सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 06 मई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 मई 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 06 मई

कलेक्ट्रेट में बैठक कर रोता रहा मृत फौजी का बेबस पिता, शहीद का दर्जा नहीं दिया, बैंक ने सैलरी देने से इंकार किया

  • राष्ट्रीय राईफल्स सिख बटालियन में पदस्थ था लोकेंद्र सिंह ठाकुर, गवाखेड़ा में सेना की परंपरा अनुसार किया था अंतिम संस्कार
  • हजारों देशभक्त नागरिकों के साथ पहुंचे थे समाजसेवी जनप्रतिनिधि, पिता कमल सिंह माता बेगू बाई से किया था मदद करने का वादा
  • क्या गुनाह किया एक लौते बेटे को सेना में देश सेवा के लिए भेज दिया, क्या प्रधानमंत्री रक्षामंत्री और मुख्यमंत्री सुनेंगे मृत फौजी के पिता की गुहार

sehore news
सीहोर। कलेक्ट्रेट में शुक्रवार को गर्मी के कारण सन्नाटे का माहौल था इस सन्नाटे में कलेक्ट्रेट आने वाले लोगों का ध्यान मुख्य गेट के पास रो रहा एक ग्रामीण खींच रहा था। एक आंख से दिखाई नहीं देने पर भी वह अपने लाड़ले को फोैजियों की तस्वीरों में खोज रहा था। यह और कोई नहीं भारतीय सेना के मृत वीर जवान गवाखेड़ा निवासी लोकेंद्र सिंह ठाकुर का बेबस पिता कमल सिंह था। उसका बेटा राष्ट्रीय राईफल्स सिख बटालियन कश्मीर घाटी में पदस्थ था पिता के कहने पर वह देश सेवा के लिए भारतीय सेना में गया था लेकिन रहस्यमय तरीके से उसकी दर्दनाक मौत हो गई।  सेना ने शहीदी सम्मान के साथ हीं फौजी बेटे की अंतेष्टी गवाखेड़ा में की। हजारों देश भक्तों के साथ शवयात्रा में बड़ी संख्या में क्षेत्र के जनप्रतिनिधि समाजसेवी प्रशासनिक अधिकारियों ने शामिल होकर श्रद्धांजली अर्पित की और दुखी परिजनों को पूरी मदद करने का दिलासा दिया। लेकिन अबतक अपमान के सिवाय कमल सिंह और बेगु बाई को कुछ नहीं मिला। मृत फौजी लोकेंद्र के बेबस पिता कमल सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मदद की गुहार लगाई है। आष्टा तहसील अंतर्गत ग्राम गवाखेड़ा निवासी कमल सिंह ने बताया की बेटे एक मात्र संतान लोकेंद्र को पढ़ाया लिखाया और भारतीय सेना में देश सेवा के लिए तैयार किया। कड़ी मेहनत के बाद राष्ट्रीय राईफल्स सिख बटालियन में लोकेन्द्र का सिले क् शन हो गया। कश्मीर घाटी सहित देश के विभिन्न बार्डर क्षेत्र में लोकेंद्र तैनात रहा। परिवार को २२ सितंबर २०२१ को लोकेंद्र की मृत्यु की सूचना प्राप्त हुई। पहले बताया की आतंकवादियों के साथ लड़ाई में लोकेंद्र के प्राण गए है फिर बताया गया की दुर्घटना में मौत हुई है सेना ने लोकेंद्र को शहीद का दर्जा नहीं दिया लेकिन गवाखेड़ा पहुंच कर सेना के जवानों ने शहीद जवान की तरह ही अंतिम संस्कार किया। कमल सिंह ने बताया की अबतक ना तो प्रदेश सरकार से कोई मदद मिली है और ना हीं सेना कार्यालय से कोई मदद दी गई है। कोठरी में स्थित एसबीआइ बैंक ने भी लोंकेंद्र की शेषबाकी वेतन देने से इंकार कर दिया है जबकी लोकेंद्र ने अपनी माता बेगु बाई को बैंक खाते में नामिनी घोषित किया था। बैंक के खाते में लगभग चार लाख रूपये है पास बुक में भी उक्त राशि मौजूद है लेकिन बैंक नहीं दे रहा है।


सांसद को सौपा सेवादल कांग्रेस ने ज्ञापन, इंटरसिटी के स्टेशन पर स्टापेज की मांग


sehore news
सीहोर। नागरिकों की सुविधाओं को देखते हुए सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने साथियों के साथ क्षेत्र की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को ज्ञापन दिया। जनहित में इंदौर भोपाल इंटरसिटी व अन्य एक्सप्रेस टे्रनों को सीहोर रेलवे स्टेशन पर स्टापेज देने की मांग गई। श्री खंगराले ने सांसद को बताया की उक्त एक्सप्रेस गाड़ी का स्टापेज कालापीपल रेलवे स्टेशन पर है लेकिन सीहोर स्टेशन पर नहीं है। इंदौर भोपाल इंटर सिटी एक्सप्रेस का स्टापेज नही होने से है यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। सीहोर से कई शासकीय कर्मचारी और व्यापारी वर्ग तथा आम नागरिकों का आना जाना भोपाल इंदौर लगा रहता है। इस के बाद भी उक्त गाड़ी को सीहेार रेलवे स्टेशन पर नहीं रोका जा रहा है जिस से सीहोर व अन्य क्षेत्रों के नागरिकों में भारी रोष व्याप्त है। ज्ञापन को गंभीरता पूर्वक लेते हुए सांसद द्वारा इंटर सिटी एक्सप्रेस को सीहेार स्टेशन पर रूकवाने का आश्वासन दिया। ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूप से निशांत वर्मा, देवेंश मिश्रा, कमल किशौर जाटव, डॉक्टर बीके विश्वास,डीएस शाक्य, मुकेश सिंह ठाकुर कमल सिंह सूर्यवंशी आदि लोग शामिल रहे।


नृत्य, गायन और संगीत प्रतियोगिता में कलाकारों ने बांधा समां, कलाकारों ने बिखेरा साज और आवाज का जादू


sehore news
सीहोर। शहर के सैकड़ाखेड़ी स्थित संकल्प नशा मुक्ति केन्द्र में जारी खेल महोत्सव के दौरान नृत्य, गायन और संगीत प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया था, इस मौके पर कलाकारों ने साज बिखेरा और अपनी आवाज के जादू से यहां पर उपस्थित सैकड़ों की संख्या में श्रोताओं का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। इसके अलावा खेल महोत्सव में शुक्रवार को क्रिकेट और योगा आदि का आयोजन भी किया गया था। गुरुवार की देर रात्रि को आयोजित नृत्य, गायन और संगीत प्रतियोगिता में गायन में मानसी चौहान प्रथम, दूसरे स्थान पर अंकिता शर्मा-दीक्षा शर्मा, तीसरे स्थान पर आदित्य सोनी भजन में स्थान प्राप्त किया। इसके अलावा नृत्य प्रथम स्थान आख्या अग्रवाल-दिव्या ललवानी, दूसरा स्थान आध्या शर्मा-चार्मी पाहुजा एवं तीसरे स्थान में सृष्टि सोमवंशी-वैष्णवी मालवीय। वादन प्रतियोगिता में अंश पाटीदार प्रथम, तरूण यादव दूसरे स्थान पर और तीसर श्रेयंश वर्मा तीसरे स्थान पर रहे। प्रतियोगिता के दौरान निर्णायक मंडल में संगीत के विशेषज्ञ लाला राम सूर्यवंशी, सरस्वती कथक डांस कला केन्द्र श्रीमती रुपाली, प्रितेश सक्सेना ने बच्चों की प्रतिभा को अपने अनुभव की नजर से परखा और विजेताओं की घोषणा की। कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथि के रूप में थाना प्रभारी नलिन बुधौनिया, केन्द्र के संचालक राहुल सिंह, संगीतका विश्वविद्यालय के गुरु मांगीलाल ठाकुर, सरस्वती कथक डांस कला केन्द्र की ओर से नवीन सोनी आदि शामिल थे। शुक्रवार की सुबह योग गुरु सुरेश राठौर के द्वारा बड़ी संख्या में योग के साधकों ने शहर के सैकड़ाखेड़ी स्थित परिसर में योग कलाओं का प्रदर्शन किया। इस मौके पर योग गुरु सुरेश राठौर ने बताया कि योग हमारे देश की सबसे प्राचीन कलाओं में से एक है, इसको करने से हमारे शरीर को ऊर्जावान और निरोगी रखा जा सकता है। रोमांचक मैच में पीपीसीए ने बीएसआई को दो रनों से हराया शुक्रवार की शाम को संकल्प खेल महोत्सव के अंतर्गत शहर के बीएसआई मैदान पर पीपीसीए अकादमी ने बीएसआई को रोमांचक मुकाबले में मात्र दो रन से हराया। इस मुकाबले में पहले बल्लेबाजी करने उतरी पीपीसीए टीम ने निर्धारित आठ ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 71 रन बनाए थे। इसमें यश दुबे ने 40 रन, अंशु ने 15 रन और आदिल 16 रन की शानदार पारी खेली। इधर बीएसआई की ओर से राजा सेन ने दो विकेट और मिलन नरवरे ने एक विकेट प्राप्त किया। इसके अलावा जवाब में लक्ष्य का पीछा करने उतरी बीएसआई की टीम निर्धारित आठ ओवर में तीन विकेट पर 69 रन ही बना सकी। इसमें मिलन ने 30 रन और यूरेश 14 रन बनाए थे। वहीं पीपीसीए की ओर से यश दुबे ने दो विकेट और आदिल ने एक विकेट हासिल किया।


आर्य वीर दल चरित्र निर्माण व्यायाम , जिला प्रशिक्षण शिविर का समापन, सूर्य भूमि नमस्कार कराते आसन स्तुप कमांडो का शानदार प्रदर्शन   


sehore news
सीहोर  जिला स्तरीय आर्य वीर दल चरित्र निर्माण एवं व्यायाम प्रशिक्षण शिविर का समापन समारोह आयोजन  किया गया आर्यवीरो द्वारा  सर्वांग सुंदर  व्यायाम सूर्य नमस्कार भूमि नमस्कार कराते आसन स्तुप कमांडो का शानदार प्रदर्शन किया गया आचार्य कमल किशोर शास्त्री द्वारा भव्य संगीत में कार्यक्रम की प्रस्तुति  आकांक्षा आर्या विभूति आर्या के द्वारा एक दयानंद जरूरी है गीत की विशेष प्रस्तुति आचार्य कमल किशोर द्वारा वैदिक यज्ञ का आयोजन कार्यक्रम किया गया आर्य समाज लोधी मोहल्ला गंज के प्रधान विजय राठौर मंत्री अरुण राठौर पुस्तकालय अध्यक्ष अमित खरे संरक्षक विजय कुलश्रेष्ठ जितेंद्र मेवाड़ा महेश राठौर आर्यवीर पवन मेवाड़ा भजन उपदेशक अमित  राठौड़ आर्य वीर दल बौद्धिक अध्यक्ष संतोष सिंह आर्य द्वारा संध्या के मंत्र प्रातः काल के मंत्र सायं काल के मंत्र भोजन मंत्र ईश्वर की स्तुति प्रार्थना उपासना के मंत्र यज्ञ करने की विधि पंच महायज्ञ आत्मरक्षा कैसे करें विद्यार्थी जीवन कैसा हो इस विषय में जानकारी प्रातः काल उठने से क्या क्या लाभ है इस विषय में जानकारी वैदिक सत्य सनातन धर्म  व्यायाम करने की विधि एवं उसके लाभ हम जीवन में उन्नति कैसे करें  मनुष्य जीवन का लक्ष्य क्या है इस विषय में  जानकारी दी गई  आर्य समाज निपानिया कला से मंत्री एवम आर्य वीर दल बौद्धिक प्रमुख बृजेश झलावा आर्य समाज मोहाली से प्रधान सरपंच द्वारका प्रसाद  मंत्री मुरारी लाल  आर्य रमेश आर्य भोपाल से पधारे रामनारायण  किसान मोर्चा मंत्री जितेंद्र चौरसिया आर्य वीर दल के पूर्व संचालक रमेश  आर्य द्वारा आर्य वीर दल के विषय में विशेष प्रकाश डाला गया  आर्य समाज के कर्मठ पदाधिकारी भगत सिंह आर्य का विशेष मार्गदर्शन रहा श्याम  सिरोलिया श्याम विश्वकर्मा प्रांतीय संचालक आर्य वीर दल भेरू सिंह आर्य व्यायाम शिक्षक विदिशा से बलराम  आर्य पुरोहित संदीप आर्य जिला संचालक आर्य वीर दल जिला सीहोर आर्य समाज के विशेष कार्यकर्ता सूर्यकांत आर्य नरेश आर्य जितेंद्र आर्य महेंद्र  आर्य लखन लाल राठौड़ परिधि आर्या  द्वारा दैनिक यज्ञ कराया गया 


अब सोमवार से शुक्रवार तक होगा रुद्राक्ष का वितरण


sehore news
सीहोर। जिला मुख्यालय के समीपस्थ चितावलिया हेमा स्थित पंडित प्रदीप मिश्रा का कुबेरेश्वर धाम इस समय देश-दुनिया के लाखों-करोड़ों भक्तों की आस्था का केंद्र बना हुआ है। यहां पर अभिमंत्रित रुद्राक्षों का वितरण कार्य चल रहा है। रुद्राक्ष लेने के लिए दूर-दूर से भक्तगण कुबेरेश्वर धाम पर पहुंच रहे हैं और बिना किसी परेशानी के उन्हें रुद्राक्ष प्राप्त हो रहे हैं। शुक्रवार को कथा के दौरान भागवत भूषण पंडित श्री प्रदीप मिश्रा ने कहा कि विशाल परिसर में जगह-जगह गंदगी होने के कारण अब मात्र सोमवार से शुक्रवार तक रुद्राक्ष का वितरण किया जाएगा। शनिवार और रविवार को समिति के पदाधिकारियों के द्वारा सफाई की व्यवस्था की जाएगी। विठलेश सेवा समिति के मीडिया प्रभारी प्रियांशु दीक्षित ने बताया कि अब तक लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं को रुद्राक्ष का वितरण कराया जा चुका है। हर रोज बड़ी संख्या में श्रद्धालु कुबेरेश्वर धाम पहुंच रहे है। अब सप्ताह में सिर्फ पांच दिन रुद्राक्षों का वितरण किया जाएगा और शनिवार-रविवार को धाम में साफ-सफाई आदि की व्यवस्था की जाएगी।  समिति के कार्यकर्ता दिन-रात सेवा कार्य में जुटे हुए हैं। यहां आने वाले भक्तों को बिना किसी परेशानी के रुद्राक्ष मिले, इसके लिए व्यवस्थाएं भी चाक-चौबंद की गई है। भक्तों की सुविधाओं के लिए बैरीकेट्स लगाए गए हैं, ताकि किसी प्रकार की धक्का-मुक्की न हो। काउंटर पर कार्यकर्ताओं को तैनात किया गया है। जहां पर रुद्राक्ष वितरण कार्य चल रहा है वहां पर भक्तों को धूप में न खड़ा होना पड़े, इसके लिए डोम बनाकर छाया की गई है। पेयजल व्यवस्था अलग-अलग स्थानों पर की गई है, ताकि एक जगह ज्यादा लोगों की भीड़ न लग सके। ठंडा पानी मिले, इसके लिए वॉटर कूलर लगाए गए हैं। यहां पर आने वाले भक्तों को भोजन-प्रसादी भी वितरित किया जा रहा है। ज्यादा से ज्यादा लोगों तक अभिमंत्रित रुद्राक्ष पहुंचे, इसके लिए ऐसी व्यवस्थाएं बनाई गई है, ताकि लोगों को परेशानियां न हो। प्रत्येक व्यक्ति को एक ही रुद्राक्ष दिया जा रहा है। एक व्यक्ति ज्यादा रुद्राक्ष न ले, इसके लिए उनके हाथों में स्याही भी लगाई जा रही है। दरअसल गुरूदेव पंडित प्रदीप मिश्रा का मानना है कि सब लोगों तक ये अभिमंत्रित रुद्राक्ष पहुंचे और सब इन्हें धारण भी करें, इसके लिए जिन्हें भी रुद्राक्ष चाहिए वे कुबेरेश्वर धाम आकर ही रुद्राक्ष प्राप्त करें।


ऐसे पहुंचे कुबेरेश्वर धाम-

सीहोर जिला मुख्यालय से करीब 5 किलोमीटर की दूरी पर नापल्याखेड़ी से होते हुए कुबेरेश्वर धाम पहुंचा जा सकता है। इंदौर की तरफ से आने वाले भक्त सीहोर से करीब 5 किलोमीटर पहले नापल्याखेड़ी से कुबेरेश्वर धाम पहुंचे तो वहीं भोपाल की तरफ से आने वाले भक्त सीहोर से इंदौर रोड पर पांच किलोमीटर आगे चलकर नापल्याखेड़ी गांव से कुबेरेश्वर धाम पहुंच सकते हैं। सीहोर बस स्टैंड से ऑटों एवं बस की सुविधाएं भी हैं। इसके अलावा सीहोर रेलवे स्टेशन से भी ऑटो या टैक्सी के द्वारा कुबेरेश्वर धाम पहुंचा जा सकता है।


पांच सौ कार्यकर्ता घर घर देंगे आज रात में दस्तक, नागरिकों से शहर हित के लिए कराएंगे हस्ताक्षर


सीहोर। सरकारी अस्पताल में जारी भ्रष्टाचार अव्यवस्थाओं को लेकर पांच सौ कार्यकर्ता गौरव सन्नी महाजन के नेतृत्व में शनिवार से हस्ताक्षर अभियान शुरू करेंगे। कार्यकर्ता शहर हित में नागरिकों के घर घर दस्तक देकर 35 वार्डो में 50 हजार फार्मो पर हस्ताक्षर कराकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को भेजेंगे। अस्पताल में जारी भ्रष्टाचार अव्यवस्थाओं के लिए जिम्मेदारों पर सख्त कार्रवाहीं करने की मांग को लेकर नागरिकों से समर्थन मांगेगे। इस संबंध में बीते रविवार को कार्यमंगलम में आयोजित बैठक के दौरान कार्यकर्ताओ को गौरव सन्नी महाजन ने संबोधित भी किया था। महाजन ने कहा की सी.टी स्केन मशीन अस्पताल में होते हुए भी कई वर्षो तक मरीजों से सी.टी स्केन के 2250 वसूली कर भृष्टाचार किया गया है इस बढ़े घोटाले की जांच कराने और अस्पताल में एंबुलेंस होते हुए भी समय पर एंबुलेंस नहीं पहुंचने,अस्पताल को लापरवाही का अडड़ा बनाने, साजिश के तहत जिला अस्पताल में रेडियोलाजिस्ट की पदस्थापना होने के बावजूद सोनोग्राफी मशीन बंद पड़ी होने,  अस्पताल में छोटे-छोटे आपरेशन भी नहीं किये जाने,डिलेवरी के अधिकतर प्रकरण प्रायवेट अस्पताल में रैफर करने,मरीजो को एक्सपायरी डेट की ग्लूकोज की वाटल लगाने, मरीजो की जान के साथ खिलवाड़ करने,एक्सरे की सुविधा देने में भी नागरिकों को परेशान करने सहित सरकारी अस्पताल से संबंधित अन्य समस्याओं परेशानियों भ्रष्टाचार से मुख्यमंत्री को अवगत कराएंगे। हस्ताक्षर अभियान में नागरिकों से सहयोग की अपील महाजन मित्र मंडली के गोविंद पहलवान राठौर, ज्ञान प्रकाश माथुर,मूलचंद्र छाया,विनोद यादव गुडडा, राजेश राय,देवेंद्र राठौर, तुलसीराम राठौर, नारायण सिंह, बिल्लू जोशी, शंकर महेश्वरी, लक्ष्मी प्रसाद, कमल प्रजापति,कमलेश अग्रवाल,महेश राठौर, संजय मिश्रा, संजय यादव, कमलेश महेश्वरी, आशीष विश्वकर्मा, मोनी शर्मा, यश अग्रवाल, अशोक मेवाड़ा, वंश डागर, विक्की भावसार, राहुल खरे,सन्नी यादव, रवि यादव, सागर सोनी, रोहित वशिष्ट, ओम प्रकाश, धरम पटारिया, राकेश कुमार राठौर, बलराम कुशवाह, हुकुम सिंह, दिनेश चावड़ा, अशोक गौतम, मन डागर, मुकेश खत्री,  दुर्गाप्रसाद, सुरेश भारती, आशू राजोरिया, अभिलाष शर्मा, अशोक गौतम, लोकेश सोनी, जाहिद पठान, अजहर मंसूरी, सुधीर सोनी, देवेंद्र सेंगर,भागीरथ भारती मोनू मालवीय, नितिन राय.दीपक प्रजापति, नाना खत्री, प्रकाश परमार, प्रमोद खत्री, गुडडु रेकवार, पदम राय, सतीष बलोदिया दिपक कुमार राज मीना आदि सदस्यों ने की है।


जिले में 06 मई को 01 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव


जिले में 06 मई को प्राप्त रिपोर्ट में एक व्यक्ति की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। वर्तमान में एक्टिव पॉजिटिव केस की संख्या 01 हो गई है।


राज्य शूटिंग अकादमी, भोपाल के रायफल, पिस्टल एवं शॉटगन विद्या का प्रतिभा चयन


राज्य शूटिंग अकादमी, भोपाल के रायफल, पिस्टल एवं शॉटगन विद्या का प्रतिभा चयन कार्यक्रम 17 मई को दोपहर 2 से 5 बजे तक चर्च ग्राउंड सीहोर में आयोजित किया गया है। प्रतिभा चयन में जिले के 13 से 16 वर्ष के मध्य के बालक, बालिका भाग ले सकते हैं। खिलाडियों की उंचाई वजन एवं उम्र के ब्यौरे के साथ-साथ उनके सीखने की क्षमता के आधार पर उनका ट्रायल किया जाएगा। 13 से 16 वर्ष उम्र के बालक,बालिका प्रतिभा चयन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए खेल और युवा कल्याण विभाग चर्च ग्राउंड सीहोर में 16 मई को शाम 5 बजे तक अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है।


जिले में 06 मई तक कुल 420678 मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी


रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर जिले के किसानो से गेहूँ उपार्जन का कार्य किया जा रहा है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एसके तिवारी ने जानकारी दी कि जिले में 06 मई तक 49 हजार 582 किसानों से कुल 04 लाख 20 हजार 678 मीट्रिक टन गेहूँ की खरीदी की जा चुकी है। कुल 04 लाख 01 हजार 80 मीट्रिक टन गेहूँ का परिवहन किया जा चुका है एवं 8 हजार 410 मीट्रिक टन गेहूँ का परिवहन किया जाना है। किसानो को उपार्जित का फसल का कुल 498.37 करोड़ रूपए का भुगतान किया जा चुका है।


जिले में 05 मई तक कुल 312828 मीट्रिक टन चना, मसूर खरीदी


रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर जिले के किसानो से चना एवं मसूर की खरीदी का कार्य किया जा रहा है। जिले में 05 मई कुल 21 हजार 42 किसानो को पंजीयन कर 22 हजार 202 किसानो को एसएमएस किए जा चुके है। जिले के 10 हजार 578 किसानो से कुल 03 लाख 12 हजार 828 क्विंटल चना एवं मसूर की खरीदी की जा चुकी है। साथ ही 2 लाख 72 हजार 534 क्विंटल चना एवं मसूर का परिवहन किया जा चुका है।


किसानों के शीघ्र भुगतान की कार्यवाही के कलेक्टर ने दिए निर्देश, 6368 किसानो के खाते आधार लिंक नही होने के कारण भुगतान रिजेक्ट


रबी विपणन वर्ष 2022-23 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित गेहूं का किसानों को भुगतान उनके आधार लिंक बैंक खाते के माध्यम से करने की व्यवस्था की गई है। समर्थन मूल्य की राशि के भुगतान में 6368 किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक न होने के कारण भुगतान विफल हुआ है। विफल भुगतान के संबंध में कार्यवाही करने के कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए है। कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा जारी निर्देशानुसार ई-उपार्जन पोर्टल, जिला एवं उपार्जन केन्द्र स्तरीय सभी लॉगिन पर PFMS Farmers Registration Response रिपोर्ट पर जिन किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक न होने के कारण भुगतान विफल हुआ है, उन किसानों के नाम एवं मोबाईल नम्बर उपार्जन केन्द्रवार उपलब्ध कराए गए है। सूची के अनुसार जिन किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक नहीं है, उनको संबंधित बैंक में जाकर बैंक खाते को आधार से लिंक करने के लिए अवगत कराने के निर्देश दिए गए हैं। इस संबंध में राज्य स्तर से भी किसानों को एसमएस भेजे गए हैं। किसान द्वारा भी UIDAI की लिंक https://resident.uidai.gov.in/bank-mapper पर जाकर अपने बैंक खाते को आधार से लिंक होने की जानकारी प्राप्त कर सकते है। किसानों द्वारा यह भी जानकारी दी गई है कि उनके द्वारा बैंक खाते को आधार से लिंक कराने की कार्यवाही बैंक में की जा चुकी है किन्तु समर्थन मूल्य की राशि के भुगतान की रिपोर्ट में बैंक खाते को आधार से लिंक न होना प्रदर्शित हो रहा है, यह स्थिति बैंक द्वारा आधार लिंक की जानकारी NPCI को प्रेषित नहीं किए जाने के कारण उत्पन्न हो रही है। कलेक्टर श्री ठाकुर ने जिला लीड बैंक अधिकारी को जिले के सभी बैंकों को सूचित करने के निर्देश दिए हैं। अधिकारियों द्वारा जिन किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक किए जा चुके है, उनका डाटा तत्काल NPCI को प्रेषित किया जाए। ताकि किसानों के समर्थन मूल्य का भुगतान किया जा सके। जैसे-जैसे किसानों के बैंक खाते आधार से लिंक एवं डाटा NPCI को प्रेषित किया जाएगा,  उसके अनुसार NIC द्वारा भुगतान की कार्यवाही की जाएगी।


जिले में अन्न उत्सव कार्यक्रम आज


सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अंतर्गत जिले में 07 मई को "अन्न उत्सव" का आयोजन किया जाएगा। जिला आपूर्ति अधिकारी श्री एसके तिवारी ने जिले के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारियों सहित सभी संबंधित अधिकारियों को अन्न उत्सव कार्यक्रम की सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है। अन्न उत्सव के आयोजन की जानकारी स्थानीय जनप्रतिनिधियों को देते हुए उत्सव में भाग लेने के लिए आमंत्रित किए जाने के निर्देश भी दिए गए है। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के छटवें चरण के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को 06 माह तक (माह अप्रैल 2022 से सितम्बर, 2022 तक) 5 किलोग्राम प्रति सदस्य प्रतिमाह निःशुल्क खाद्यान्न वितरण किया जाएगा। इस प्रकार हितग्राहियों को 06 माह तक दुगना खाद्यान्न (पीएमजीकेएवाय 5 किलोग्राम एवं एनएफएसए 5 किलोग्राम प्रति सदस्य) प्राप्त होने के संबंध में जानकारी देने के निर्देश दिए गए है। अन्न उत्सव के आयोजन के दौरान उचित मूल्य दुकान पर नियुक्त नोडल अधिकारी की उपस्थिति सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिए गए है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के छटवे चरण में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 के तहत जिले के 9 लाख 18 हजार 115 हितग्राहियों को माह अप्रैल, 2022 में सितम्बर, 2022 तक 5 किलोग्राम खाद्यान्न प्रति सदस्य प्रतिमाह के मान से निःशुल्क खाद्यान्न वितरण किया जाएगा। यह मात्रा NFSA अंतर्गत नियमित वितरण किये जा रहे (अन्त्योदय परिवारों को 35 किलोग्राम एवं प्राथमिकता परिवारों को 5 किलोग्राम प्रति सदस्य प्रतिमाह) खाद्यान्न के अतिरिक्त होगी।


गरीब के चेहरे पर मुस्कान उसकी इज्जत और सम्मान सुनिश्चित करना राज्य सरकार की प्राथमिकता : मुख्यमंत्री श्री चौहान

  • संत रविदास जी की भावना के अनुरूप कार्य कर रही है राज्य सरकार, मोचीबंधुओं को आत्म-निर्भर बनाने आरंभ होगी मुख्यमंत्री पादुका योजना
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फुटवियर डिजाइनिंग देगा आवश्यक प्रशिक्षण, मोचीबंधुओं के उत्पाद की बेहतर मार्केटिंग के लिए बनेगी नीति, मोचीबंधुओं को व्यवसाय बढ़ाने दी आर्थिक सहायता और टूलकिट, मुख्यमंत्री ने मोची बंधुओं के साथ किया भोजन
  • मुख्यमंत्री निवास में आयोजित मोची बंधुओं के सम्मेलन को किया संबोधित, मुख्यमंत्री निवास में आयोजित सम्मेलन में बुधनी विधानसभा क्षेत्र के मोची बंधु शामिल हुए

sehore news
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गरीब के चेहरे पर मुस्कान, उसकी इज्जत और सम्मान सुनिश्चित करना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। जो सबसे पीछे हैं, जो गरीब हैं, उनकी भलाई राज्य सरकार के लिए सबसे पहले है। मैं ऐसे लोगों की जिंदगी बदलने के लिए ही मुख्यमंत्री हूँ। मुख्यमंत्री श्री चौहान मुख्यमंत्री निवास में आयोजित मोची बंधुओं के सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। सम्मेलन में बुधनी क्षेत्र के मोची बंधु शामिल हुए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मोची बंधुओं के कौशल उन्नयन और उनके उत्पादों को बेहतर बाजार उपलब्ध कराने के लिए क्रिस्प और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फुटवियर डिजाइनिंग, नई दिल्ली द्वारा प्रशिक्षण उपलब्ध कराने और मुख्यमंत्री पादुका योजना के संबंध में जानकारी दी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मोची बन्धुओं को अपना व्यवसाय बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता के रूप में 10 हजार रुपये के चैक और मोची कार्य से संबंधित उपकरणों की किट भी भेंट की। मुख्यमंत्री निवास परिसर में आजादी के अमृत महोत्सव में संत रविदास जयंती समारोह के क्रम में बुधनी क्षेत्र के मोची बंधुओं के लिए आयोजित सम्मेलन का मुख्यमंत्री श्री चौहान ने दीप जलाकर तथा कन्या-पूजन कर शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संत रविदास के चित्र पर माल्यार्पण भी किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि संत रविदास जी की भावना “ऐसा चाहू राज मैं, जहाँ मिले सबन को अन्न- छोटे बड़ो सब सम बसें, रविदास रहे प्रसन्न” के अनुरूप ही राज्य सरकार कार्य कर रही है। सभी परिवारों को राशन मिले, सभी के लिए आवास हो और इन योजनाओं के लाभ से कोई परिवार वंचित न रहे। सभी परिवारों के पास गैस चूल्हा हो, सभी को बीमारी में काम आने वाला आयुष्मान कार्ड उपलब्ध हो और परिवार संबल योजना का लाभ ले सकें, इसके लिए राज्य सरकार ने सभी आवश्यक व्यवस्थाएँ की हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए लाड़ली लक्ष्मी योजना सहित उनकी उच्च शिक्षा तक सहायता के लिए राज्य सरकार की योजनाएँ हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बेटियों को पढ़ाने और आगे बढ़ाने के लिए सभी को प्रेरित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में प्रतिवर्ष धूमधाम से संत रविदास जयंती मनाई जाएगी। मोची बंधुओं को संत रविदास की जन्म स्थली के दर्शन के लिए विशेष रूप से बनारस भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पथ विक्रेता योजना की जानकारी देते हुए कहा कि काम-धंधे को विस्तार देने के लिए यह योजना बहुत उपयोगी है। ऋण की उपलब्धता और ऋण चुकाने पर दोगुनी राशि उपलब्ध कराने की व्यवस्था से इस योजना का लाभ लेकर अपने व्यवसाय को विस्तार दिया जा सकता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्व-सहायता समूह बनाकर अपने व्यवसाय को विस्तार देने के लिए भी प्रेरित किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि चर्मकार समाज का समावेशी विकास कर उन्हें आत्म-निर्भर बनाने और मुख्यधारा से जोड़ने के लिए "मुख्यमंत्री पादुका'' योजना आरंभ की जा रही है। चर्मकारों का कौशल विकास कर उनकी आजीविका बढ़ाने तथा उन्हें उद्यमी बनाने के लिए इस योजना में पूरी व्यवस्था है। योजना में कॉमन फेसिलिटी सेंटर खोलकर उन्नत मशीनों और अनुभवी प्रशिक्षकों द्वारा फुटवियर डिजाइनिंग का प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जाएगा। इससे चर्मकार अपनी परंपरागत तकनीकों के साथ आधुनिक तकनीक और मशीनों के उपयोग में अभ्यस्त हो सकेंगे। योजना में प्रशिक्षणार्थियों को उन्नत टूलकिट भी उपलब्ध कराई जाएगी। कॉमन फेसिलिटी सेंटर का संचालन क्रिप्स द्वारा नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फुटवियर डिजाइनिंग नई दिल्ली के सहयोग से किया जाएगा। मोची बंधुओं को आवश्यक प्रशिक्षण उपलब्ध कराने वाली संस्था क्रिस्प के सीएमडी श्री श्रीकांत पाटिल ने कहा कि मोची बंधुओं के उत्पाद की बेहतर मार्केटिंग और बेहतर मूल्य उपलब्ध कराने के लिए डी-मार्ट और ऑनडोर जैसी संस्थाओं से संपर्क किया जा रहा है। मार्केटिंग के लिए निश्चित नीति विकसित कर उसका क्रियान्वयन किया जाएगा।


दस-दस हजार रूपए का चैक एवं टूल किट भेंट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बुधनी क्षेत्र के 78 व्यक्तियों को अपना व्यवसाय बढ़ाने के लिए आर्थिक सहायता के रूप में 10-10 हजार रूपए का चेक और एक-एक मोची किट भेंट करने की शुरूआत की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रतीक स्वरूप सीहोर जिले के नसरूल्लागंज के श्री विजेंद्र, गोपालपुर के श्री अशोक, इटारसी के श्री श्यामलाल, शाहगंज के श्री मंगू और श्री राम को चेक और किट प्रदान की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बकतरा के दिव्यांग श्री पूरणलाल को ट्रायसिकल भी भेंट की।


जूता बनाने की दक्षता की मुख्यमंत्री ने की सराहना

मुख्यमंत्री श्री चौहान को नसरूल्लागंज के मोचीबंधु श्री विजेंद्र और श्री जीतेंद्र ने अपने हाथों से बना जूता भेंट किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री विजेंद्र और जितेंद्र की जूता बनाने में दक्षता की प्रशंसा की। मुख्यमत्री श्री चौहान ने मोची बंधुओं के साथ भोजन किया। सम्मेलन में मोची बंधुओं के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए विशेष शिविर भी लगाया गया। कार्यक्रम में विदिशा सांसद श्री रमाकांत भार्गव ने भी संबोधित किया।


मोची बंधुओं ने सम्मेलन की सराहना

मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित बुधनी विधानसभा के मोची बंधुओं के सम्मेलन में नसरूल्लागंज के श्री विजेन्द्र, गोपालपुर के श्री अशोक, इटारसी के श्री श्यामलाल, शाहगंज के श्री भंगु, श्रीराम तथा ग्राम अकोला के प्रेम नारायण ने इस सम्मेलन की सराहना करते हुए कहा कि पहली बार मोची बंधुओं का सम्मेलन आयोजित हुआ और हमें इस सम्मेलन में सम्मान के साथ आमंत्रित किया गया। मुख्यमंत्री श्री चौहान से चर्चा करने का अवसर मिला। उन्होंने पूरी गंभीरता से हमारी बाते सुनी।


यह थे उपस्थित

कार्यक्रम में अनुसूचित जनजाति वित्त निगम की अध्यक्ष श्रीमती निर्मला बारेला, पूर्व विधायक श्री राजेन्द्र सिंह राजपूत, सलकनपुर ट्रस्ट अध्यक्ष श्री महेश उपाध्याय, जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय, मंडल अध्यक्ष श्री पंवार, मंडल अध्यक्ष श्री मीणा, कलेक्टर श्री चन्द्र मोहन ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ श्री हर्ष सिंह भी उपस्थित थे।


वर्ष की द्वितीय नेशनल लोक अदालत 14 मई को प्रकरणों के निराकरण के लिए जिले में 24 खण्डपीठों का गठन


प्रधान जिला न्यायाधीश श्री आरएन चंद के निर्देश पर जिले में 14 मई 2022 को वर्ष की द्वितीय नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जाएगा। वर्ष की द्वितीय नेशनल लोक अदालत सीहोर एवं तहसील न्यायालय आष्टा, नसरूल्लागंज, बुदनी एवं इछावर में भी आयोजित की जाएगी। नेशनल लोक अदालत में न्यायालय में लंबित आपराधिक शमनीय प्रकरण, धारा 138 पराक्राम्य लिखित अधिनियम, क्लेम प्रकरण, विद्युत अधिनियम, वैवाहिक विवाद सम्बंधी  अन्य सिविल प्रकरण सहित कुल 4412 राजीनामा योग्य प्रकरण रखे गये हैं। विधुत अधिनियम, बैंक रिकवरी, जलकर एवं बीएसएनएल विभाग से संबंधित 10 हजार 444 प्रीलिटिगेशन प्रकरण नेशनल लोक अदालत के समक्ष रखे गए हैं। नेशनल लोक अदालत में अधिक से अधिक प्रकरणों के निराकरण के लिए सीहोर में 10, आष्टा में 06, नसरुल्लागंज में 04, बुदनी में 03 एवं इछावर में 01 इस प्रकार कुल 24 खण्डपीठों का गठन किया गया है।


नेशनल लोक अदालत में विद्युत, बैंक व जलकर के प्रीलिटिगेशन प्रकरणों में भारी छूट

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री मुकेश कुमार दांगी द्वारा बताया गया कि मध्यप्रदेश शासन उर्जा विभाग द्वारा विद्युत अधिनियम से संबंधित न्यायालय में लंबित व प्रीलिटिगेशन प्रकरणों में दिनांक 14 मई 2022 को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत के संबंध में छूट के निर्देश जारी किए गए हैं, जिसके अनुसार न्यायालय में चलने वाले विद्युत चोरी के प्रकरणों में 20 प्रतिशत एवं संपूर्ण ब्याज की छूट एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरणों में भी 30 प्रतिशत एवं संपूर्ण ब्याज की छूट रहेगी उक्त छूट मात्र नेशनल लोक अदालत दिनांक 14 मई 2022 में समझौता करने पर ही राजी रहेगी। नगर पालिका से संबंधित जलकर के प्रकरणों में मध्य प्रदेश शासन नगरीय विकास एवं आवास विभाग भोपाल के दिनांक 07 अप्रैल 2022 को जारी निर्देशानुसार नियमानुसार छूट प्रदान की जाएगी, साथ ही बैंक रिकवरी के प्रकरणों में भी बैंकों द्वारा नियमानुसार छूट प्रदान की जाएगी।


उचित मूल्य की दुकानों से सार्वजनिक वितरण प्रणाली से खाद्यान्न सामग्री की गुणवत्ता, एवं भौतिक सत्यापन के लिए आकस्मिक जांच दल नियुक्त


शासकीय उचित मूल्य की दुकानों से सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत खाद्यान्न सामग्री की गुणवत्ता, एवं भौतिक सत्यापन के लिए आकस्मिक जांच दल नियुक्त किया गया है। अपर कलेक्टर श्रीमती गुंचा सनोबर द्वारा जारी आदेश के अनुसार विधानसभा क्षेत्र बुधनी के अंतर्गत संचालित समस्त उचित मूल्य की दुकानों से सार्वजनिक वितरण प्रणाली एवं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना में वितरित होने वाले खाद्यान्न सामग्री की गुणवत्ता राशन वितरण के संबंध में दुकान में भौतिक सत्यापन एवं हितग्राहियों की पात्रता अनुसार स:शुल्क, नि:शुल्क राशन सामग्री वितरण तथा नियमानुसार दुकान संचालन के संबंध में आकस्मिक जांच के लिए अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई थी। जिसमे 04 दलों द्वारा अपने जाच प्रतिवेदन प्रस्तुत किए जा चुके है। किन्तु शेष दल को दुकानों का शीघ्र ही आकस्मिक जांच कर प्रतिवेदन 07 दिवस में प्रस्तुत करने के निर्देश दिये गये है।


सिद्धहस्थ शिल्पियों को विश्वकर्मा पुरस्कार प्रदान हेतु 30 मई तक अभिरुचि आमंत्रण


संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम मर्या भोपाल द्वारा प्रत्येक वर्ष राज्य के सिद्धहस्थ शिल्पियों को राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरुस्कार प्रदान किए जाते है। वर्ष 2022-23 के राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरुस्कार के लिए सीहोर जिले के सिद्धहस्त शिल्पियों से 30 मई 2022 तक अभिरूचि आमंत्रित है। यह अनिवार्य होगा कि शिल्पी का पंजीयन व निवास अनुशंसा करने वाले जिले में ही हो एवं संत रविदास मध्य प्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा विकास निगम या कपड़ा मंत्रालय भारत सरकार के विकास आयुक्त (हस्तशिल्प) कार्यालय में पंजीकृत हो। अभिरूचि संत रविदास मध्य प्रदेश हस्तशिल्प एवं हाथकरघा सामान्य सुविधा केन्द्र सीहोर द्वारा 30 मई 2022 तक स्वीकार की जावेगी। आवेदन पत्र प्रारूप एवं अन्य आवश्यक जानकारी संत रविदास मध्य प्रदेश हस्तशिल्य एवं हाथकरघा विकास निगम सामान्य सुविधा केन्द्र सीहोर से संपर्क कर प्राप्त की जा सकती है।


जिला-स्तरीय स्वास्थ्य शिविर में विशेषज्ञ चिकित्सक रहेंगे उपस्थित


प्रदेश के नागरिकों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएँ उपलब्ध कराने के लिये मई माह में दो दिवसीय जिला-स्तरीय स्वास्थ्य शिविर होंगे। स्वास्थ्य शिविरों के संबंध में सभी कमिश्नर, जिला कलेक्टर, सीएमएचओ और संबंधित अधिकारियों को स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्देश जारी किये गये हैं। आयुक्त स्वास्थ्य-सह-सचिव डॉ. सुदाम खाड़े ने कहा कि जिला-स्तर पर दो दिवसीय स्वास्थ्य शिविरों में गंभीर रोगों कैंसर, ह्रदय, न्यूरोलॉजी, किडनी, लिवर और अस्थि संबंधित रोगों के स्क्रीनिंग परीक्षण और उपचार के लिये विशेषज्ञों की उपस्थिति सुनिश्चित की जाये। गर्मी के मौसम को दृष्टिगत रखते हुए स्वास्थ्य शिविरों में सभी जरूरी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करें। डॉ. खाड़े ने निर्देश दिये कि संभाग स्तर पर शिविरों की कार्य-योजना बनाई जाये, जिससे सभी जिलों में विशेषज्ञों की ड्यूटी लगाई जा सके और गुणवत्तापूर्ण सेवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके। इस बात का ध्यान रखा जाये कि संभाग के सभी जिलों में एक साथ शिविर नहीं लगाये जायें। जिलेवार स्वास्थ्य शिविरों की तिथि निर्धारित कर शिविरों की जानकारी संचालनालय स्वास्थ्य सेवाओं को भेजा जाना सुनिश्चित करें।


स्व-रोजगार के लिये युवाओं को नि:शुल्क प्रशिक्षण


मध्यप्रदेश खादी ग्रामोद्योगबोर्ड द्वारा युवाओं को स्व-रोजगार के लिए तैयार करने के लिए 20 से अधिक कार्यक्षेत्र में विशेष प्रशिक्षण प्रदान करेगा जिससे युवाओं को स्वरोजगार के लिए दक्षता मिल सकेगी और रोजगार को बेहतर तरीके से कर सकेंगे बोर्ड द्वारा विभिन्न रोजगारन्मुखी व्यवसायों जैसे फैशन डिज़ाईनिंग, सिलाई, रेडीमेड गारमेंट, लेदर गुड्स, बेकरी, फूड प्रोसेसिंग, कम्प्यूटर हार्डवेयर रिपेरिंग, कम्प्यूटर एकाउंट विथ टेली, घरेलू, उपकरण मरम्मत, इलेक्ट्रीशियन, प्लम्बर, दोना पत्तल निर्माण, टू व्हीलर मरम्मत, ट्रेक्टर रिपेरिंग/ कम ऑपरेटर, कारपेंटर, मोबाईल रिपेरिंग आदि का विशेष प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा संचालित कौशल विकास कार्यक्रम अंतर्गत जिले के बेरोजगार युवक-युवतियों को आवासीय, गैर-आवासीय निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया जायेगा। बेरोजगार युवक युवती से प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु ऑनलाईन आवेदन 20 मई 2022 तक आमंत्रित किये गये हैं।कौशल विकास प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु ऑनलाईन आवेदन बोर्ड की विभागीय http://crisponlineservices.com/Services/khadi/User_ वेबसाइट: Registration_khadi.aspx पर किया जा सकता है।


विभिन्न पुरस्कारों के लिए प्रस्ताव 10 मई तक आमंत्रित


युवाओं के लिए स्थापित पुरस्कारों यथा कबीर, शंकराचार्य, गुरु नानक, गौतम बुद्ध, रहीम राज्य सम्मान के प्रस्ताव 10 मई तक आमंत्रित किए गए हैं । जिला स्तर पर प्राप्त होने वाले आवेदन पत्रों के संबंध में पुरस्कार नियमों का उल्लेख किया गया है। इस सम्बन्ध में निर्देश दिए गए हैं कि 10 मई तक प्राप्त आवेदनों को रजिस्टर में तिथिवार पंजीकृत कर अंकित किया जाए। उक्तावधि के पश्चात प्राप्त आवेदन को स्वीकार नहीं किया जाए।


चौथी लहर को रोकने में वैक्सीन सबसे महत्वपूर्ण हथियार


जिले में वैक्सीनेशन का काम लगातार जारी है। शासकीय चिकित्सालयों में वैक्सीन लगाई जा रही है। चौथी लहर की संभावना को देखते हुए सभी पात्र व्यक्तियों से  प्रिकॉशन डोज लगाने की अपील की गई है।। वर्तमान में वैक्सीनेशन का काम लगातार जारी है। वैक्सीनेशन से कोरोना बचाव के लिये वैक्सीन का डोज लगाये जा चुके हैं और जो लोग वैक्सीन के डोज से शेष रहे गये हो उन्हे भी शीघ्र की डोज लगवाने का अग्रह किया गया है।


हीट स्ट्रोक से बचने, खूब पानी पियें


बढ़ती गर्मी में लू की चपेट में आने से बचने के लिये पर्याप्त मात्रा में पानी पीते रहें। नींबू पानी, छाछ, लस्सी, जूस और ओआरएस का घोल शरीर को पानी की कमी से बचाए रखता है। तरबूज, खरबूजा, संतरा, अंगूर, अनानास, खीरा आदि अधिक पानी की मात्रा वाले फल और सब्जियां खाएँ। घर से निकलते वक्त पानी की बॉटल साथ रखें।      घर से बाहर निकलते वक्त अपने सिर को टोपी, दुपट्टे, छाता, गमछा या किसी अन्य कपड़े से ढक कर ही निकलें, सीधी धूप में आने से बचें। अगर बाहर निकलना आवश्यक न हो, तो घर में ही रहें और आवश्यक काम हो सके तो सुबह और शाम करें। टीवी, रेडियो, समाचार-पत्र आदि के माध्यम से तापमान पर नजर रखें।घर के ऐसे दरवाजे और खिड़कियाँ, जो सीधे धूप के प्रभाव में रहते हैं, उन्हें बंद रखें या पर्दे डालकर रखें। इन्हें रात में शुद्ध हवा के लिये खोलें।बच्चे, गर्भवती महिलाएं, मानसिक रोगी, ब्लड प्रेशर, हृदय रोग आदि गंभीर बीमारियों से ग्रसित व्यक्ति अतिरिक्त सावधानी बरतें। सामान्यतः शरीर का तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस से 37.2 डिग्री सेल्सियस होता है। लू लगने पर तापमान में बढ़ोतरी, घमोरियां, हाथ-पाँव और टखनों में सूजन, बेहोशी, मांसपेशियों में ऐंठन आदि हो सकती हैं। हीट स्ट्रोक हृदय, श्वसन और किडनी के मरीजों को परेशानी में डाल सकता है।  अगर आप धूप से आएँ हैं और चक्कर, बेहोशी, जी मचलाना, उल्टी, सिरदर्द, तीव्र, प्यास और साँस-धडक़न तेज हो गई है, तो फौरन ठंडे स्थान पर पहुँचे और ठंडे पेय पदार्थ लेना शुरू कर दें। खाना बनाते समय दरवाजा और खिडक़ी खोलकर रखें। चाय, काफी, साफ्ट ड्रिंक और जिनमें अधिक मात्रा में शक्कर होती है ऐसे पेय पदार्थों का सेवन न करें। यह पदार्थ शरीर के जल को कम करते हैं और पेट में मरोड़ उत्पन्न करते हैं। बासी भोजन करने से बचें। अधिकतम पानी का सेवन सर्वोत्तम है। अगर एक घंटे से अधिक समस्या रहती है, तो चिकित्सकीय सलाह लें।


भू अधिकार ऋण पुस्तिका के लिए किसानों को अब पटवारी के पास जाने की जरूरत नहीं


भू अधिकार ऋण पुस्तिका प्राप्त करने के लिए अब किसानों को पटवारी के पास जाने की जरूरत नहीं है। राज्य शासन द्वारा भू अधिकार ऋण पुस्तिका को ऑनलाइन कर दिया गया है। कोई भी व्यक्ति अपनी भूमि से संबंधित भू अधिकार ऋण पुस्तिका को नजदीकी के कियोस्क सेंटर अथवा कामन सर्विस सेंटर या स्वयं के मोबाईल से निर्धारित शुल्क जमा कर प्राप्त कर सकते हैं।  कृषक स्वयं खसरा बी-1, भू अधिकार ऋण पुस्तिका प्राप्त करने के लिए पटवारियों के चक्कर नहीं लगाएं बल्कि स्वयं ऑनलाइन प्राप्त करें।


स्नातकोत्तर उपाधि की पात्रता वाले अभ्यर्थियों का दस्तावेज सत्यापन 11 और 12 मई को


शिक्षक पात्रता परीक्षा में सह-विषय में स्नातकोत्तर उपाधि की पात्रता वाले अभ्यर्थियों का लोक शिक्षण संचालनालय के परिपत्र 19 अप्रैल 2022 के अनुसार 11 मई और 12 मई 2022 को दस्तावेज सत्यापन किया जायेगा। सह-विषय में स्नातकोत्तर उपाधि अर्जित करने वाले उच्च माध्यमिक शिक्षक की प्राविधिक चयन सूची और प्रतीक्षा सूची में सम्मलित अभ्यर्थियों की सूची एज्यूकेशन पोर्टल और एमपी ऑनलाईन पोर्टल पर अपलोड की गई है। आयुक्त लोक शिक्षा श्री अभय वर्मा ने बताया कि अभ्यर्थियों का दस्तावेज सत्यापन के लिए अभ्यर्थी अपने मूल दस्तावेजों एवं दो स्व-प्रमाणित छायाप्रतियों के साथ निर्धारित तिथि और समय पर दस्तावेज सत्यापन केन्द्र पर उपस्थित होकर दस्तावेज सत्यापन कराएंगे। 


मिशन अंकुर बच्चों की प्राथमिक शिक्षा की नींव से जुड़ा हुआ कार्यक्रम


मिशन अंकुर मुहिम देश के भावी भविष्य निर्माता हमारे बच्चों की प्राथमिक शिक्षा की नींव से जुड़ा हुआ कार्यक्रम हैं। आप सभी को इस मुहिम को मजबूती देनी हैं। आपकी भूमिका निपुण भारत अभियान के मिशन अंकुर मुहिम के उद्देश्यों और विज़न को शिक्षकों तक पहुँचाने में अति महत्वपूर्ण है। संचालक राज्य शिक्षा केंद्र श्री धनराजू एस निपुण भारत अभियान के मिशन अंकुर मुहिम में जिला स्रोत समूह के प्रतिनिधियों के प्रशिक्षण सत्र को संबोधित कर रहे थे। श्री धनराजू ने कहा कि सभी स्रोत समूह के व्यक्तियों को प्रभावी रूप से जिलों के शिक्षकों को प्रशिक्षित करना है। उन्होंने अपेक्षा की कि जिस तरह कोविड के दौरान बच्चों का अध्ययन जारी रखने में उल्लेखनीय योगदान रहा, पाँचवीं-आठवीं की परीक्षा में सहयोग और राष्ट्रीय उपलब्धि सर्वे में मेहनत की, उसी तरह ही सभी इस मुहिम को भी सफलता दिलाएगे।  राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा राज्य स्तर पर जिला स्रोत्र समूह का पाँच दिवसीय प्रशिक्षण 27 अप्रैल 2022 से भोपाल के प्रगत शैक्षिक अध्ययन संस्थान और आइकफ प्रशिक्षण केंद्र में प्रारम्भ किया गया है। जिला स्रोत्र समूह के व्यक्ति अपने-अपने जिलों में मिशन अंकुर के सम्बन्ध में मैदानी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षण देंगे। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर निपुण भारत अभियान में मिशन अंकुर शुरू किया गया है। नई शिक्षा नीति में शामिल यह कार्यक्रम कक्षा पहली से तीसरी तक के विद्यार्थियों में बुनियादी साक्षरता और संख्या ज्ञान को रोचक और सरल तरीके से पढ़ाने के लिए चलाया जा रहा है। जिससे बच्चों में पठन, लेखन और गणित की मूलभूत दक्षताएँ विकसित हो सके। मिशन अंकुर में 2026 तक लक्ष्य प्राप्त किये जाने हैं। मिशन अंकुर में बच्चों में बेसिक कांसेप्ट को क्लीयर करने के लिए फाउंडेशन लिटरेसी को खेल-खेल में सिखाया जाएगा। साथ ही नंबर सिस्टम को समझाने के लिए खासतौर पर न्यूमेरेसी प्रोग्राम चलाया जाएगा। खेल के जरिए बच्चों में चीजों को सीखने की ललक बढ़ेगी। साथ ही अलग-अलग कार्यक्रम और एक्टिविटी के जरिए कक्षाएँ आयोजित होने से बच्चें सरलता से पढ़ाई कर सकेंगे। 


ऑनलाइन फ्राड कॉल्स से सतर्क रहने की सलाह


जिला प्रशासन ने नागरिकों से असामान्य रूप से रिटर्न या सस्ते लोन देने वाली गैर-वित्तीय संस्थाओं के प्रति सावधान और सचेत रहने का आग्रह किया है। आम नागरिकों से ऐसी संस्थाओं के पंजीयन के प्रति जागरूक रहने एवं उनकी प्रामाणिकता के संबंध में पहले जाँच पड़ताल करने की अपील की गयी है। ऐसी संस्थाओं के जमाकर्ताओं के लिये जागरूकता अभियान भी चलाया जायेगा। सभी संबधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं कि वे समय-समय पर ऐसी संस्थाओं में जमाकर्ताओं के हितों का संरक्षण अधिनियम और अनियमित जमा प्रतिबंध अधिनियम के प्रावधानों का सख्ती से पालन सुनिश्चित करें। जमाकर्ताओं और आम जनता और सरकार के बीच परस्पर विश्वास बनाने रखने के लिये दोषी संस्थाओं पर सख्ती बरतते हुए कार्रवाई जारी रखने के निर्देश दिये गये हैं।


डी.ए.पी. एवं यूरिया खाद के अग्रिम उठाव की अपील


किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा सभी कृषक बंधुओं से कहा है कि आवश्यकता के अनुसार यूरिया एवं डीएपी खाद का अग्रिम उठाव करने की अपील की है। आगामी खरीफ मौसम को दृष्टिगत रखते हुये कृषकों की आवश्यकता के लिए यूरिया, डी.ए.पी., सुपर, एवं एन. पी. के. आदि उर्वरकों का पर्याप्त भण्डारण किया जा रहा है। उर्वरकों की लगातार रैक जिलों में लग रही हैं एवं समस्त सेवा सहकारी समितियों एवं निजी उर्वरक विक्रेताओं के पास इन उर्वरकों का पर्याप्त भण्डारण है। कृषक भाईयों से आग्रह है कि खरीफ मौसम में बोई जाने वाली फसलों के लिए आवश्यकता अनुसार उर्वरकों का अग्रिम उठाव करें। जिससे पिछले वर्ष की भांति कृषकों को बाद में परेशानियों का सामना न करना पड़े ।


राज्य स्तरीय खेलवृत्ति के लिए आवेदन 31 मई तक


मध्यप्रदेश शासन के खेल और युवा कल्याण विभाग द्वारा 1 अप्रैल 2021 से 31 मार्च 2022 के मध्य आयोजित अधिकृत राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में पदक विजेता जिले के प्रतिभावान खिलाड़ियों से वर्ष 2022 की राज्य स्तरीय खेलवृत्ति के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं। अधिकृत राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक विजेता खिलाड़ी को 10,000 रूपये, रजत पदक पर 8,000 रूपये एवं कास्य पदक पर 6,000 रूपये खेलवृत्ति राशि प्रदान करने का प्रावधान हैं। वर्ष 2022 की खेलवृत्ति के लिए आवेदन 31 मई तक स्वीकार किए जा सकेंगे। खेलवृत्ति के लिए निर्धारित दिशा निर्देश व नियमावली विभागीय बेवसाइट पर उपलब्ध है।


गौपालन एवं गौ संवर्धन बोर्ड को दान करने पर मिलती है आयकर में छूट


आयकर विभाग द्वारा मध्यप्रदेश गौपालन एवं गौ संवर्धन बोर्ड को 80-जी (5) (V1) आयकर नियम 1961 के अंतर्गत छूट प्राप्त है। बोर्ड को www.gopalanboard.mp.gov.in पर ऑनलाइन पेमेंट के माध्यम से दान दिया जा सकता है। बोर्ड का बैंक खाता क्रमांक 10078152744 भारतीय स्टेट बैंक आईएफएससी IFSC SBIN0030388 शाखा नर्मदा भवन भोपाल है। दान की राशि आरटीजीएस/एनईएफटी करने पर दानदाताओं के नाम, पिता का नाम, वर्तमान का पता, पेन नंबर और आरटीजीएस/एनईएफटी का रेफ्रेंस नंबर और दिनांक बोर्ड को mpgopalanboard@gmail.com पर ईमेल के माध्यम से भेजना होगी। दानदाताओं से अपील है कि गौशालाओं में आश्रित गौवंश के पालन एवं संवर्धन में सहयोग प्रदान करने के लिए अधिक से अधिक दान करें एवं आयकर में प्राप्त छूट का लाभ उठाएं।


पशुओं को लू से बचाने के लिए सलाह जारी


पशु चिकित्सा विभाग ने गर्मी के मौसम में पशुओं को लू से बचाने के लिए सलाह जारी की है। उन्होंने बताया कि गर्मी के मौसम में जब बाहरी वातावरण का तापमान अधिक हो जाता है तो ऐसी स्थिति में पशुओं को ज्यादा देर पर रखने से या गर्म हवा के झौंकों के सम्पर्क में आने पर लू लगने का खतरा रहता है। गर्मी के मौसम में दुग्धोत्पादन एवं शारीरिक क्षमता बनाये रखने के लिये पशुओं को हरे चारे की अधिक मात्रा खिलाना चाहिये। पशुओं को हवादार पशु गृह अथवा छायादार वृक्ष के नीचे रखें, पशु गृह को ठण्डा रखने के लिये दीवारों के उपर जूट की टाट लटकाकर उस पर थोड़ी-थोड़ी देरे में पानी का छिड़काव करते रहना चाहियें, ताकि बाहर से आने वाली हवा में ठंडक बनी रहे। पंखे या कूलर का यथा संभव उपयोग करें। कम से कम 4 बार स्वच्छ एवं ठंडा जल पिलायें, साथ ही संतुलित आहार के साथ-साथ उचित मात्रा में मिनरल मिक्सचर देना चाहिये। भूसा गीला करके खिलाना चाहिये, पानी में नमक अवश्य दें एवं पशुओं को चराने के लिये सुबह जल्दी छोड़ना चाहिये।


संनिर्माण कर्मकार मंडल अन्तर्गत पंजीयन श्रमिक से की अपील


मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार मंडल अंतर्गत पंजीकृत ऐसे समस्त श्रमिक जिनके पंजीयन कार्ड की वैधता समाप्त हो चुकी है, उनसे अपील की गई है कि नवीनीकरण प्रक्रिया का पालन कर नवीनीकरण करवाएं। पंजीयन कार्ड के नवीनीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेज जैसे मूल आवेदन, समग्र परिवार की जानकारी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक, पासपोर्ट साइज फोटो तथा विगत 1 वर्ष में 90 दिवस कर्मकार श्रमिक के रूप में नियोजित रहने संबंधी प्रमाण-पत्र के साथ अपना आवेदन स्थानीय लोक सेवा केंद्र ग्राम पंचायत या नगरी निकाय के माध्यम से जमा करें। अपीलीय प्रक्रिया मध्य प्रदेश भवन एवं संनिर्माण कर्मकार मंडल अंतर्गत पंजीकृत ऐसे समस्त समीप जिनके पंजीयन को भौतिक सत्यापन के दौरान 20 वर्ष अपात्र चिन्हित किया जा चुका है वे श्रमिक अपनी पात्रता के दस्तावेज सहित अपनी अपील ग्रामीण क्षेत्र में ग्राम पंचायत के माध्यम से मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को तथा शहरी क्षेत्र में आयुक्त अथवा नगर पालिका अधिकारी के समक्ष प्रस्तुत करें। श्रमिक के पंजीयन की पात्रता की जांच समग्र आईडी अथवा पोर्टल का उपयोग कर http://labour.mp.gov.in/ public/BenifitStatus.aspx के द्वारा की जा सकती है। आवश्यक दस्तावेजों में मूल अपील, आवेदन, समग्र परिवार की जानकारी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक, पासपोर्ट साइज फोटो तथा विगत 1 वर्ष में 90 दिवस कर्मकार श्रमिक के रूप में नियोजित रहने संबंधी लॉटरी किया व प्रमाण पत्र शामिल है।

कोई टिप्पणी नहीं: