बिहार : कांग्रेस ने कहा नहीं मिला निमंत्रण, राजद ने कहा सबको मिला है बुलावा पत्र - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

सोमवार, 6 जून 2022

बिहार : कांग्रेस ने कहा नहीं मिला निमंत्रण, राजद ने कहा सबको मिला है बुलावा पत्र

congress-rjd-roar-for-mahagathbandhan-bihar
पटना : संपूर्ण क्रांति दिवस के मौके पर राजधानी पटना के गांधी मैदान के पास बापू सभागार में महागठबंधन यानी राजद, कांग्रेस, और वाम दलों के बीच महागठबंधन प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। इस कार्यक्रम में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, बिहार विधानसभा के नेता विपक्ष तेजस्वी यादव, सीपीआई के तरफ से डी राजा, सीपीएम के तरफ से सीताराम येचुरी और भाकपा माले के दिपांकर भट्टाचार्य सहित महागठबंधन के कई दिग्गज नेता उपस्थित रहेंगे। वहीं, इन सब के बीच कांग्रेस के तरफ से इस महागठबंधन प्रतिनिधि सम्मेलन का विरोध किया जा रहा है। उनका कहना है कि उनको इसमें शामिल होने का निमंत्रण ही नहीं मिला है, जबकि राजद का कहना है कि उनको निमंत्रण दिया गया है इसके बाद भी वो नहीं आना चाहते हैं। जहां कांग्रेस के तरफ से इस सम्मेलन में शामिल नहीं होने को लेकर कहा गया कि वर्तमान समय में विपक्ष को एकजुट होकर भाजपा के खिलाफ होना पड़ेगा और वो लोग है कि कांग्रेस को ही दरकिनार कर खुद को मजबूत करने की योजना बना रहे हैं, जो की कहीं से भी उचित नहीं हैं। जबकि उनको यह भी मालूम है कि कांग्रेस कोई एक राज्य की पार्टी नहीं बल्कि राष्ट्रीय पार्टी है।विधानसभा चुनाव के दौरान हम लोग साथ मिलकर मैदान में आए थे, इसके बाद भी उन्होंने महागठबंधन प्रतिनिधि सम्मेलन में निमंत्रण नहीं दिया तो यह उनकी सोच को दर्शाता है। इसके आगे कांग्रेस नेता ने कहा कि आज नीतीश कुमार का रिपोर्ट कार्ड जारी हो रहा है जबकि सही मायने में केंद्र सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी होना चाहिए।2024 में केंद्र की सरकार से लड़ाई है,और भाजपा के नाराज लोग कांग्रेस के तरफ ही राह देखेंगे।


इधर, इस पूरे मामले पर राजद के नेता का कहना है कि उनकी पार्टी के तरफ से कांग्रेस समेत महागठबंधन में शामिल सभी दलों को निमंत्रण दिया गया था,लेकिन कांग्रेस को संपूर्ण क्रांति की डेट को लेकर समस्या है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी जातीय जनगणना को लेकर जब हमलोगों की बैठक हुई थी तो कांग्रेस को बुलाया गया था, तो वो लोग आए थे।वहीं, उन्होंने कहा कि आज सिर्फ राज्य सरकार का ही नहीं बल्कि केंद्र सरकार का भी रिपोर्ट कार्ड जारी किया जाएगा। इधर, इन दोनों पार्टियों के बीच चल रही उठा पटक को लेकर जदयू नेता नीरज कुमार ने कहा कि विपक्ष खुद भ्रम में हैं तो फिर वो राज्य सरकार और केंद्र सरकार की क्या रिर्पोट कार्ड पेश करेगी। महागठबंधन के लोग अपने सहयोगियों को ही किनारा करना चाहते हैं। हमारी सरकार का काम बोलता है, बिहार की जनता सबकुछ जानती है। बता दें कि, रविवार को महागठबंधन के तरफ से नीतीश सरकार की क्या कुछ कमियां रही हैं, इसको लेकर रिपोर्ट कार्ड जारी किया जाएगा। इसमें विशेष राज्य का दर्जा,शिक्षा, समेत कई समस्यों को लेकर सवाल किया गया है।


कोई टिप्पणी नहीं: