मोदी सरकार दिल्ली में तोड़ने जा रही 53 मंदिर : ‘आप’ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 23 जून 2022

मोदी सरकार दिल्ली में तोड़ने जा रही 53 मंदिर : ‘आप’

/modi-government-is-going-to-destroy-53-temples-in-delhi-aap
नयी दिल्ली, 22 जून, आम आदमी पार्टी (आप)ने बुधवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के लोग देश भर में धर्म के नाम पर ड्रामा करते हैं और दिल्ली में 53 मंदिरों को तोड़ने की योजना बना रहे हैं। ‘आप’ के वरिष्ठ नेता एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने आज यहां संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा,“ भाजपा के लोग धर्म के नाम पर ड्रामा करते हैं। धर्म के नाम पर झगड़े कराएंगे, नफरत फैलाएंगे। दिल्ली में धर्म के नाम पर ड्रामा करेंगे और भाजपा के लोग धर्म का सबसे बड़ा ठेकेदार बनने का काम करेंगे, लेकिन दिल्ली में एक-दो नहीं, बल्कि 53 मंदिरों को तोड़ने की योजना है। भाजपा और नरेंद्र मोदी की सरकार दिल्ली में 53 मंदिर तोड़ने जा रही है। भाजपा को सामने आकर इसका जवाब देना पड़ेगा कि यही उनका असली चेहरा है। मोदी सरकार ने दिल्ली सरकार को पत्र लिखा है कि धार्मिक समिति से हमें अनुमति चाहिए। दिल्ली सरकार को केंद्र सरकार ने चिट्ठी लिखी है कि हमें दिल्ली में 53 मंदिरों को तोड़ने की अनुमति चाहिए।” श्री सिंह ने कहा,“ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता और भाजपा का यह असली चेहरा है। ये लोग दिल्ली के 53 मंदिरों को तोड़ने जा रहे हैं। जिनमें प्रभु श्रीराम, प्रभु श्रीकृष्ण, हनुमान, महादेव शिव, माता दुर्गा, साईं बाबा का मंदिर समेत कोई मंदिर नहीं छोड़ रहे हैं। भाजपा के लोगों को अपने चेहरे पर कालिख लगाकर घूमना चाहिए। भाजपा के लोग देश भर में धर्म और मंदिर के नाम पर ड्रामा करते हैं। दिल्ली में जहां आम आदमी पार्टी की सरकार है, वहां 53 मंदिर तोड़ने जा रहे हैं।’’ श्री सिंह ने मीडिया को एक कागजात दिखाते हुए कहा कि यह कागजात इस बात का सबूत है कि भाजपा के लोग हिन्दू धर्म के कितने बड़े विरोधी हैं। ‘आप’ मांग करती है कि 53 मंदिरों को तोड़ने के मामले में भाजपा को सामने आकर दिल्ली की जनता को जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि त्यागराज नगर में श्री काली मंदिर, श्री हनुमान मंदिर, श्री कृष्ण अध्यात्मिक कुटिर मंदिर, श्रीराम प्राचीन मंदिर, श्री गुरगांव वाली माता मंदिर, कस्तुरबा नगर में हनुमान मंदिर, प्राचीन पीपल महादेव मंदिर, रेलवे फूट ओवर ब्रिज के पास बना माता मंदिर, प्राचीन साईं धाम मंदिर, शिव मंदिर, प्राचीन काली माता मंदिर, दुर्गा माता मंदिर, प्राचीन शिव मंदिर, प्राचीन शीतला माता मंदिर, ब्लाक एम में बना शिव मंदिर, ब्लॉक एक में हनुमान मंदिर, ब्लॉक बी में शिव मंदिर, शिव बाल मंदिर, ब्लॉक एच के साईं मंदिर, सेवा नगर चौक के पास हनुमान मंदिर, प्राचीन महाकाली मंदिर, बालाजी मंदिर, प्राचीन सनातन धर्म मंदिर, श्री शिव हनुमान मंदिर, श्रीनिवासपुरी में शिद्धेश्वर हनुमान मंदिर, श्री मदेश्वर मंदिर महिला सत्संग, श्री देव सथानम मंदिर, श्री शनि मंदिर, साईं धाम मंदिर, नील कंठ महादेव मंदिर, श्री शक्ति हनुमान मंदिर, मोहम्मदपुर में विश्व व्यापी राम नाम जय योगी शिव मंदिर, नौरोजी नगर में आर्य समाज मंदिर, सनातन धर्म मंदिर, गुरुद्वारा नौरोजी नगर, सरोजनी नगर में प्राचीन शिव मंदिर, प्राचीन हनुमान मंदिर, साईं मंदिर बाबू मार्केट, पालिका आवास मंदिर, प्राचीन सिद्ध शक्ति पीठ मंदिर और शनि मंदिर को तोड़ने की योजना है। इसी तरह, नेताजी नगर में माता मंदिर, सर्वोदय विद्यालय के पास बना माता मंदिर, शिव मंदिर, शनि मंदिर, हनुमान मंदिर, डी-304 के पास बना शिव मंदिर, सी 240 के पास बना शिव मंदिर और सी-996 के पास बनी एक मजार को तोड़ने की योजना बनाई गई है।

कोई टिप्पणी नहीं: