मधुबनी : जिले में 1 जून से 7 जून 2022 तक मनाया जाएगा बाढ़ सुरक्षा सप्ताह - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 31 मई 2022

मधुबनी : जिले में 1 जून से 7 जून 2022 तक मनाया जाएगा बाढ़ सुरक्षा सप्ताह

  • बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाए जाने को लेकर सभी तैयारियां पूर्ण।

flood-relief-week-madhubani
मधुबनी, जिले में 1 जून से 7 जून तक बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाया जाएगा । बाढ़ सुरक्षा सप्ताह मनाया जाने को लेकर जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा ने सूचना एवं जनसंपर्क विभाग शिक्षा विभाग सहित सभी संबंधित विभागों के अधिकारियों को पत्र लिखकर विभिन्न जागरूकता कार्यक्रमों को व्यापक रूप से चलाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि जानकारी ही बचाव है। आपदा पूर्व की गई तैयारी एवम आपदा से बचाव की जानकारी से हम आपदा के प्रभाव को कम से कम कर सकते है। उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया है कि विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के विद्यार्थियों के बीच बाढ़ के दौरान अपनायी जानेवाली सावधानियाँ एवं जानमाल के नुकसान को कम करने के विषय पर निबंध, वाद-विवाद(Debate) एवं पोस्टर/पेंटिंग प्रतियोगिता का आयोजन करवाना सुनिश्चित करे। इसमें वर्ग 1 से 6 के छात्र के बीच पोस्टर प्रतियोगिता/पेंटिंग, 7 से 10 के छात्र के बीच निबंध प्रतियोगिता एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। सभी महाविद्यालय स्तर पर विद्यार्थियों के बीच Quiz के साथ साथ बाढ़ के पूर्व, बाढ़ के दौरान एवं बाढ़ के बाद क्या करें क्या न करें के संबंध में Mock Drills का आयोजन भी किया जाएगा। बच्चों को ज्यादा से ज्यादा जागरूक बनाने एवं उनके अन्दर क्षमता विकास हेतु विद्यालयो में बाढ़ सुरक्षा योजना की तैयारी भी करानी है। विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर किये जाने वाले कार्यक्रमों के प्रतिभागियों को जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के द्वारा पारितोषिक/सर्टिफिकेट भी प्रदान किया जाएगा। सभी कार्यालय स्तर पर दौड़, (Run for DRR) सिनेमा हॉल में स्लाईड के माध्यम से बाढ़ से सुरक्षा के उपायों का प्रचार, सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के सहयोग से सार्वजनिक  स्थानों पर बाढ़ से सुरक्षा के उपायों का प्रचार, सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालयों में बाढ़  सुरक्षा सप्ताह से संबंधित गोष्ठियॉ, रेलवे स्टेशन, पंचायत भवन, लाईब्रेरी अस्पताल, बैंक, पोस्ट ऑफिस, व्यवहार न्यायालय, बस स्टैण्ड, हाट बाजार, नगर निगम एवं नगर पंचायत, रिक्सा एवं बस इत्यादि में व्यापक प्रचार सुनिश्चित किया जायेगा। होर्डिंग/फ्लैक्स एवम नुक्कड़ नाटक के माध्यम से भी व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा। वज्रपात से बचने एवम बाढ़ के दौरान क्या करे एवम क्या नही करे संबधित बातों का सोशल मीडिया के माध्यम से प्रचार प्रसार किया जाएगा। जिलाधिकारी ने बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के दौरान तटबंधों की मरम्मती, शरण स्थलों  की जाँच, नावों का निबंधन,आदि कार्यो को भी अभियान मोड में करने का निर्देश दिया है। जिले के प्रत्येक थाना स्तर पर नागरिक परिषद के सहयोग से बाढ़ सुरक्षा के विषय पर गोष्ठी ओके आयोजन का भी निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिया गया है।

कोई टिप्पणी नहीं: