलेश अग्रवाल, मनोज दीक्षित मामा, कोच मनोज कन्नोजिया ने खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। पहला सेमीफाइनल मैच सीहोर वाइस और सीहोर चिल्ड्रिन के मध्य खेला गया। इस एक तरफा मुकाबले में सीहोर वाइस टीम ने सीहोर चिल्ड्रिन टीम को 6-4 से हराया। इस मुकाबले में अंश ने दो, ऋषि, वेदांत, यश और अरीव ने एक-एक गोल किया। वहीं सीहोर चिल्ड्रिन की ओर से सौरभ, आदित्य, अक्षत और नकुल ने एक-एक गोल किया। प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मुकाबले में स्ट्राइकर ने पहले ही हाफ ने अंश ने सीहोर वाइस की ओर से दो गोल कर मुकाबले को एक तरफा कर दिया था। इसके अलावा एक अन्य मुकाबला सीहोर गर्ल्स और सीहोर मिनी के मध्य खेला गया। इस दूसरे सेमीफाइनल में सीहोर गर्ल्स 5-3 से विजयी रही। दूसरे सेमीफाइनल मुकाबले में सीहोर गर्ल्स की ओर से सोनाक्षी, अश्विनी, दिशा, दृष्टि और अशिका ने एक-एक गोल किए थे। वहीं सीहोर मिनी की ओर से चंद्रेश, चित्रांश और ललित ने एक-एक गोल किया। इस मुकाबले में सीहोर गर्ल्स ने सीहोर मिनी को 5-3 से हराया। 


सीहोर जिले में प्रथम दिन 19 में से  13 मंडलो में भारतीय जनता पार्टी के त्रिदेवो का प्रशिक्षण वर्ग संपन्न,प्रशिक्षण प्रभारियों ने दिया प्रशिक्षण,सभी बूथों पर किये जायेंगे 22 करणीय कार्य,वर्ष में होंगे 6 कार्यक्रम


sehore news
सीहोर। मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के निर्देश पर प्रदेश के सभी मंडलों में कुशाभाऊ ठाकरे जन्म शताब्दी वर्ष के अंतर्गत बूथों का जो डिजिटाइजेशन हुआ था उन सभी बूथों पर भारतीय जनता पार्टी द्वारा प्रत्येक बूथ पर एक अध्यक्ष एक महामंत्री एवं बीएलए बनाए गए थे। पार्टी ने इन तीनों को त्रिदेव की संज्ञा दी है। मध्य प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के निर्देश पर आज 30 अप्रेल  को 19 में से 13 बूथों के त्रिदेव का प्रशिक्षण वर्ग मंडलो में सम्पन्न हुए । जिला भाजपा के मीडिया प्रभारी सुशील संचेती सह प्रभारी हृदेश राठौर ने जानकारी देते हुए बताया की जिले के सभी 19 मंडलो में दो दिन आज 30 अप्रैल को एवं 1 मई को प्रशिक्षण वर्ग आयोजित होंगे।  आज 30 मई को    सीहोर जिले के सभी 19 मंडलो में से 13 मंडलो के बूथों के त्रिदेवो का मंडल स्तरीय प्रशिक्षण वर्ग सम्पन्न हुआ। आज जिले से मंडलो में भेजे गये प्रशिक्षण प्रभारी मंडलो में पहुचे एवं वर्ग में पहुचे त्रिदेव एवं बूथ के सोशल मीडिया,बूथ के एप्प प्रभारियों,आईटी प्रमुखों को उन सभी दिशा निर्देशों,22 करणीय कार्यो,वर्ष में बूथों पर होने वाले 6 कार्यक्रमो की जानकारी देकर उन्हें चुनाव को लेकर बूथों पर क्या क्या कार्य करना है ताकि बूथ से विजय मिले, क्योकि बूथ जीता तो चुनाव जीता। भाजपा सीहोर जिले के मीडिया प्रभारी सुशील संचेती सह प्रभारी हृदेश राठौर ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया की जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय द्वारा नियुक्त  मंडलो में होने वाले त्रिदेव प्रशिक्षण के लिये आज भूपेंद्र सिसोदिया आष्टा ग्रामीण, मायाराम गोर श्यामपुर,श्रीमति रीना मिश्रा कोठरी, भूपेंद्र पाटीदार जावर, बाबूलाल पटेल अहमदपुर, लखन यादव इछावर,धर्म सिंह आर्य  बरखेड़ी,कैलाश सुराणा बिलकिसगंज, महेश उपाध्याय शाहगंज, मारुति शिशिर बुधनी, गुरु प्रसाद शर्मा,रवि मालवीय  सलकनपुर,राम गोपाल टेलर चकल्दी  मंडल में पहुच कर त्रिदेवो को प्रशिक्षण दिया। शेष रहे सभी 5 मंडलो में 1 मई को वर्ग सम्पन्न होंगे। सभी मंडलो के अध्यक्षो ने वर्ग में पहुचे सभी अतिथियों का स्वागत किया। सम्पन्न हुए वर्ग में आज विदिशा सांसद रमाकांत भार्गव, जिला अध्यक्ष रवि मालवीय,विधायक रघुनाथसिंह मालवीय,करणसिंह वर्मा,सुदेश राय,रवि नागले,कल्याणसिंह ठाकुर,नूतन राठौर,जितेंद्र गौड सहित अन्य वरिष्ठ जन भी शामिल हुए


वरिष्ठ समाजसेवी विष्णु प्रजापति बने हिंदू उत्सव समिति के महासचिव


sehore news

सीहोर। हिंदू उत्सव समिति के अध्यक्ष आशीष गुप्ता ने समिति के संरक्षक हरीश चंद्र अग्रवाल, किशोर कौशल, प्रेम पहलवान, सतीश राठौर, शंकर प्रजापति, सुभाष शर्मा, नंदकिशोर राठौर, गोविंद  कार, कमलेश कटारे, डॉ कैलाश अग्रवाल, राजेंद्र वर्मा, राहुल यादव, ललित जैन, सुनील दुबे, पप्पू धारी, गब्बर पहलवान की सहमति से युवा समाजसेवी विष्णु प्रजापति को हिंदू उत्सव समिति का महासचिव मनोनीत किया गया है। श्री प्रजापति की इस नियुक्ति पर इष्ट मित्रों व शुभचिंतकों ने बधाई देते हुए वरिष्ठ जनों के प्रति आभार व्यक्त किया है बधाई देने वालों में सुदीप व्यास, नरेंद्र राजपूत, बृजेश पाराशर, कमलेश अग्रवाल, पंकज शर्मा, राजेंद्र नगर सहित अनेक लोग शामिल है। 



एक दिवसीय कार्यशाला में बताऐं बीमारियों के लक्षण, कारण और निवारण, हमारी आंखें कुदरत का उपहार-डॉ. जितेन्द्र मंधानी गोविन्द नेत्रालय


sehore news
सीहोर। आंखें मनुष्य के लिए ईश्वर का वरदान हैं। एक ऐसा उपहार जिसके बिना जीवन में सिर्फ अंधेरा ही शेष रह जाता है। इसके बावजूद लोग आखों की देखभाल में लापरवाही करते हैं। हमारे खानपान और जीवन शैली ने भी आंखों को प्रभावित किया है। आंखों की तमाम बीमारियां इसी कारण पैदा होती हैं। उक्त विचार शहर के सत्ससांई विश्वविद्यालय में शनिवार को गोविन्द नेत्रालय एवं ज्योति सोशल कल्चरल वेल फेयर सोसाइटी के तत्वाधान में आयोजित एक दिवसीय कार्यशाला के दौरान नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. जितेन्द्र मंधानी ने कहा। उन्होंने कहा कि आंखें कुदरत का तोहफा है, ईश्वर का अनमोल उपहार है मानव के लिए। लेकिन इंसान इनकी केयर किसी उपहार की तरह नहीं करता। आजकल लोगों की जीवन शैली इस कदर भागमभाग की हो गयी है कि न तो खानपान का उचित ध्यान रख पा रहा है और न ही स्वास्थ्य का। आंखों की बहुत सी बीमारियां उम्र के साथ बढ़ती हैं तो कुछ अन्य बीमारियों के साइड इफेक्ट के रूप में जन्म लेती हैं। फिर पर्यावरण प्रदूषण का स्तर दिन प्रति दिन बढ़ता जा रहा है, इससे भी आंखों पर असर पड़ता है। वर्तमान में सबसे अधिक दिक्कत मोतियाबिंद की आती है, इसके लक्षण पर प्रकाश डालते हुए उन्होंने बताया कि बिना दर्द के नजर का धुंधलाना, चमक या प्रकाश के प्रति अतिसंवेदनशीलता, चश्में के नंबरों का लगातार बदलना आदि, कई लोगों की सोच होती है कि मोतियाबिंद जब पके तभी इसका इलाज करना चाहिए, यह विचार कुछ गलत है, समय रहते इसका इलाज करना चाहिए।


आंखों में होनी वाली दिक्कत को डिजिटल आई सिंड्रोम कहा जाता

उन्होंने कहा कि स्कूल, कालेज और कोचिंग संस्थान बंद होने से बच्चे घर पर रहे। उनका ज्यादा समय कंप्यूटर या मोबाइल स्क्रीन के सामने गुजरा। इस वजह से दो तरह की दिक्कत हुईं। पहली तो यह कि मोबाइल स्क्रीन से निकलने वाली अल्ट्रा वायलेट किरणों के चलते आंसू सूखने से आंखों में दर्द, चुभन और जलन की समस्या शुरू हो गई है। दूसरा यह कि आंखों में तनाव (स्ट्रेस) बढ़ने से मांसपेशियां कमजोर हुईं। इस वजह से भेंगापन की दिक्कत बढ़ी है। कोरोना काल के पहले के मुकाबले करीब छह गुना मरीज बढ़े हैं। स्क्रीन की वजह से आंखों में होनी वाली दिक्कत को डिजिटल आई सिंड्रोम कहा जाता है। कार्यशाला का शुभारंभ सत्ससांई विश्वविद्यालय के सभाकक्ष में कुलपति डॉ. मुकेश तिवारी, परीक्षा कंट्रोलर डॉ. संजय राठौर, डॉ. उमेश पांडे, गोविन्द नेत्रालय एवं ज्योति सोशल कल्चरल वेल फेयर सोसाइटी की ओर से डॉ. जितेन्द्र मंधानी, इंनफर्टिलिटी विशेषज्ञ डॉ. अमरजीत मंधानी, विश्वविद्यालय की ओर से डॉ. सुसन थोमस, डॉ. नीरज तिवारी, संकल्प वृद्धाश्रम के राकेश शर्मा, मनोज दीक्षित मामा आदि ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कर किया। इस मौके पर कार्यशाला में प्रोजेक्टर की मदद से गोविन्द नेत्रालय एवं ज्योति सोशल कल्चरल वेल फेयर सोसाइटी के नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. मंधानी ने एक दिवसीय कार्यशाला में नेत्र से संबंधित बीमारियों के लक्षण, कारण और निवारण बताए। कार्यशाला के अंत में आभार व्यक्त डा. संतोष जगवानी ने व्यक्त किया। इस मौके पर विश्वविद्यालय के स्टाफ और विद्यार्थियों के अनुरोध पर आगामी दिनों में नेत्र शिविर लगाने की घोषणा की गई। 


आत्मरक्षा प्रहार योगासनों के साथ आर्य वीर दल कर रहा है बच्चों के चरित्र का निर्माण

  • प्राणायाम सूर्य नमस्कार भूमि नमस्कार कमांडो ट्रेनिंग सैनिक शिक्षा कराटे, गिन्नोरी आश्रम गल्लामंड़ी में जारी है सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर

sehore news
सीहोर। बच्चों को शत्रुओं से बचने और आत्मरक्षा के लिए प्रहार करने का हुनर सिखाया जा रहा है।  देश और धर्महित में उत्कृष्ठ शिक्षकों के द्वारा बच्चों का चरित्र निर्माण किया जा रहा है। आर्य वीरों को आसन प्राणायाम सूर्य नमस्कार भूमि नमस्कार कमांडो ट्रेनिंग सैनिक शिक्षा कराटे सूक्ष्म व्यायाम लाठी  प्रहार संध्या हवन यज्ञ सनातन वैदिक धर्म की शिक्षा दी जा रही है। आर्य वीर दल द्वारा सात दिवसीय जिला स्तरीय प्रशिक्षण शिविर गिन्नोरी आश्रम गल्लामंड़ी में लगाया गया है शिविर में 80 से अधिक विद्यार्थियों के द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त किया जा रहा है। शनिवार को शिविर के प्रथम सत्र का उद्घाटन वैदिक ध्वजा फहरा कर आचार्य विजय राठौर, सपना मालवीय, चुन्नी लाल परमार, जितेंद्र चौरसिया के द्वारा किया गया। पतंजलि हरिद्वार से अतिथि के रूप में सम्मिलित हुई आर्यवीरांगना परिधि आर्या,संतोष सिंह जिला संचालक संदीप आर्य, प्रचार मंत्री नरेश आर्य, वरिष्ठ सदस्य सूर्यकांत आर्य, प्रचार मंत्री श्यामबाबू आर्य, श्याम सिलीदिया के द्वारा विभिन्न विषयों को लेकर विद्यार्थियों को उदबोधन दिया गया।वक्ताओं ने कहा की आर्य समाज के कार्य को प्रगतिशील बनाने के लिए उत्साही आर्यवीर कार्यकर्ताओं का निर्माण किया जाना अतिआवश्यक है। आर्य वीरों को तैयार कर समाज एवं राष्ट्र के लिए समर्पित किया जाता है। शिविर अध्यक्ष आचार्य विजय राठौर ने बताया की बुधवार शिविर का शुभारंभ किया गया है रविवार को प्रशिक्षण का समापन किया जाएगा। आर्यवीर दल के सात दिवसीय प्रशिक्षण शिविर में मंत्री अरुण राठौर,मंत्री बृजेश झालावा,जितेंद्र राठौर महेंद्र राठौर,रामनारायण आर्य,संरक्षक विजय कुलश्रेष्ठ, बहादुर सिंह मालवीय, वीरभान सिंह,शैलेंद्र चंदेल, जितेंद्र सोनी, विजेंद्र मेवाड़ा, राजेंद्र सेन,मुकेश गौर,हेमंत कुशवाहा, पवन मेवाड़ा, हेमंत राठोर, रामेश्वर पाटीदार,अंकित राठौर, चंद्रशेखर शाक्य, अमित राठौर, संजय परमार, नीरज राठौर, पंकज राठौर, अशोक राठौर,संजय धीमान आदि शिक्षकों वरिष्ठ नागरिकों को पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं के द्वारा महत्वपूर्ण सहयोग किया जा रहा है। 


जिले की लाड़ली लक्ष्मी अब  बाघा बॉर्डर का भ्रमण करेंगी


sehore news
प्रदेश सरकार की लाड़ली लक्ष्मी योजना का व्यापक प्रभाव बालिकाओ के जीवन पर पड़ रहा है। माता-पिता के प्रोत्साहन एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के दुलार से अब बालिकाएं भी किसी से पीछे नहीं है। शासकीय योजनाओं से लाभ उठाकर जहां अब वह पूरे आत्मविश्वास से अपनी शिक्षा प्राप्त कर रही हैं, वहीं शिक्षित होकर आत्मनिर्भर भारत बनाने  मे भी अपना योगदान दे रही है। जिले की ऐसी ही होनहार बालिकाओं मे सृष्टि सिंह, आशा चावरिया एवं कंचन राठौर का चयन मां तुझे प्रणाम योजना के तहत बाघा बार्डर भ्रमण के लिए हुआ है। तीनों बालिकाएं बाघा बार्डर भ्रमण के लिए उत्साहित है। सृष्टि ने बताया कि अभी तक मैंने सिर्फ बाघा बॉर्डर को फिल्मो तथा अन्य प्रसारण के माध्यम से ही देखा था, लेकिन अब मुझे प्रत्यक्ष रूप से बाघा बॉर्डर देखने का अवसर मिला है। सृष्टि बताती है कि मैं काफी खुश हूं कि प्रदेश सरकार द्वारा लाड़ली लक्ष्मी योजना चलाकर बेटियों को आगे बढ़ने के लिए अनेक अवसर प्रदान  किए जा रहे है। सृष्टि ने बालिकाओं को बॉर्डर भ्रमण का अवसर देने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद दिया।


खाद्य तेल एवं तिलहन व्यापारियो को निर्धारित मात्रा में स्टॉक करने के आदेश


खाद्य तेल एवं तिलहन की उचित मूल्य पर उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग द्वारा मध्यप्रदेश खाद्य तेल एवं तिलहन व्यापारी (नियंत्रण) आदेश जारी किया गया है। जारी आदेशानुसार कोई भी व्यापारी या उसका अभिकर्ता, सेवक तथा उसकी ओर से कार्य करने वाला कोई अन्य व्यक्ति खाद्य तेल, तिलहन के संबंध में निर्धारित की गई अधिकतम स्टॉक सीमा से अधिक स्टॉक का संग्रहण नहीं करेगा। व्यापारी के लिए एक साथ सभी खाद्य तेल की स्टॉक सीमा में खाद्य तेल फुटकर व्यापारी के लिए 30 क्विंटल, थोक व्यापारी के लिए 500 क्विंटल एवं बड़े पैमाने पर उपभोक्ता (फुटकर व्यापारियों की दुकानों की बड़ी चैन) के लिए फुटकर दुकाने 30 क्विंटल एवं डिपो 1000 क्विंटल की मात्रा निर्धारित की गई है। इसी प्रकार खाद्य तिलहन की स्टॉक सीमा में फुटकर व्यापारी के लिए 100 क्विंटल एवं थोक व्यापारी के लिए 2000 क्विंटल निर्धारित की गई है। लेकिन भारत सरकार द्वारा नियत समयावधि तथा अधिकतम स्टॉक सीमा में संशोधन किए जाने पर अधिसूचित किए जाने के दिनांक से तदानुसार समयावधि एवं स्टॉक सीमा राज्य में प्रभावशील होगी। किसी भी व्यापारी या उसके अभिकर्ता, सेवक या उसकी ओर से कार्य करने वाला कोई अन्य व्यक्तियों को आदेश का उल्लंघन नहीं करने के आदेश दिए गए है।


संनिर्माण कर्मकार कल्याण के हितग्राहियों को कन्या विवाह योजना में हितलाभ दिया जाएगा


श्रम पदाधिकारी द्वारा बताया गया है कि मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल की विवाह सहायता योजना में हितग्राहियों की सामाजिक न्यायालय विभाग की मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत आयोजित होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रमों में सम्मिलित होकर विवाह करने पर ही हितलाभ प्राप्त होगा। योजना अंतर्गत हितग्राहियों को हितलाभ मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के प्रावधान अनुसार प्रदाय किया जाएगा। मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के अंतर्गत आयोजित होने वाले सामूहिक विवाह कार्यक्रमों के अतिरिक्त अन्य किसी भी प्रकार से विवाह करने पर मण्डल की विवाह सहायता योजना अंतर्गत हितलाभ की पात्रता नहीं होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: