IPL : सम्मान के लिये खेलेगी मुंबई , चेन्नई अस्तित्व बचाने के लिये - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 11 मई 2022

IPL : सम्मान के लिये खेलेगी मुंबई , चेन्नई अस्तित्व बचाने के लिये

mumbai-csk-will-fight
मुंबई, 11 मई, खराब दौर से जूझ रही चेन्नई सुपर किंग्स बृहस्पतिवार को इंडियन प्रीमियर लीग के मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ उतरेगी तो उसका लक्ष्य टूर्नामेंट में अस्तित्व बचाये रखने का होगा जबकि प्लेआफ की दौड़ से बाहर हो चुकी मुंबई के पास खोने के लिये कुछ नहीं है । यह सत्र चेन्नई और मुंबई जैसी आईपीएल की दो सबसे कामयाब टीमों के लिये निराशाजनक रहा । मुंबई अब प्रतिष्ठा के लिये खेलेगी जबकि चेन्नई तकनीकी रूप से अभी भी दौड़ में है बशर्ते बाकी मैचों के नतीजे उसके अनुकूल रहें । चेन्नई अगर मुंबई से हार जाती है तो टूर्नामेंट से बाहर हो जायेगी । चेन्नई ने पिछले मैच में दिल्ली कैपिटल्स को 91 रन से हराया था और उसे इस लय को कायम रखने की उम्मीद है । सलामी बल्लेबाज डेवोन कॉनवे शानदार फॉर्म में है और लगातार तीन अर्धशतक जमा चुके हैं । उन्होंने दिल्ली के खिलाफ 87 रन बनाये हालांकि सलामी जोड़ीदार रूतुराज गायकवाड़ से उन्हें सहयोग की उम्मीद होगी । रविंद्र जडेजा के लिये भी यह सत्र बुरे सपने जैसा रहा और उन्होंने कप्तानी भी बीच में छोड़ दी थी । दिल्ली के खिलाफ पिछले मैच में वह चोट के कारण बाहर थे । अब देखना यह है कि क्या वह मुंबई के खिलाफ खेल सकते हैं । चेन्नई को बड़ा स्कोर बनाना होगा जिसके लिये सभी बल्लेबाजों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा । पिछली बार दोनों टीमों के मुकाबले में धोनी ने अपना ‘फिनिशिंग अंदाज’ दिखाकर जीत दिलाई थी । सीएसके ने दिल्ली को 117 रन पर समेट दिया । मोईन अली ने तीन विकेट लिये जबकि युवा तेज गेंदबाज मुकेश चौधरी और सिमरनजीत सिंह ने भी अच्छा प्रदर्शन किया । तीनों को एक साथ अच्छा प्रदर्शन करना होगा जबकि स्पिनर महीष तीक्षणा के चार ओवर भी मैच का नक्शा बदल सकते हैं । ड्वेन ब्रावो के प्रदर्शन भी बहुत कुछ निर्भर करेगा । मुंबई के लिये बाकी सारे मैच औपचारिकता के हैं और उन्हें मुकम्मिल प्रदर्शन करना होगा । कप्तान रोहित शर्मा (200 रन), ईशान किशन (321 रन) पर बल्लेबाजी का दारोमदार होगा । केकेआर के खिलाफ लड़खड़ा गए मुंबई के मध्यक्रम को भी अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा । सूर्यकुमार यादव चोट के कारण बाहर हैं । ऐसे में तिलक वर्मा, टिम डेविड , रमनदीप सिंह और कीरोन पोलार्ड पर जिम्मेदारी अधिक होगी । गेंदबाजी में बुमराह ने अपनी लय हासिल कर ली है और उन्हें दूसरे गेंदबाजों से सहयोग की उम्मीद होगी । डेनियल सैम्स , रिले मेरेडिथ और कुमार कार्तिकेय सिंह को चेन्नई के बल्लेबाजों पर अंकुश लगाना होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: