बेतिया : जिलास्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक सम्पन्न - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 15 मई 2022

बेतिया : जिलास्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक सम्पन्न

disha-meeing-beiya
बेतिया। जिला स्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की महत्वपूर्ण बैठक आज समाहरणालय सभाकक्ष में डॉ0 संजय जायसवाल, माननीय सांसद-सह-अध्यक्ष की अध्यक्षता में सम्पन्न हुयी। दिशा की बैठक में गत बैठक की कार्यवाही एवं अनुपालन प्रतिवेदन से उपस्थित सभी माननीय जनप्रतिनिधिगणों को अवगत कराया गया। माननीय जनप्रतिनिधिगण द्वारा गत बैठक की कार्यवाही एवं अनुपालन प्रतिवेदन पर संतोष प्रकट किया गया। माननीय अध्यक्ष महोदय द्वारा निर्देश दिया गया कि 13 जून तक कुछेक लंबित अनुपालन प्रतिवेदन कार्य पूर्ण कराते हुए सभी माननीय जनप्रतिनिगिण को उपलब्ध करायी जाय। माननीय सांसद-सह-अध्यक्ष, डॉ0 संजय जायसवाल ने कहा कि मनरेगा अंतर्गत अमृत सरोवर योजना का क्रियान्वयन जिले में किया जाना है। अमृत सरोवर योजना के तहत प्रथम चरण में जिले के 75 सरकारी सरोवरों को अतिक्रमण मुक्त कराते हुए जीर्णोद्धार कार्य कराया जाना है। सरोवरों के जीर्णोद्धार कार्य हेतु अविलंब कार्य योजना तैयार की जाय। उन्होने कहा कि मनरेगा के तहत विद्यालयों की चारदीवारी, मैदान की मिट्टी भराई सहित आवश्यकतानुसार बांधों की मरम्मति करायी जाय। मनरेगा के तहत किये जा रहे कार्यों में पारदर्शिता बरती जाय। उन्होंने कहा कि दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना का क्रियान्वयन अच्छे तरीके से कराया जाय। विद्युत कनेक्शन के लिए आवेदन समर्पित करने वाले लाभुकों को तुरंत कनेक्शन मुहैया करायी जाय। विद्युत विपत्र में त्रुटि नहीं हो इसे हर हाल में सुनिश्चित किया जाय।


राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना की समीक्षा के दौरान माननीय अध्यक्ष महोदय ने कहा कि जल्द से जल्द लाभुकों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करायी जाय। लंबित योजनाओं को मिशन मोड में क्रियान्वित करते हुए कार्य को पूर्ण किया जाय। उन्होंने कहा कि आवास योजना में किसी भी स्तर पर अनियमितता नहीं बरती जाय। योग्य व्यक्तियों को हर हाल में आवास योजना से लाभान्वित किया जाय। पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया गया कि बिहार सरकार द्वारा नल-जल से संबंधित समस्याओं का निराकरण हेतु जारी नंबर पर कितने लोगों द्वारा शिकायत की गयी है और कितने शिकायतों समस्याओं का समाधान करा दिया गया है, से संबंधित अद्यतन प्रतिवेदन उपलब्ध कराया जाय। दिशा की बैठक में जन-जन का स्वास्थ्य मिशन, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, दीन दयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना, सर्व शिक्षा अभियान, मिड डे मील योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, जिला औद्योगिक नवप्रर्वतन योजना, दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना, जीविका, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल कार्यक्रम, स्वच्छ भारत मिशन शहरी एवं ग्रामीण, कायाकल्प और शहरी परिवर्तन के लिए अटल मिशन (अमृत), प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी), एकीकृत बाल विकास परियोजना, डिजिटल इंडिया भू-अभिलेख आधुनिकीकरण कार्यक्रम, राष्ट्रीय सामाजिक सहायता कार्यक्रम, डिजिटल इंडिया प्रोग्राम, आधारभूत संरचना संबंधित कार्यक्रम (दूरभाष, खनन आदि), महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन सहित अन्य योजनाओंध्कार्यक्रमों के कार्य प्रगति की समीक्षा की गयी। दिशा की बैठक में माननीय राज्यसभा सांसद, श्री सतीश चन्द्र दूबे ने कहा कि अस्पतालों में स्वास्थ्य सुविधा की समुचित व्यवस्था अत्यंत ही जरूरी है। आधुनिक जांच उपकरणों के संचालन हेतु तकनीशियनों की व्यवस्था अविलंब करायी जाय। माननीय सांसद, श्री सुनील कुमार ने कहा कि नल-जल योजना के तहत कराये जा रहे कार्यों में गुणवत्ता का पूरा पालन किया जाय। साथ ही नल-जल योजना का क्रियान्वयन सही तरीके से कराया जाय। माननीया उपमुख्यमंत्री, बिहार, श्रीमती रेणु देवी ने कहा कि संत जेवियर्स स्कूल के पास कराये जा रहे सड़क निर्माण कार्य का संबंधित कार्यपालक अभियंता स्वयं लगातार निरीक्षण करें तथा सड़क निर्माण कार्य को गुणवतापूर्ण कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में खराब ट्रांसफॉर्मर को तुरंत बदला जाय। विद्युत कनेक्शन हेतु आवेदन पर तुरंत कार्रवाई करते हुए लाभुकों को विद्युत कनेक्शन दिया जाय। वेरिफाई आदि कार्य में अनावश्यक विलंब नहीं किया जाय। साथ ही लाभुकों को मीटर रिडिंग के अनुरूप ही विद्युत विपत्र उपलब्ध करायी जाय। उन्होंने कहा कि सड़कों की साफ-सफाई विशेषकर सार्वजनिक स्थलों पर अच्छे तरीके से निरंतर करायी जाय। साथ ही समुचित नाली आदि की भी व्यवस्था की जाय।


माननीय विधायक, श्री राम सिंह ने कहा कि अनुमंडलीय अस्पताल में डॉक्टरों, नसों एवं अन्य कर्मियों की शत-प्रतिशत उपस्थित सुनिश्चित की जाय। साथ ही लंबे समय से एक ही स्थल पर कार्य कर रहे डॉक्टरों एवं कर्मियों को स्थानांतरित किया जाय। माननीय विधायक, चनपटिया, श्री उमाकांत सिंह ने कहा कि चनपटिया प्रखंड अंतर्गत कई विद्यालय भवनहीन है जिससे बच्चों को पठन-पाठन में असुविधा होती है। भवनहीन विद्यालयों को अविलंब भवन उपलब्ध करायी जाय। उन्होंने कहा कि चनपटिया नगर में पानी की सप्लाई अब तक नहीं हो पाई है, गर्मी में नगर वासियों को परेशानी हो रही है। नगर क्षेत्र में शीघ्र ही जलापूर्ति की व्यवस्था की जाय। माननीय विधायक, सिकटा, श्री विरेन्द्र प्रसाद गुप्ता ने कहा कि नल-जल का क्रियान्वयन में गुणवता का पूरा पालन होना चाहिए। इसकी समुचित मॉनिटरिंग करायी जाय। साथ ही वैशखवा-सिकटा सड़क निर्माण कार्य को अविलंब पूरा किया जाय। माननीया विधायक, श्रीमती रश्मि वर्मा ने कहा कि प्रत्येक गांव में कम से कम 25 चापाकलों की व्यवस्था की जाय। इससे जहां एक ओर पेयजल सहित अन्य कार्य हो सकेगा वहीं अगलगी की घटनाओं के मद्देनजर लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि कुंडिलपुर गांव के समीप नदी नदी से कटाव हो रहा है, वहां मनरेगा के तहत सुरक्षात्मक कार्य कराया जाना आवश्यक है। इसके साथ ही माननीय विधायक, श्री रिंकू सिंह के प्रतिनिधि सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों की समस्याओं से अवगत कराया गया तथा सुझाव दिये गये।समीक्षा के क्रम में बताया गया कि जन-जन का स्वास्थ्य मिशन के तहत 917169 आउटडोर मरीज, 34214 इनडोर मरीज का इलाज किया गया है। परिवार कल्याण के तहत 9084 महिलाओं का ऑपरेशन, 127 पुरूषों की नसबंदी, 63303 संस्थागत प्रसव, 50226 माताओं का टीकाकरण, 71638 बच्चों का ओपीभी टीकाकरण, 94503 बच्चों का बीसीजी टीकाकरण, 96721 बच्चों का डीटीपीध्पेन्टावैलेंट-1 टीकाकरण 96354 बच्चों का मिजल्स एवं रूबेला टीकाकरण, 94810 बच्चों का पूर्ण टीकाकरण कराया गया है। दीनदयाल उपाध्याय ग्राम ज्योति योजना अंतर्गत विद्युत कृत ग्रामों की संख्या 1326 है जो शत-प्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति है। इसके साथ ही 167781 बीपीएल परिवारों को विद्युत संबंध उपलब्ध करा दिया गया है। वितीय वर्ष 2021-22 में कक्षा 1 से 8 तक अध्ययनरत 535771 छात्र-छात्राओं को पाठ्य पुस्तक उपलब्ध करा दिया गया है।


प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत बीपीएल परिवारों को कुल-472115 एलपीजी कनेक्शन दे दिया गया है। जीविका के तहत वर्ष 2020-21 में 4127 परिवारों का उन्मुखीकरण स्वयं सहायता समूहों में किया गया है। 373 स्वयं सहायता समूहों का गठन किया जा चुका है।  106 ग्राम संगठनों का गठन हो चुका है। 2328 स्वयं सहायता समूहों को बैंकों द्वारा वित्त पोषित किया जा चुका है। स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) अंतर्गत बेतिया नगर निकाय क्षेत्र में 3548 शौचालयों को पूर्ण करा लिया गया है। इसी तरह नरकटियागंज में 794, बगहा में 6067, चनपटिया में 1740 एवं रामनगर में 4025 शौचालयों का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। कायाकल्प और शहरी परिवर्तन के लिए अटल मिशन अंतर्गत नगर निगम, बेतिया में 01 पार्क एवं 01 जलापूर्ति योजना स्वीकृत है। पार्क का निर्माण कार्य हो चुका है। जलापूर्ति की योजना बुडकों द्वारा किया जा रहा है। 39 वार्डों में से 37 वार्डों में कार्य पूर्ण हो चुका है तथा 37 वार्डों के अंतर्गत 19464 हाउस कनेक्शन के विरूद्ध 18318 कनेक्शन पूर्ण हो चुका है। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2022-23 में अबतक 349209 मानव दिवस का सृजन किया गया है। 49990 परिवारों को रोजगार उपलब्ध कराया गया है। मनरेगा के अभिसरण से आवास योजना के लाभुकों के द्वारा सृजित किये गये मानव दिवस की कुल संख्या-296887 है। मनरेगा के तहत 1224 योजना पूर्ण हो चुके हैं। वर्ष 2021-22 में 43627 प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण पूर्ण हो चुका है। इसी तरह 760 पईन, 205 सार्वजनिक जल संचयन, 81 निजी पोखर, 2283 गोट कैटल शेड का कार्य पूर्ण करा लिया गया है। जिलाधिकारी, पश्चिम चम्पारण, बेतिया, श्री कुंदन कुमार द्वारा माननीय अध्यक्ष, दिशा को आश्वस्त किया गया कि जिला स्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक में उठाए गए विभिन्न मामलों का ससमय निष्पादन करा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि जिले में क्रियान्वित विभिन्न विकासात्मक एवं कल्याणकारी योजनाओं के क्रियान्वयन में विभागीय दिशा-निर्देशों का शत-प्रतिशत अनुपालन कराने हेतु संबंधित अधिकारियों को बारंबार निर्देशित किया जाता है तथा इसकी सतत निगरानी भी की जाती है। जिला स्तरीय समन्वय एवं अनुश्रवण समिति (दिशा) की बैठक की कार्यवाही माननीय राज्यसभा सांसद, श्री सतीश चन्द्र दूबे के धन्यवाद ज्ञापन के साथ समाप्त की गयी। इस अवसर पर माननीय सांसद, श्री सतीश चन्द्र दूबे, श्री सुनील कुमार, माननीया उपमुख्यंत्री, श्रीमती रेणु देवी, माननीय मंत्री, पर्यटन विभाग, श्री नारायण प्रसाद, माननीय विधायक, श्री राम सिंह, श्री उमाकांत सिंह, श्री विरेन्द्र प्रसाद गुप्ता, श्रीमती रश्मि वर्मा, माननीय अध्यक्ष, जिला परिषद, श्री निर्भय कुमार महतो सहित नगर निकायों के माननीय सभापति गण, पंचायत समिति के माननीय प्रखंड प्रमुख, ग्राम पंचायतों के माननीय मुखिया गण सहित अन्य माननीय सदस्य, उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, श्री नंदकिशोर साह सहित संबंधित अधिकारीगण उपस्थित रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: