राज ठाकरे ने बाल ठाकरे का पुराना वीडियो साझा किया - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मई 2022

राज ठाकरे ने बाल ठाकरे का पुराना वीडियो साझा किया

raj-thackeray-share-balasaheb-thakre-video
मुंबई, चार मई, महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे ने महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ शिवसेना पर हमला तेज करते हुए दिवंगत बाल ठाकरे का एक पुराना वीडियो बुधवार को ट्विटर पर साझा किया, जिसमें शिवसेना संस्थापक यह कहते नजर आ रहे हैं कि जिस दिन उनकी पार्टी सत्ता में आएगी, सड़कों पर नमाज अदा करना बंद कर दिया जाएगा और मस्जिद से लाउडस्पीकर हटा दिए जाएंगे। मनसे के प्रमुख राज ठाकरे ने मंगलवार को ‘अजान’ के लिए लाउडस्पीकर का उपयोग किए जाने के विरोध में लोगों से हुनमान चालीसा का पाठ करने का आह्वान किया था। राज ठाकरे ने एक खुले पत्र में लोगों से ‘अजान’ की आवाज सुन कर परेशानी होने पर 100 नंबर डायल कर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने को भी कहा था। मनसे के प्रमुख द्वारा बुधवार को ट्विटर पर साझा किए गए 36 सेकंड के एक वीडियो में शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे भगवा रंग की शॉल ओढ़े नजर आ रहे हैं और उनके पीछे पार्टी का चुनाव चिन्ह दिखाई दे रहा है। वीडियो में बाल ठाकरे यह कहते नजर आ रहे हैं कि ‘‘ जिस दिन मेरी सरकार बनेगी, रास्ते में नमाज पढ़ना बंद कर दिया जाएगा, क्योंकि धर्म ऐसा होना चाहिए जो राष्ट्रीय विकास में बाधक न बने।’’ इस पुराने वीडियो में बाल ठाकरे कह रहे हैं, ‘‘ अगर हमारा हिंदू धर्म बाधा पैदा कर रहा है तो मुझे बताओ, मैं इस पर ध्यान दूंगा ... मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटा दिए जाएंगे।’’ बाल ठाकरे का नवंबर 2012 में निधन हो गया। वर्तमान में उनके बेटे उद्धव ठाकरे की अगुवाई में महाराष्ट्र में महा विकास आघाड़ी की सरकार है। इस सरकार के घटक शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस हैं। राज ठाकरे ने यह वीडियो ऐसे समय में साझा किया है, जब उनके निर्देश के बाद मनसे कार्यकर्ताओं ने ‘अजान’ के लिए लाउडस्पीकर के इस्तेमाल किए जाने के विरोध में बुधवार को कुछ मस्जिदों के पास हनुमान चालीसा का पाठ करने के लिए लाउडस्पीकर का उपयोग किया।

कोई टिप्पणी नहीं: