बेतिया : 08 जून को विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 8 जून 2022

बेतिया : 08 जून को विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा

inspacion-in-beiya
बेतिया. जिले के सभी विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त शिविर कार्यालयों में 08 जून को विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा का आयोजन.रैयतों की शिकायतों/समस्याओं का वरीय पदाधिकारी करेंगे समाधान. जिले के सभी विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त शिविर कार्यालयों में दिनांक-08.06.2022 को विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा का आयोजन किया गया है.जिला के वरीय अधिकारियों द्वारा विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा की जाएगी तथा रैयतों की समस्याओं शिकायतों का समाधान किया जायेगा. लौरिया अंचल अंतर्गत (1) नगर पंचायत, चनपटिया के पुराने कार्यालय भवन में (2) पंचायत भवन, लखौरा, बुनियादी विद्यालय के निकट एवं (3) पंचायत भवन गुरवलिया बेलदार शिविर कार्यालय में रैयतों की शिकायत समस्याओं का समाधान किया जायेगा. इसी तरह चनपटिया अंचल अंतर्गत (1) सामुदायिक भवन, विशुनपुरवा (2) जिला परिषद डाक बंगला स्थित ट्रायसम भवन, लौरिया (3) सामुदायिक भवन, साठी पोखरा पर मझौलिया अंचल अंतर्गत (1) पंचायत भवन, सरिसवा (2) पंचायत भवन, महदीपुर (3) पंचायत सरकार भवन, बैठनिया तथा नौतन अंचल अंतर्गत (1) जगदीशपुर, बहुउद्देश्यीय भवन एवं (2) दक्षिण तेल्हुआ पंचायत सरकार भवन में रैयतों की शिकायतों/समस्याओं का समाधान किया जायेगा. इस निमित जिलाधिकारी, श्री कुंदन कुमार की अध्यक्षता में समीक्षात्मक बैठक सम्पन्न हुयी.जिलाधिकारी ने कहा कि भू-सर्वेक्षण कार्य के लिए संचालित विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त प्रक्रिया अंतर्गत नए सिरे से अधिकार अभिलेखों (खतियान) एवं मानचित्र का निर्माण कराया जा रहा है। बिहार विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त अधिनियम-2011 एवं नियमावली 2012 के प्रावधान अंतर्गत किए जाने वाले इस कार्य में सर्वेक्षण पूर्व गतिविधियां, किस्तवार, खानापुरी, सुनवाई, प्रारूप अधिकार अभिलेख एवं मानचित्र का प्रकाशन तथा लगान निर्धारण पश्चात अंतिम अधिकार अभिलेख एवं मानचित्र के प्रकाशन का कार्य किया जाना है. उन्होंने कहा कि यह कार्य सरकार के उच्च प्राथमिकता कार्यों में शामिल है। 08 जून को निरीक्षण एवं समीक्षा कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार विभिन्न स्तरों पर कराया जाए ताकि अधिक से अधिक रैयत शामिल होकर अपनी-अपनी समस्याओं/शिकायतों को रख सकें और उनका नियमानुकूल समाधान किया जा सके. उन्होंने कहा कि निरीक्षण के क्रम में शिविर स्तर पर उपलब्ध संसाधनों की समीक्षा एवं शिविर कार्यालय की सुरक्षा स्थिति, विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त कार्य से संबंधित पंजी अभिलेख एवं कागजातों के संधारण की स्थिति, विशेष सर्वेक्षण शिविर अंतर्गत पदस्थापित कर्मियों के विगत तीन माह की उपस्थिति, सर्वेक्षण पूर्व गतिविधियों यथा-गा्रमवार उद्घोषणा, रैयतों से स्वघोषणा की प्राप्ति , प्रपत्र-5 के संधारण की समीक्षा तथा राजस्व ग्राम वार ग्राम अभिलेख के संधारण की स्थिति, किश्तवार कार्य अंतर्गत त्रिसिमाना एवं ग्राम सीमा का सत्यापन तथा भू-खंडों के सत्यापन की स्थिति आदि की गहनता के साथ जांच की जाए. अपर समाहर्ता, पश्चिम चम्पारण, श्री नंदकिशोर साह द्वारा बताया गया कि विशेष निरीक्षण एवं समीक्षा का आयोजन सफलतापूर्वक करने के लिए सभी तैयारियां पूर्ण कर ली गयी है। रैयतों को विभिन्न माध्यमों से शिविर कार्यालयों में उपस्थित होकर अपनी शिकायतों समस्याओं से अवगत कराने हेतु प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है.उन्होंने अपील की है कि 08 जून को निरीक्षण एवं समीक्षा में रैयत निरीक्षण पदाधिकारी के समक्ष विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त से संबंधित अपनी समस्याओं एवं परिवादों को रख सकते हैं ताकि उन समस्याओं परिवारों के निराकरण के लिए आवश्यक कार्रवाई की जा सके। सर्वसाधारण अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर विशेष सर्वेक्षण एवं बंदोबस्त कार्य को सफल बनाएं.

कोई टिप्पणी नहीं: