राशन कार्ड धारकों को अब कोटा से कम मिलेगा गेहूं - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 9 मई 2022

राशन कार्ड धारकों को अब कोटा से कम मिलेगा गेहूं

whee-quoa-reduce-in-rashon-card
नयी दिल्ली : बिहार, यूपी समेत 10 राज्यों के राशन कार्ड धारकों को अब गेहूं कम और चावल अधिक मिलेगा। केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत इन राज्यों को मिलने वे गेहूं का कोटा घटा दिया है। जबकि इसके तहत चावल का कोटा बढ़ा दिया गया है। इससे इन राज्यों में राशन कार्ड होल्‍डर्स को पहले के मुकाबले कम गेहूं म‍िलेगा। हालांकि केंद्र ने PMGKAY कोटे में यह बदलाव फिलहाल राज्यों के लिए ही किया है। बाकी 25 दूसरे राज्यों के कोटे यथावत जारी रहेंगे। जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार ने यह बदलाव मई से स‍ितंबर तक आवंट‍ित होने वाले गेहूं के कोटे को लेकर किया है। बिहार, यूपी और केरल में यह कोटा मई से और द‍िल्‍ली, गुजरात, झारखंड, मध्‍य प्रदेश, महाराष्‍ट्र, उत्‍तराखंड और पश्‍च‍िम बंगाल के गेहूं के कोटे में कमी जून माह से लागू होगी। इन सभी राज्यों में गेहूं के घटे हुए कोटे की भरपाई चावल से होगी। केंद्रीय खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि गेहूं की कम खरीद होना राज्यों के कोटे में कमी की मुख्‍य वजह है। हालांकि सूत्रों ने रूस—युक्रेन युद्ध के बीच विश्व की खाद्द जरूरतें पूरी करने के लिए भारत द्वारा की जा रही गेहूं आपूर्ति को भी एक बड़ी वजह बताया है। यह भी बताया गया कि केंद्र सरकार ने सभी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों से दो चरणों में व्यापक परामर्श के बाद यह फैसला लिया है।

कोई टिप्पणी नहीं: