सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 04 जून - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 जून 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 04 जून

सेवा, सुशासन, गरीब कल्याण, नवाचार, दृढ़ इच्छाशक्ति,श्री नरेन्द्रमोदी सरकार के इन ही 5 स्तंभों से 8 साल में संकल्प से सिद्धि की यात्रा का अमिट इतिहास लिखा है-आलोक शर्मा

  • आयोजित पत्रकारवार्ता में केंद्र एवं राज्य सरकार की उपलब्धियों विकास कार्यो की दी जानकारी

sehore news
सीहोर। 8 साल पहले यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री के बनने के बाद मोदी सरकार ने हमेशा गरीब कल्याण को प्राथमिकता दी है। केंद्र सरकार की हर योजना और हर नीति के पीछे गरीब रहा है। सेवा सुशासन और गरीब कल्याण ही मोदी सरकार का लक्ष्य है। मोदी सरकार ने जन कल्याण के लिए जन भागीदारी के साथ जन सरोकार और समर्पित जन जन की सरकार रही है। आज 2014 से पहले देश की बड़ी आबादी जिसमें खासकर महिलाएं थी, के बैंक खाते तक नहीं हुआ करते थे देश का गरीब मुख्यधारा की अर्थव्यवस्था का हिस्सा नहीं बन पाया था। मोदी सरकार के इन 8 सालों में इस देश में 45 करोड़ से ज्यादा जनधन के खाते खुलवा कर देश के गरीब को भी मुख्यधारा के अर्थ तंत्र का हिस्सा बनाया है। यह कार्य मोदी सरकार की अद्वितीय मिसाल है। मोदी सरकार के पहले देश मे एक दल की लम्बे समय तक सरकार केंद्र में रही लेकिन कभी उस गरीब के बारे में उन सरकारों ने जिसमे कांग्रेस का सबसे अधिक कार्यकाल रहा उस गरीब के बारे में नही सोचा जो झुग्गी में रहता था। अगर इनके बारे में किसी ने सोचा तो वो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है। आज देश में 2 करोड़ 39 लाख गरीब को उसके सपने के घर की चाबी सौपी गई है।  यह कहना है भारतीय जनता पार्टी मध्य प्रदेश के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं भोपाल नगर निगम के पूर्व महापौर युवा भाजपा नेता श्री आलोक शर्मा का जो उन्होंने आज क्रिसेंट रिसोर्ट में मोदी सरकार के 8 वर्ष पूर्ण होने पर मप्र भाजपा द्वारा मनाये जा रहे "सेवा-सुशासन-गरीब कल्याण" पखवाड़े के तहत आज आयोजित एक पत्रकार वार्ता में केंद्र की मोदी सरकार एवं मध्यप्रदेश की शिवराज सिंह चौहान की सरकार के विकास के कार्यों की जानकारी स्थानीय पत्रकारों को देते हुए कहे।  श्री आलोक शर्मा ने कहा कि 2014 से पहले 60 सालों में देश मे सिर्फ 55% घरों तक ही रसोई गैस की पहुंच हुआ करती थी । 2014 के बाद जब से मोदी सरकार आई सरकार ने अपने 8 सालों के कार्यकाल में देश के लगभग शत प्रतिशत परिवारों को इस दायरे में लाने का सफल प्रयास किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कोविड-19 में भारत ने "जान भी और जहान भी" का संकल्प लेकर दुनिया के सामने अपने मानवतावादी दृष्टिकोण से परिचय कराया।  आज मोदी सरकार के 8 वर्ष का कार्यकाल पूर्ण हो रहा हैं। यह 8 वर्ष भारत के लिए स्वर्णिम काल खंड रहा है। इस कार्यकाल में मोदी सरकार ने भारत को एक नई दिशा दी है और विकास के नए आयाम गढ़े है। नरेंद्र मोदी सरकार ने गरीबों को सहारा दिया, महिलाओं में सुरक्षा और आत्मसम्मान के भाव को जागृत किया, युवाओं में अपार ऊर्जा का संचार किया, किसानों का विश्वास जगाया और आम नागरिकों के भरोसे और अपेक्षाओं को बढ़ाया है। इसके पीछे का कारण सिर्फ एक ही है कि लोगों ने पिछले 8 साल में अपनी अपेक्षाओं को पूरे होते मोदी जी के नेतृत्व में देखा है। देश में हो रहे बदलाव को महसूस किया है। नरेंद्र मोदी की सरकार के कार्यकाल में शासन की पद्धति बदली है, कार्य संस्कृति में बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है, राजनीति से परिवारवाद तुष्टीकरण और भेदभाव समाप्त हुआ है। यह दौर सबका साथ सबका विकास का मंत्र है। मोदी जी के नेतृत्व में एक भारत श्रेष्ठ भारत के निर्माण के लिए मोदी सरकार पूरी तरह से प्रतिबंध है। श्री आलोक शर्मा ने कहा कि अनुच्छेद 370 को खत्म करना मोदी सरकार का ऐतिहासिक निर्णय रहा है। नागरिकता संशोधन कानून के द्वारा मोदी सरकार ने शरणार्थियों को नागरिकता देकर उन्हें गौरव मय जीवन जीने का सराहनीय कार्य किया। हमारी सरकार ने महिलाओं के हितों को प्राथमिकता दी, उनके सशक्तिकरण पर ध्यान दिया, जिसका एक बड़ा उदाहरण तीन तलाक जैसे कानून है लंबे समय से हमारी मुस्लिम माताएं और बहनें तीन तलाक जैसी कुप्रथा को झेल रही थी। मोदी सरकार के 8 वर्ष के कार्यकाल में सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, देश में शांति व शांति का वातावरण की स्थापना करना, उज्जवला योजना से गरीब महिलाओं को धुंए से मुक्ति दिलाना, एक देश एक राशन कार्ड जैसी योजनाओं ने देशों के गरीबों को एहसास कराया कि हमारे गरीब, देश के किसी कोने में रहे उन्हें सरकार मिलने वाले राशन की आपूर्ति सुनिश्चित करेगी। आत्मनिर्भर भारत जन धन योजना के माध्यम से 45 करोड़ 21 लाख खाते बैंकों में खुलवाना, किसानों को सशक्त करने की दिशा में निरंतर प्रयास, किसान सम्मान निधि हमारे किसान भाइयों के लिए वरदान साबित हुआ है। आज देश में किसान सम्मान निधि के द्वारा मोदी जी द्वारा 12 करोड़ से अधिक किसानों के खाते में साल के ₹6000 भेजे जाते हैं। यह सीधा पैसा उनके खाते में पहुंचता है। चांदी का चम्मच लेकर पैदा हुए राजकुमारों को क्या पता कि सर पर छत नहीं होने का दुख क्या होता है। प्रधानमंत्री ने गरीबों की पीड़ा को समझते हुए 2024 तक सभी गरीबों को घर देने का जो संकल्प लिया है। आज खुशी हो रही है कि अभी तक 2 करोड़ 39 लाख  गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत घर की चाबी सौप दी गई है। एक समय था जब हमारी माता बहने चूल्हे पर रोटी बनाती थी और लकड़ी के धुंए से उनकी आंखों की रोशनी तक चली जाती थी। लेकिन उज्जवला योजना के द्वारा मोदी सरकार ने महिलाओं के जीवन में उजाला लाया और आज 9 करोड़ से अधिक माता और बहनों को धुए से आजादी दिलाई। आज देश का गरीब  पूर्व में चिंता में रहता था कि अगर उसे या उसके परिवार में कोई गंभीर बीमारी हो गया तो उसका इलाज कैसे करायेगा। लेकिन मोदी सरकार ने गरीब की चिंता को खत्म किया है। आज उनके इलाज के लिए मोदी जी ने कार्ड दे रखा है आयुष्मान योजना के द्वारा हमारे गरीब भाई-बहन 5 लाख तक का इलाज मुफ्त में करा सकते हैं। अभी तक 3 करोड़ से अधिक लोग आयुष्मान कार्ड से मुफ्त में अपना इलाज करा कर मोदी सरकार को दिल से धन्यवाद दे रहे है। आज मोदी सरकार गरीबों की हर छोटी-बड़ी समस्याओं को दूर करने का मंत्र लेकर काम कर रही है। उनके स्वास्थ्य की चिंता कर रही है,उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन उन्हें मिल रहा है, आवास मिल रहे है,किसानों को किसान सम्मान निधि खातों में पहुच रही है। बीते 8 वर्षो में मोदी जी ने गरीबों के जीवन स्तर को उठाने का सफल प्रयास किया है। आज गरीबों को उम्मीद के नए पंख लगे है, उनमें आत्मविश्वास जगा है। मैं मानता हूं कि मोदी जी जैसा करिश्माई नेता ही यह सब कर सकता है। प्रधानमंत्री द्वारा शुरू हुआ स्टार्टअप इंडिया युवाओं के लिए वरदान साबित हो रहा है। अब तक लगभग 70 हजार से अधिक स्टार्टअप को मान्यता मिल चुकी है। मोदी जी की सरकार पहली ऐसी सरकार है जो भारत के सांस्कृतिक गौरव के पुनर्स्थापना की दिशा में भी कारगर प्रयास कर रही है। काशी कॉरिडोर, भव्य राम मंदिर का निर्माण, विदेश से मां अन्नपूर्णा की मूर्ति को लाना, वर्षों पुराने कलाकृतियों को लाना। प्रधानमंत्री जी ने भारत की धरोहर को सुरक्षित करने का काम किया है। मोदी सरकार ने पूरी विकास यात्रा में आम जनता को भी जोड़ रखा है। गैस सब्सिडी छोड़ने की बात हो या योग दिवस मनाने की बात हो अथवा स्वच्छता जैसे विषय पर जागरूकता की बात हो, मोदी जी ने जनभागीदारी से जनविश्वास तक की यात्रा पूरी कि है। मोदी जी के कार्यकाल के 8 वर्ष गरीबों किसानों श्रमिकों के लिए पूरी तरह समर्पित रहे है।


"केंद्र की ही तरह गरीब कल्याण लक्ष्य है मप्र सरकार का"

श्री आलोक शर्मा ने कहा की केन्द्र सरकार की ही तरह मप्र की शिवरसिंह चौहान की सरकार का भी लक्ष्य जनकल्याण है। प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार गरीब कल्याण का लक्ष्य लेकर काम कर रही है। हमारी सरकार ने तय किया है कि प्रदेश में कोई भूखा नहीं रहेगा, कोई व्यक्ति ऐसा नहीं होगा जिसके सर पर छत न हो। न ही किसी गरीब का बच्चा शिक्षा के अधिकार से वंचित रहेगा। आलोक शर्मा ने कहा कि हम गरीबों को मुफ्त राशन देते हैं, घर दे रहे हैं तो कुछ लोगों के पेट मे दर्द होता है। पर हमें उनकी चिंता नहीं। हमारी सरकार ने तय किया है कि हर जिले को गुंडे बदमाशां के भय से मुक्त करेंगे और आप रोज देखते और सुनते होंगे कि गुंडों के अवैध निर्माणों पर बुलडोजर चल रहा है। अभी तक हमने प्रदेश में कई हजार एकड़ जमीन मुक्त कराई है। श्री आलोक शर्मा ने कहा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत हर व्यक्ति को अपना घर मिल रहा है। साथ ही हमारी प्रदेश सरकार ने तय किया है कि गरीब का बच्चा यदि मेडिकल, इंजीनियरिंग, आईआईटी, आईआईएम की पढ़ाई करना चाहता है तो उसकी फीस की चिंता उनके माता पिता नहीं बल्कि उनका मामा शिवराज सिंह चौहान भरेगा। हमने गरीब मजदूरों के लिए संबल योजना बनाई, ऐसी योजना को कांग्रेस ने सरकार बनते ही बंद कर दिया था। लेकिन हमने फिर उस योजना को चालू कर दिया है। पत्रकारवार्ता में उपस्तिथ भाजपा जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने सभी अतिथियों एवं पत्रकारों का स्वागत भाषण के माध्यम से स्वागत किया। पत्रकारवार्ता में भाजपा जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय,सीहोर विधायक श्री सुदेश राय,जिला महामंत्री श्री राजकुमार गुप्ता,रवि नागले,प्रदेश कार्यसमिति सदस्य श्री दामोदर राय एवं सीताराम यादव,जिला मीडिया प्रभारी सुशील संचेती, जिला कार्यालय मंत्री पंकज गुप्ता,नगर भाजपा अध्यक्ष प्रिंस राठौर, सह मीडिया प्रभारी हृदेश राठौर आदि उपस्तिथ थे।


तीन दिवस की कार्यशाला उत्कृष्ट विद्यालय में संपन्न।

  • 21वीं सदी के कौशलों पर आधारित शिक्षा का बोध कराया प्रशिक्षण में तीन दिवस की कार्यशाला उत्कृष्ट विद्यालय में संपन्न।

sehore news
सीहोर स्थानीय, शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 1 सीहोर, में सतत एवं व्यापक अधिगम एवं मूल्यांकन प्रशिक्षण कार्यक्रम में  विद्यालय में होने वाली प्रार्थना सभा को संगीतमय  तरीके से आयोजित करने, शिक्षकों को तैयार किया गया। लोक शिक्षण भोपाल द्वारा स्कूल शिक्षा विभाग लोक शिक्षण संचनालय भोपाल द्वारा 21 वी सदी के सिद्धांत पर आधारित सतत व्यापक  अधिगम एवं मूल्यांकन शासकीय हाई स्कूल एवं हा. से. स्कूल के शिक्षकों का जिला स्तरीय तीन दिवसीय प्रशिक्षण 2 जून से 4 जून तक आयोजित किया गया। कोर्स डायरेक्टर आर. के. बांगरे  , ने बताया की शिक्षक सी सी एल ई गतिविधि से पूर्णतः परिचित हो गए है, और नई शिक्षा  नीति के तहत जुलाई माह के प्रथम शनिवार से सी सी एल ई का क्रियान्वयन करने हेतु प्रशिक्षित किया जा चुका है। इसके पूर्व जिला शिक्षा अधिकारी उदय उपेंद्र भिड़े द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को नई शिक्षा नीति के अंतर्गत वोकेशनल आर्ट एंड क्राफ्ट, माटी कलां, पेंटिंग ड्राइंग अब सी सी एल ई के द्वारा स्वरोजगार और आत्म निर्भर बनाया जावेगा। आज प्रशिक्षण के अंतिम दिन सभी प्रतिभागियों ने, प्रार्थना सभा के पश्चात बौद्धिक क्षमता टेस्ट कराया गया, दस्तावेजीकरण डॉ. देवेंद्र साहू, आर्ट एंड क्राप्ट सुशीला,संध्या सोनी व ड्राइंग सुरेश पवार, वक्तव्य कोशल डॉ. दीपक बिसोरिया, प्रशिक्षण की पुनरावृत्ति व्याख्याता रमेश कुमार पाली, अंजु चौहान, रजिस्ट्रेशन हेमंत मालवीय और प्रशिक्षण संचालक आर के बांगरे द्वारा शिक्षकों को आवश्यक निर्देश देकर, विदा किया। प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे जिले भर के 100 शिक्षकों में अति उत्साह देखने को मिला और सभी शिक्षकों ने संकल्प किया कि वे शासकीय विद्यालयों को नई शिक्षा नीति के माध्यम दे सुदृढ एवं संपन्न बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। ऐसा माना जा रहा है कि इस प्रशिक्षण के बाद विद्यालयों में बच्चों को शिक्षा प्रदान करने में रुचि जागृत होगी और कक्षाओं में नीरसता नहीं आएगी बच्चे उत्साह पूर्वक अध्यापन प्राप्त कर सकेंगे और उनमें शारीरिक, चारित्रिक विकास के साथ-साथ आत्मनिर्भरता की भावना  पल्लवित होगी।


नाम निर्देशन पत्र के छटवें दिन 2005 अभ्यर्थियों ने जमा किये नाम निर्देशन पत्र


नाम निर्देशन पत्र के छटवें दिन 2005 अभ्यर्थियों ने नाम निर्देशन पत्र जमा किए है। निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार सीहोर मुख्यालय से जिला पंचायत सदस्य के लिए पुरूषो के 18 एवं महिलाओं के 16 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। इसी प्रकार सीहोर जनपद से जनपद सदस्य के लिए पुरूषों के 25 एवं महिलाओं के 13, सरपंच पद के लिए पुरूषों के 142 एवं महिलाओं के 145 तथा पंच पद के लिए पुरूषो के 173 एवं महिलाओं के 179 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। जनपद पंचायत इछावर से जनपद सदस्य के लिए पुरूषों के 10 एवं महिलाओं के 8, सरपंच पद के लिए पुरूषों के 47 एवं महिलाओं के 51 नामांकन पत्र तथा पंच पद के लिए पुरूषों के 47 एवं महिलाओं के 48 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। जनपद पंचायत नसरूल्लागंज से जनपद सदस्य के लिए पुरूषों के 14 महिलाओं के 8, सरपंच पद के लिए पुरूषों के 71 एवं महिलाओं के 67, पंच पद के लिए पुरूषों के 65 एवं महिलाओं के 41 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। जनपद आष्टा से जनपद सदस्य के लिए पुरूषों के 21 एवं महिलाओं के 21, सरपंच पद के लिए पुरूषों के 158 एवं महिलाओं के 157, पंच के लिए पुरूषों के 161 एवं महिलाओं के 156 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है। जनपद बुधनी से जनपद सदस्य के लिए पुरूषो के 6, सरपंच के लिए पुरूषों के 48 एवं महिलाओं के 43, पंच पद के लिए पुरूषों के 26 एवं महिलाओं के 22 नामांकन पत्र प्राप्त हुए है।


कलेक्टर श्री ठाकुर ने किया कराटे खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन, अंतर्राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में विजेता खिलाड़ियों का कलेक्टर श्री ठाकुर ने किया सम्मान


sehore news
कलेक्टर श्री चंद्र मोहन ठाकुर ने मास्टर आफ ताओ कराटे एसोसिएशन के खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया तथा गत दिवस नेपाल के काठमांडू में आयोजित कराटे प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले आधा दर्जन से अधिक कराटे खिलाड़ियों का सम्मान भी किया। सम्मान समारोह में कलेक्टर श्री ठाकुर ने कहा कि मुझे इस बात की खुशी है कि खिलाड़ियों के दल ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कामयाबी हासिल की है। एसोसिएशन से प्राप्त जानकारी अनुसार नेपाल के काठमांडू में आयोजित कराटे प्रतियोगिता में दो दर्जन से अधिक कराटे खिलाड़ी सम्मिलित हुए थे, जिसमें से 9 खिलाड़ियों ने मैडल जीते। प्रतियोगिता में पायल बागवान और नीतू लोधी ने गोल्ड मेडल प्राप्त किया है। इसी प्रकार मिनल पटेरिया, आशा चावरिया, अरवाज खान और प्रवीण सरवर ने सिल्वर मेडल प्राप्त किया है। साथ ही स्वाती सिंह, अक्षत मेवाड़ा और जीतमल मेवाड़ा ने प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मेडल जीता है।


पर्यावरण दिवस पर रन फॉर नेचर का आयोजन


विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर जन अभियान परिषद द्वारा 5 जून को जिला मुख्यालय सहित सभी विकासखंडों में प्रात: 6 बजे से पर्यावरण दौड़ (रन फॉर नेचर) का आयोजन किया जाएगा। इसके साथ ही भोपाल के कुशा भाऊ ठाकरे हॉल में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के आतिथ्य में आयोजित होने वाले मंचीय कार्यक्रम का प्रसारण वेबकास्ट के माध्यम से जिला मुख्यालय एवं सभी विकासखंडों प्रातः 11:00 बजे से दिखाया जाएगा। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा वर्चुअली एवं भोपाल कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को पर्यावरण सुरक्षा संबंधी संकल्प दिलाया जाएगा। कार्यक्रम में किसी राजनीतिक व्यक्ति या उम्मीदवार को आमंत्रित नहीं किए जाने के निर्देश दिए गए है।


उम्मीदवारों को संपत्ति, शिक्षा, अतिक्रमण तथा वित्तीय संव्यवहार की देनी होगी जानकारी


त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन 2022 के तहत पंच, सरपंच, जनपद एवं जिला पंचायत सदस्य के उम्मीदवारों को नाम निर्देशन पत्र के साथ निर्धारित प्रारूप में शपथ एवं सार पत्र में अपने और परिवार की चल-अचल संपत्ति के साथ ही कई तरह की वित्तीय संव्यवहार की जानकारी देना होगी। शपथ पत्र में उम्मीदवार की सामान्य जानकारी, सम्पर्क के नम्बर, परिवार तथा अन्य आश्रित सदस्यों का विवरण, पेन नम्बर तथा आयकर विवरणी फाईल करने की जानकारी, यदि कोई आपराधिक मामले हों तो उनकी जानकारी, स्वयं एवं परिवार के अन्य सदस्यों की चल तथा अचल सम्पत्ति का विवरण, बैंक एवं अन्य सार्वजनिक संस्थाओं की वित्तीय देनदारियों की जानकारी, पंचायत की कोई वसूली योग्य धनराशि हो तो उसका विवरण पंचायत अथवा शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने की जानकारी तथा शैक्षणिक योग्यता का विवरण देना होगा।


निर्विरोध निर्वाचन पर मिलेगी प्रोत्साहन राशि


राज्य शासन के पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के आदेशानुसार पंचायत पदाधिकारियों के निर्विरोध निर्वाचन को प्रोत्साहित करने एवं सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने वाली पंचायतों को पुरस्कृत करने के लिये पुरस्कार योजना लागू की है। जिसमें निर्विरोध निर्वाचन होने पर प्रोत्साहन राशि निर्धारित की गई है। ऐसी पंचायत जिसके सरपंच निर्विरोध निर्वाचित हुये है, उन्हें 5 लाख रूपये की पुरस्कार राशि, सरपंच पद के लिए वर्तमान निर्वाचन एवं पिछला निर्वाचन निरंतर निर्विरोध रूप से होने पर 7 लाख रूपये की पुरस्कार राशि, ऐसी ग्राम पंचायत जिसके सरपंच तथा सभी पंच निर्विरोध निर्वाचित हुये है, उन्हें 7 लाख रूपये की पुरस्कार राशि, ऐसी ग्राम पंचायत जिसके सरपंच तथा सभी पंच महिला निर्वाचित हुये है, उन्हें 12 लाख रूपये और ऐसी पंचायत जिसमें सरपंच एवं पंच के सभी पदों पर महिलाओं का निर्वाचन निर्विरोध हुये है, उन्हें 15 लाख रूपये की निर्विरोध निर्वाचन प्रोत्साहन राशि की पात्रता रहेगी।


गांव-गांव नारे लिखकर दिया पर्यावरण बचाने का संदेश


sehore news
पर्यावरण सप्ताह 01 जून से 08 जून 2022 तक मनाया जा रहा है। वहीं 05 जून को विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया जाएगा। पर्यावरण की सुरक्षा एवं संरक्षण के लिए जिले के गांवों में आशा कार्यकर्ताओं ने नारे लेखन के माध्यम से पर्यावरण को बचाने का संदेश दिया। इस दौरान उन्होंने पर्यावरण से संबंधित जागरूकता के लिए भी घर-घर पहुंचकर आम लोगों को जागरूक किया। वृक्षों की कटाई को रोको, अब पर्यावरण के लिए सोचों। पेड़ लगाओ, जिंदगी बचाओ। बच्चों को दो ये शिक्षा, पर्यावरण की करें रक्षा। जैसे नारे लेखन कर आम लोगों को पर्यावरण की सुरक्षा के लिए जागरूक किया।


चुनावों के दृष्टिगत चुनाव मोबाइल एप आम नागरिकों के लिए होगा उपयोगी


राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निर्वाचन एवं त्रिस्तरीय पंचायत आम निर्वाचन के लिए मतदाताओं की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए चुनाव मोबाइल एप बनाया गया है। इस एप के माध्यम से मतदाता सूची में नाम सर्च कर सकते है तथा उम्मीदवार की जानकारी एवं चुनाव परिणाम की जानकारी भी एप से प्राप्त की जा सकती है। एप पर उम्मीदवार की जानकारी एवं चुनाव परिणाम की जानकारी निर्वाचन प्रचलन होने पर देखी जा सकेगी। चुनाव मोबाइल एप को आयोग की बेवसाईट एवं गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। यह एप एंड्राइड प्लेटफार्म पर ही रन होगा।


दो चरणों में सम्पन्न होंगे नगरीय निकाय के चुनाव, नगरीय निर्वाचन में जिले के कुल 1,94,524 मतदाता करेंगे अपने मताधिकार का उपयोग


निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार जिले की 09 नगरीय निकायों के 158 वार्डों के 282 मतदान केन्द्रों में दो चरणों में चुनाव सम्पन्न होंगे। प्रथम चरण में सीहोर नगर एवं द्वितीय चरण में शेष नगरीय निकायों के चुनाव सम्पन्न कराए जाएंगे। नगरीय निर्वाचन में जिले के कुल 1,94,524 मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग करेंगे। प्रथम चरण में नगर पालिका परिषद सीहोर के 35 वार्डों में चुनाव के लिए 106 मतदान केन्द्र बनाए गए है। इसी प्रकार द्वितीय चरण में नगरपालिका परिषद आष्टा के 18 वार्डों में चुनाव के लिए 55 मतदान केन्द्र, नगर परिषद जावर के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 15 मतदान केन्द्र, नगर परिषद कोठरी के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 15 मतदान केन्द्र, नगर परिषद इछावर के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 17 मतदान केन्द्र, नगर परिषद बुधनी के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 18 मतदान केन्द्र, नगर परिषद शाहगंज के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 15 मतदान केन्द्र, नगर परिषद रेहटी के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 15 मतदान केन्द्र, नगर परिषद नसरूल्लागंज के 15 वार्डों में चुनाव के लिए 26 मतदान केन्द्र बनाए गए है।


प्रधानमंत्री श्री मोदी की पहल पर शुरू हुआ "मीट द चैम्पियन"  कार्यक्रम सीहोर में आयोजित

  • टेलेंट अपना लक्ष्य हासिल करके ही दम लेता है- पैरा ओलम्पियन प्राची यादव
  • टोक्यो पैरा ओलम्पियन तथा वर्ल्ड कप चैम्पियनशिप में ब्रांज मैडल जीतने वाली दिव्यांग केनोइंग अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी प्राची यादव ने युवा खिलाडियों को दिए ओलंपियन बनने के गुरुमंत्र

sehore news
आजादी के अमृत उत्सव के तहत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की पहल पर देश में "मीट द चैम्पियन" कार्यक्रम शुरू किया गया है। इस कार्यक्रम के तहत भारत के लिए विश्वस्तरीय खेल प्रतियोगिताओं में पदक जीतने वाले और प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ी अपने प्रदेश और देश में खिलाडियों का उत्साहवर्धन कर उन्हें खेल कौशल और आहार चार्ट की उच्च स्तरीय वैश्विक तकनीकी की जानकारी देते है। इसी कड़ी में "मीट द चैम्पियन" कार्यक्रम के तहत मध्यप्रदेश स्कूली शिक्षा विभाग के सीहोर स्थित शासकीय आवासीय खेलकूद संस्था में टोक्यो पैरा ओलम्पियन तथा वर्ल्ड कप चैम्पियनशिप में ब्रांज मैडल जीतने वाली ग्वालियर की दिव्यांग केनोइंग अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी प्राची यादव ने युवा खिलाडियों को ओलंपियन बनने के गुरुमंत्र सिखाये। उन्होंने अनूठे अंदाज में खिलाडियों के प्रश्नों के उत्तर दिए। साथ ही खिलाड़ियों को संतुलित डाइट और खानपान के तरीके भी बताए। सही उत्तर देने वालों को पैरा ओलम्पियन प्राची यादव ने एक एक टी-शर्ट पुरूस्कार स्वरूप प्रदान की। इसके साथ ही उन्होंने खिलाड़ियों के साथ बैडमिंटन भी खेला। इस दौरान पैरा ओलम्पियन प्राची यादव ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने स्कूली बच्चो के लिये संतुलित आहार को लेकर कार्यक्रम शुरू किया है। इसी के तहत यह  "मीट द चैम्पियन" कार्यक्रम शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि मुझे गर्व है कि मैं मध्यप्रदेश की बेटी हूँ और मुझे अपने प्रदेश के युवा खिलाडियों के बीच संवाद का अवसर दिया गया है। उन्होंने कहा कि टेलेंट के सामने अमीरी गरीबी का फर्क कोई मायने नहीं रखता है। टेलेंट अपना लक्ष्य हासिल करके ही दम लेता है। उन्होंने बताया कि वह कनाडा में आयोजित होने जा रही वर्ल्ड केनोइंग प्रतियोगिता में भाग लेने जाने वाली है। उन्होंने देश और प्रदेश के नौनिहाल खिलाड़ियों को संदेश भी दिया। शासकीय आवासीय खेलकूद संस्था के प्राचार्य श्री आलोक शर्मा ने कहा कि इस आयोजन से नौनिहाल खिलाड़ियों को काफी समझने और सीखने का मौका मिला है।

कोई टिप्पणी नहीं: