विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 06 मई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 मई 2022

विदिशा (मध्य प्रदेश) की खबर 06 मई

स्मार्ट क्लास से मिलेगी बच्चो को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा - विधायक शशांक भार्गव


vidisha news
विदिशाः- उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय में र्स्माट क्लास का शुभारंभ विधायक शशांक भार्गव द्वारा किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता डी.ई.ओ. अतुल मुदगल ने की विशेष अतिथि के तौर पर शहर कांग्रेस अध्यक्ष सुरेश मोतियानी, दरबार सिंह राजपूत, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष अजय कटारे, पूर्व सरपंच दीपक कपूर उपस्थित रहे। कार्यक्रम के शुभारंभ में विधायक प्राचार्य श्रीमति इंदुमती खरे, विजय श्रीवास्तव, अवधेश श्रीवास्तव आदि ने अतिथियों का स्वागत किया। इस अवसर पर संबोधित करते हुए विधायक शशांक भार्गव ने कहा कि शिक्षा से ही मानव का विकास होता हे शासकीय विद्यालयों में भी विश्वस्तरीय शिक्षा मिल सके इसी उद्देशय से स्मार्ट क्लास बनवाई जा रही है। अब जिम्मोदारी शाला स्टाफ की है कि वे इस सेटअप की उचित देखभाल करे जिससे आने वाले लंबे समय तक बच्चो को इसका लाभ मिल सके। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डी.ई.ओ. अतुल मुदगल ने कहा कि विधायक जी की निधी से पिछले वर्ष 10 एवं इस वर्ष 11 शासकीय विद्यालयों में स्मार्ट क्लास बनबाई गई है। आज से दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया है जिससे स्कूल का स्टाफ स्मार्ट क्लास का ऑपरेटिंग सिस्टम सीख सके।  कार्यक्रम का संचालन अवधेश श्रीवास्तव ने एवं आभार प्रदर्शन संस्था प्राचार्य श्रीमति इंदुमती खरे ने व्यक्त किया इस अवसर पर विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी श्रीमति नवनीत पाडे प्राचार्य लश्करपुर, वीके जैंन, आर.के.जैंन, जेपी माहोर, सुरेश शर्मा, विजय जैंन, घनश्याम शर्मा, उमेश ताम्रकार, हरिहर चजुर्वेदी, मायक नामदेव, लक्ष्मी शर्मा, रेखा सिंह, हेमलता शर्मा, सहित शाला स्टाफ उपस्थित रहा।


ओटीपी शेयर ना करें और ना ही किसी व्यक्ति को पर्सनल जानकारी दें


कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव ने समस्त अधिकारी, कर्मचारी एवं बीएलओ को निर्देश दिए हैं कि किसी भी फ्रॉड व्यक्ति को ओटीपी या अन्य पर्सनल जानकारी ना दें। अज्ञात फ्रोड व्यक्ति द्वारा जिला निर्वाचन कार्यालय का ऑपरेटर बोल कर अधिकारियों एवं बीएलओ को फोन किया जाकर पर्सनल आधार कार्ड, वोटर कार्ड की जानकारी ली जा रही है। ऐसी शिकायतें सामने आ रही हैं। जिससे सावधान और सचेत रहने के लिए कहा गया है। आम जनों से भी अपील की गई है कि वह किसी अनजान व्यक्ति को फोन पर अन्य पर्सनल जानकारी ना दे अथवा ओटीपी शेयर ना करें।


लाडली लक्ष्मी उत्सव का आयोजन


लाडली लक्ष्मी उत्सव 2 मई से 11 मई 2022 तक मनाया जा रहा है। महिला एवं बाल विकास विभाग के जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री बृजेश शिवहरे ने बताया कि लाडली लक्ष्मी उत्सव का जिला स्तरीय कार्यक्रम दिनांक 8 मई 2022 को एसएटीआई कॉलेज के कैलाश सत्यार्थी हॉल में सांय छह बजे से आयोजित किया जा रहा है। स्थानीय कार्यक्रम के साथ मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान लाल परेड ग्राउंड भोपाल से सांय सात बजे वेबकास्ट के माध्यम से कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।


लाड़ली लक्ष्मी उत्सव का राज्य स्तरीय प्रमुख कार्यक्रम 8 मई को भोपाल में आयोजित


मुख्यमंत्री जी के मुख्य आतिथ्य में लाड़ली लक्ष्मी उत्सव का राज्य स्तरीय प्रमुख कार्यक्रम रविवार 8 मई 22 को मोतीलाल नेहरू स्टेडियम, लाल परेड ग्राउन्ड भोपाल में सायंकाल में आयोजित किया गया है। राज्य स्तरीय कार्यक्रम का सीधा प्रसारण वेबकास्ट के माध्यम से किया जाएगा, जिसकी वेब लिंक पृथक से उपलब्ध कराई जाएगी। राज्य स्तरीय कार्यक्रम के सीधे प्रसारण से ग्राम पंचायत स्तर पर सभी लाड़ली बालिकाएं व उनके अभिभावक एवं शहरी स्तर पर स्थानीय लाड़ली बालिकाएं एवं उनके अभिभावक टेलीविजन, मोबाईल के माध्यम से कार्यक्रम से जुड़ेंगे। इस हेतु ग्राम पंचायत भवनों में उपलब्ध टेलीविजन सेट के माध्यम से आवश्यक बैठक व्यवस्था करते हुए कार्यक्रम के सीधे प्रसारण की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इसके अतिरिक्त आंगनबाड़ी केन्द्रों में भी लाड़ली बालिकाओं एवं उनके अभिभावकों की बैठक व्यवस्था करवाते हुए प्रसारण से जुड़ने की व्यवस्था की जाए। जिला मुख्यालयों पर स्थित एनआईसी कक्षों, सभागारों में कार्यक्रम के प्रसारण की व्यवस्था की जाए। इसी प्रकार शहरी क्षेत्रों के प्रमुख स्थानों, सामुदायिक भवनों अथवा सभागृहों में बड़ी स्क्रीन के माध्यम से कार्यक्रम के प्रसारण की व्यवस्था की जाए, जिससे लाड़ली बालिकाएं एवं उनके अभिभावक माननीय मुख्यमंत्री जी के उद्बोधन को सुगमता से पूरा देखा- सुन सकें। राज्य स्तरीय लाड़ली लक्ष्मी उत्सव कार्यक्रम के संबंध में शहर के प्रमुख स्थानों पर बैनर पोस्टर के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। जारी पत्र में सभी जिलों के कलेक्टरों से अपेक्षा व्यक्त की गई है कि कृपया इस संबंध में सर्वसंबंधितों को आवश्यक निर्देश देते हेतु कार्यक्रम का गरिमामय आयोजन करवाने का कष्ट करें। 


अन्नोत्सव का आयोजन सात को जिले के दस लाख से अधिक हितग्राही लाभांवित


प्रत्येक माह की सात तारीख को अन्नोत्सव का आयोजन किया जाता है इस दिन शासकीय उचित मूल्य दुकानो के माध्यम से जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में हितग्राहियों को निःशुल्क राशन वितरण किया जाता है। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि जिले में कुल दो लाख 26 हजार 695 परिवारों के दस लाख 18 हजार 790 हितग्राही लाभांवित होते है। कुल परिवारों में एएवाय के 21 हजार 683 तथा 20 हजार चार हजार 453 पीएचएच परिवार है। जिले के लिए प्रत्येक माह आवंटित खाद्यान्न की जानकारी इस प्रकार से है। गेंहू 4356302 किलोग्राम, चावल 1034868 किलोग्राम, नमक 226136 किलोग्राम, शक्कर 21683 किलोग्राम, वितरण मान एएवाय कार्डधारकों को 35 किलो खाद्यान्न प्रत्येक परिवार को, पीएचएच कार्डधारकों को पांच किलो खाद्यान्न प्रति व्यक्ति के मान से, पीएमजीकेएवाय योजना के तहत आवंटित खाद्यान्न में गेंहू 4072888 किलोग्राम, चावल 1018222 किलोग्राम, वितरण मान एएवाय एवं पीएचएच कार्डधारकों को क्रमशः पांच-पांच किलो प्रति व्यक्ति के मान से खाद्यान्न आवंटित किया जाता है। गौरतलब हो कि जिले में प्रत्येक माह की एक से 15 तारीख तक नियमित खाद्यान्न का वितरण जबकि 16 से 31 तक पीएमकेएवाय के पात्रताधारकों को खाद्यान्न का वितरण किया जाता है। 


छात्रावासों में प्रवेश प्रक्रिया हेतु प्रोफाइल पंजीयन अनिवार्य


शैक्षणिक सत्र 2022-23 के लिए जिले में संचालित अनुसूचित जाति एवं जनजाति छात्रावासों का संचालन एमपीटॉस्क के द्वारा किया जाएगा कि जानकारी देते हुए आदिम जाति एवं अनुसूचितज जाति विकास विभाग के जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी के  अनुसार जिले के ऐसे छात्र जो आदिम जाति एवं अनुसूचित जाति विकास के द्वारा संचालित छात्रावासों में प्रवेश लेना चाहते है इसके लिए उन्हें प्रोफाइल पंजीयन कराना अनिवार्य किया गया है। जिले के सभी छात्रावासों में प्रवेश प्रक्रिया हेतु प्रोफाइल पंजीयन की अनिवार्यतः को स्पष्ट करते हुए विभाग के जिला संयोजक ने बताया कि प्रवेश हेतु इच्छुक छात्र-छात्राएं अपनी प्रोफाइल पंजीयन कार्य अभी से पूर्ण कर लें ताकि प्रवेश प्रक्रिया में किसी भी प्रकार की बाधा ना आने पाएं। छात्रावास में प्रवेश और प्रोफाइल पंजीयन के कार्य में किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो निराकरण के लिए संबंधित क्षेत्र के छात्रावास अधीक्षक एवं विभागीय मण्डल संयोजक से संपर्क कर प्राप्त की जा सकती है। 


टॉस्क फोर्स समिति की बैठक आज


जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेला आयोजन हेतु जिला टॉस्क फोर्स समिति की बैठक शनिवार सात मई को आयोजित की गई है। यह बैठक कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव की अध्यक्षता में नवीन कलेक्ट्रेट के बेतवा सभागार कक्ष में पूर्वान्ह 11 बजे से शुरू होगी। 


दो दिवसीय जिला स्तरीय स्वास्थ्य मेला 18 एवं 19 को


आजादी का अमृत महोत्सव के उत्सव तहत जिले के सभी सातो विकासखण्डों में एक-एक खण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेला का आयोजन 18 से 28 अपै्रल के मध्य आयोजित किए गए थे। खण्ड स्तरीय स्वास्थ्य मेलो के उपरांत जिला स्तरीय दो दिवसीय स्वास्थ्य मेला का आयोजन 18 एवं 19 मई को किया जाएगा। जिला स्तरीय मेले के मद्देनजर किए जाने वाले तमाम प्रबंधों के संबंध में संबंधित विभागों के अधिकारियों को कलेक्टर श्री उमाशंकर भार्गव के द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए है। 


सचिव निलंबित, जीआरएस को शोकॉज नोटिस


जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट ने शुक्रवार को नटेरन जनपद पंचायत के ग्रामों का औचक भ्रमण कर जलाभिषेक अभियान के तहत संपादित किए जाने वाले कार्यो का निरीक्षण कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। जिला पंचायत सीईओ डॉ भरसट ने ग्राम पंचायत करैया के सचिव हीरालाल मैना को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का तथा ग्राम के जीआरएस लेखराज साहू जीआरएस संविदा समाप्ति का नोटिस जारी किया गया है। गौरतलब हो कि नटेरन जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत करैया में निरीक्षण के दौरान ग्राम सचिव के द्वारा पुष्कर धरोहर अभियान के अंतर्गत पुराने तालाबों का जीर्णोद्वार तथा नवीनीकरण संबंधी कार्यो में लापरवाही बरतने के फलस्वरूप ग्राम के सचिव श्री हीरालाल मैना को तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है निलंबन अवधि में श्री मैना को नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा और उनका मुख्यालय नटेरन जनपद पंचायत नियत किया गया है। 


राज्य स्तरीय जैवविविधता पुरस्कार योजना- के लिये आवेदन 15 अक्टूबर तक आमंत्रित


मध्यप्रदेश राज्य जैवविविधता बोर्ड द्वारा प्रदेश में जैवविविधता संरक्षण को प्रोत्साहन देने के उद्देश्य से वार्षिक राज्य स्तरीय जैवविविधता पुरस्कार योजना-2022 प्रारंभ की गई है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य जैवविविधता संरक्षण के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले लोगों की पहचान करना एवं उन्हें प्रोत्साहन करना है। जिला पंचायत के सीईओ डॉ योगेश भरसट ने बताया कि राज्य जैवविविधता पुरस्कार योजना-2022 के लिये व्यापक प्रचार-प्रसार कर प्रविष्टियों का युक्तियुक्त परीक्षण कर प्रत्येक श्रेणी में एक-एक श्रेष्ठतम प्रविष्टि हेतु 31 अक्टूबर 2022 तक आवेदन  जमा कराये जा सकते है। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिये बेवसाइट www.mpsbb.nic.in  पर देखी जा सकती है।


किसानों को खाते की नकल और अक्स देखने की निःशुल्क सुविधा


राष्ट्रीय भू-अभिलेख आधुनिकीकरण कार्यक्रम के अन्तर्गत आयुक्त भू-अभिलेख एवं बन्दोबस्त ने ई-खसरा परियोजना को लागू किया है। जिसके तहत अधीक्षक भू-अभिलेख, तहसीलदार नायब तहसीलदार एवं समस्त पटवारियों की आई.डी. मोडीफिकेशन अपडेशन कार्य के लिए बनाई गई है। परियोजना के अन्तर्गत अनुबंधित फर्म द्वारा सभी तहसीलों में आई.टी. सेन्टर स्थापित किये गये है। जिनसे कृषकों को उनकी मांग अनुरुप प्रमाणित खसरा बी-1, नक्शा की प्रतिलिपियाँ नियत शुल्क प्रति पृष्ठ 30 रुपये लेकर उपलब्ध कराई जा रही है। कृषक अपने खाते की नकल, खेत का अक्श एमपी भू-अभिलेख पोर्टल पर निःशुल्क देख सकते है।


अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस 15 मई को मनाया जायेगा


संयुक्त राष्ट्र के आव्हान पर अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस हर साल 15 मई को मनाया जाता है। अंतर्राष्ट्रीय दिवस का उद्देश्य परिवार के महत्व को स्वीकार करना और दुनिया भर के लोगों को परिवारों को प्रभावित करने वाले मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाने का है। यह वार्षिक उत्सव इस बात को दर्शाता है कि वैश्विक समुदाय परिवारों को समाज की प्राथमिक इकाईयों के रूप में जोड़ता है। यह दिन सभी देशों में परिवारों के सर्वोत्तम हित में एक शक्तिशाली जागृति कारक के रूप में कार्य करता है। अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस की थीम अधिकांशतः बच्चों की शिक्षा, गरीबी, पारिवारिक संतुलन और परिवार के परिप्रेक्ष्य में सामाजिक मुद्दों के इर्द-गिर्द घूमती है। इस वर्ष की थीम ‘‘फैमिलीज एण्ड न्यू टेक्नालॉजी’’ परिवार व नवीन तकनीकी है। परिवार के युवा सदस्य अपने दादा-दादी, नाना-नानी को नई तकनीकी के उपयोग को सीखने-समझने में मदद करें, ऐसे ही बड़ी उम्र के सदस्य युवाओं में मूल्यों को स्थापित करने की भूमिका निभायें तो बेहतर परिवार व समाज की रचना की जा सकती है। विश्व परिवार दिवस 15 मई के अवसर का उपयोग हम इस चर्चा को आगे बढ़ाने के लिए कर सकते है।   मध्यप्रदेश में राज्य आनंद संस्थान, आनंद विभाग भी एक स्वस्थ समाज के निर्माण हेतु परिवार के महत्व व उपयोगिता के प्रति जागरूकता फैलाने हेतु प्रतिबद्ध है। अंतर्राष्ट्रीय परिवार दिवस पर संस्थान उत्प्रेरक के रूप में अपने आनंदकों का स्वैच्छिक प्रयासों के द्वारा जागरूकता फैलाने हेतु आव्हान करता है। सभी आनंदक अपनी सक्रिय एवं सकारात्मक भूमिका का निर्वहन करते हुए विभिन्न प्रकार की गतिविधियां आयोजित कर सकते हैं।      सेवानिवृत्त परिवार के सदस्यों से उनके सेवाकाल के संस्मरण सुन सकते हैं और उनका संकलन कर सकते हैं। यदि सेवानिवृत्त सदस्य साहित्यकार, कवि, कलाकार अथवा किसी भी प्रकार के सृजनात्मक कार्यों में संलग्न है तो नई पीढ़ी के बच्चे उन के कार्यों पर शॉर्ट फिल्म अथवा वीडियो बनाकर सोशल मीडिया के माध्यम से उन्हें प्रकाशित व प्रसारित कर सकते हैं। सामुदायिक समूह और संगठन परिवारों की जरूरतों, समस्याओं और सेवाओं की पहचान और समीक्षा करते हुए इस दिन को मना सकते हैं। वे परिवारों और युवाओं से जुड़ी जरूरतों या सामुदायिक परियोजनाओं में स्थानीय परिवार के लिए धन एकत्रित और प्रायोजित कर सकते हैं। सहभागिता आनंद संस्थान के डिप्लॉएड, मास्टर ट्रेनर, आनंदम सहयोगी एवं आनंदको द्वारा कार्यक्रम के स्वरूप के आधार पर इनमें विद्यार्थी, गृहणी, व्यवसायी, वृद्ध, स्वैच्छिक संस्थाएं, युवा वर्ग, काउंसलर, समाजसेवी, मोटिवेशनल स्पीकर्स, शिक्षाविद, विचारक, बुद्धिजीवी वर्ग को ऑनलाइन सहभागिता हेतु प्रेरित कर सकते हैं। कार्यक्रम में संगोष्ठी अथवा विमर्श के माध्यम से वक्ता अपने विचार और सुझाव शेयर कर सकते हैं। 


तीन हितग्राहियों को मोटराइज्ड ट्राई साइकिलों का  वितरण


vidisha news
भारत सरकार की एडिफ योजना के अन्तर्गत आज शुक्रवार को जिला पंचायत परिसर में तीन दिव्यांगजनों को बैटरी से चलित मोटराइज्ड ट्राई साइकिलों का वितरण विदिशा विधायक शशांक भार्गव सहित अन्य की मौजूदगी में किया गया है। विधायक श्री शशांक भार्गव ने तीनों हितग्राहियों को मोटराइज्ड ट्राई साइकिल के प्रदाय हेतु विधायक द्वारा स्वेच्छा से 17 हजार रुपये की राशि का योगदान दिया है। सामाजिक न्याय विभाग के उपसंचालक डॉक्टर पी के मिश्रा ने बताया कि आज मोहनगरी निवासी श्री श्यामलाल राठौर, पूरनपुरा गली नंबर 3 निवासी श्री पूरन लाल पंथी तथा ग्राम ढोलखेड़ी निवासी श्री मंगल सिंह सेन इन तीनों दिव्यांगजनों को मोटराइज्ड ट्राई साइकिल का वितरण किया गया है, जिससे अब वह बिना किसी सहारे के आसानी से कहीं भी आ जा सकेंगे। डॉ मिश्रा ने बताया कि भारत सरकार की योजना एडिफ के अंतर्गत दिव्यांगजनों को सहायक उपकरण प्रदाय करने हेतु कार्य किए जाते हैं। दिव्यांगजनों की सहायता हेतु जो मोटराइज्ड ट्राई साइकिल वितरित की गई हैं। उनकी राशि 42 हजार रुपये है जिसमें  25 हजार रुपये भारत सरकार द्वारा प्रदान किए जाते हैं। आज के कार्यक्रम में अंशदान की राशि विधायक श्री शशांक भार्गव द्वारा हितग्राहियों को मोटराइज्ड ट्राई साइकिल वितरित करने हेतु प्रदाय की गई है।


सफलता की कहानी : लाडली लक्ष्मी योजना ने शैलजा के सपने पूरे करने में की मदद, डॉक्टर बनने का है सपना, लाडली शैलजा कराटे प्रतियोगिता में प्राप्त कर चुकी हैं गोल्ड मेडल


vidisha news
लाड़ली लक्ष्मी योजना विदिशा जिले की बालिकाओं के लिए वरदान साबित हो रही है। इस योजना का लाभ मिलने से बालिकाएं ना सिर्फ पढ़ लिखकर भविष्य में बड़े-बड़े सपने संजो रहे हैं। बल्कि अन्य प्रतियोगिताओं में सम्मिलित होकर मेडल भी प्राप्त कर रही हैं। ऐसी ही एक कहानी है विदिशा शहर के शिक्षक कॉलोनी वार्ड 21 में रहने वाली बालिका शैलजा दुबे की जिनका जन्म 12 अक्टूबर 2007 को हुआ था। घर में बालिका के जन्म से उनके माता पिता श्री महेश दुबे और श्रीमती भावना दुबे बेहद खुश थे और इससे ज्यादा खुशी उन्हें तब मिली जब उन्हें पता चला कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा लाड़ली लक्ष्मी योजना का शुभारंभ किया गया है। जिसके तहत लाडली बालिकाओं को पढ़ाई के समय  18 हजार रुपये एवं 21 वर्ष आयु पूर्ण करने के बाद शादी हेतु एक लाख रुपये की सहायता राशि का प्रावधान होने से उनका परिवार बेहद खुश था। बालिका शैलजा दुबे के पिता श्री महेश दुबे ने अपनी बेटी को लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ दिलाने हेतु आवेदन किया। बालिका योजना अंतर्गत पात्र होने से लाडली योजना का लाभ विभाग द्वारा स्वीकृत किया गया। बालिका के पिता द्वारा लाडली शैलजा का एडमिशन एक प्रायवेट स्कूल में कराया गया था। बालिका कक्षा दसवीं की परीक्षा में फर्स्ट डिवीजन से उत्तीर्ण हुई और परिवार का नाम रोशन किया। बालिका शैलजा दुबे ने बताया कि लाडली बालिकाओं को मुख्यमंत्री जी के सहयोग से मां तुझे सलाम कार्यक्रम के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय सीमा हुसैनीवाल बाघा बॉर्डर भ्रमण हेतु भेजा जा रहा है। तब लाडली शैलजा एवं उनके अभिभावकों द्वारा लाडली को भ्रमण पर भेजे जाने हेतु सहमति प्रदान की गई और शैलजा को अंतरराष्ट्रीय सीमा हुसैनीवाल वाघा बॉर्डर भ्रमण हेतु भेजा गया। इसके अलावा लाडली शैलजा दुबे जिला स्तर पर कराते प्रतियोगिता में गोल्ड मेडल प्राप्त कर चुकी हैं। लाडली शैलजा दुबे स्कूल स्तर पर आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों जैसे नृत्य, संगीत एवं नाटक जैसी प्रतियोगिताओं में भी सक्रिय रहती हैं। वर्तमान में लाडली आत्मरक्षा हेतु कराते की ट्रेनिंग ले रही हैं। बालिका भविष्य में डॉक्टर बनना चाहती हैं जिसमें लाडली के माता-पिता हर संभव प्रयास कर बालिका को प्रोत्साहित कर रहे हैं। लाडली शैलजा दुबे ने लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ मिलने पर मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के प्रति धन्यवाद व्यक्त किया है। 


सफलता की कहानी : लाडली जान्हवी ने दसवीं कक्षा में प्राप्त किए 85 प्रतिशत अंक अब पायलेट बनना चाहती हैं


vidisha news
मुख्यमंत्री जी द्वारा संचालित लाडली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत प्रदेश की बालिकाओं को पढ़ाई-लिखाई से लेकर निर्धारित आयु पूर्ण करने के उपरांत विवाह हेतु भी सहायता राशि मुहैया कराए जाने का प्रावधान है। जिसका लाभ लेकर विदिशा जिले में कई बालिकाएं पढ़ लिख रही हैं और इस योजना ने उनके माता-पिता की चिंता भी दूर की है। विदिशा शहरी क्षेत्र के वार्ड नंबर 13 कन्या शाला चोपड़ा स्कूल के सामने रहने वाली बालिका जान्हवी लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ लेकर शैक्षणिक क्षेत्र में अग्रसर हैं। उन्होंने कक्षा दसवीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत अंक प्राप्त कर जिले भर में अपने परिवार का नाम रोशन किया है। उनकी इस उपलब्धि से उनके माता पिता श्री जितेंद्र राव सिरके और श्रीमती रेनू सिरके काफी खुश हैं। उन्होंने बालिका जान्हवी को लाड़ली लक्ष्मी योजना का लाभ मिलने पर मुख्यमंत्री जी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया है। बालिका के पिता श्री जितेंद्र राव सिरके ने बताया कि उनकी बालिका का जन्म 1 जनवरी 2006 को हुआ था इसके बाद उन्हें लाडली लक्ष्मी योजना के संबंध में जानकारी मिली उन्होंने तुरंत अपनी बेटी को लाडली लक्ष्मी योजना का लाभ दिलाने हेतु आवेदन किया था। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत पढ़ाई के समय 18 हजार रुपये की राशि दी जाती है तथा 21 वर्ष आयु पूर्ण करने के उपरांत विवाह हेतु एक लाख रुपये की सहायता राशि का भी प्रावधान है। इसके अलावा बालिका जान्हवी सिरके मां तुझे सलाम कार्यक्रम के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय सीमा हुसैनीवाल बाघा बॉर्डर पर भ्रमण के लिए भी जा चुकी हैं उन्होंने बॉर्डर भ्रमण पर जाने पर खुशी जाहिर की है बालिका जान्हवी सिरके भविष्य में पायलट बनना चाहती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: