झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 12 जून - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 12 जून 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 12 जून

आकाशीय बिजली गिरने से युवक की हुई मौत


jhabua-news
पारा । आज दोपहर करीब 3 बजे के लगभग ग्राम लखपुरा में आकाशीय बिजली गिरने से शंकर पिता सेकु बघेल उम्र 22वर्ष की मौत हो गई। बताया जाता है दोपहर में जब बारिश हुई तब शंकर अपने पिता के साथ निर्माणाधीन भवन का काम देख रहा था । बारिश के कारण शंकर पास ही बबूल के पेड़ के नीचे जाकर खड़ा ही हुआ था कि अचानक आकाशीय बिजली कड़कड़ाहट के साथ शंकर पर गिरी जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत होगई। 


जमिंदोज किए गए स्कुल भवन का मलबा 28 महिने के बाद भी नही हटा

  • मतदाताओ करना पडेगा परेशानी का सामना, बुनियायदी प्राथमिक शाला पर ग्राम पंचायत के निर्वाचन के चार बुथ

jhabua-news
पारा । अनिल श्रीवासत्व। राज्य निर्वाचन आयोग कि त्रिस्तरिय पंचयात चुनाव कि घोषणा होने के बाद जहा एक ओर जिला प्रशासन पंचायत चुनाव करवाने के लिए मुस्तेद हे वही पारा नगर की बुनियायदी प्राथमिक शाला भवन के दो मतदान केन्द्र पर चार बुथ कि सुध लेने वाला कोई नही। जब कि मतदान होने मे कुछ हि दिन शेष हे। नगर के बुनियायदी प्राथमिक शाला भवन राजगढ रोड के लोकसभा मतदान केन्द्र 299 व 300 पर विगत करिब  70 वर्ष पुर्व बने प्राथमिक शाला भवन को राईट ऑफ करने के बाद जमिंदोज किए गए भवन का सारा मलबा वही के वही पडा हे जिसको किसी ने भी हटाने कि जुर्ररत नही कि। वर्तमान हालत ये कि स्कुल परिसर मे पडे इस मलबे के कारण जहा मतदान केन्द्र पर जाने का मुख्य द्धार बंद हे वही मतदान करने के लिए जाने वाले मतदाता को भी मतदान केन्द्र पर पहुचने की राह आसान नही हे। वर्तमान मे भी उक्त परिक्षेत्र के नवीन भवन मे विधालय कन्या व बालक प्राथामिक शाला संचालित हे। स्कुल परिसर मे पडे मलबे पर बडी बडी धांसफुस होने कारण किसी जहरीले जानवर कि उपस्थिति से इन्कार नही किया जासकता। ऐसे मे जिला प्रशासन को चाहिए कि उक्त बुनियायदी प्राथमिक शाला भवन के बिचोबिच बेतरतिब पडे ढेर सारे मलबे को शिघ्रता से हटवाए। ताकि आने वाली मतदान कि तारीख 1 जुलाई को मतदाता को परेशानी नही उठाना पडे। उक्त मतदान केन्द्र पर चार बुथ हे जहा पर 2000 हजार से अधिक मतदाता अपने मत का उपयोग करेगे।

यह हे मामाला-- बस स्टेढड पारा से महज कुछ ही फर्लाग दुरी पर स्थित नगर का बुनियायदी प्राथमिक शाला भवन करिब 70 वर्ष पुर्व बनाया था। र्जरर्जर हो चुके भवन के कारण नवीन भवन बनाकार शासन ने पुराने भवन को राईट आफॅ कर वर्ष 2020 मे प्रदेश मे कांग्रेस शासन काल मे अतिक्रम हटाने कि मूहिम के दोरान तत्कालीन एसडीएम अभयसिह खराडी के निर्देशन मे उक्त र्जरजर भवन को जेसीबी कि सहायता से दिनांक 3 फरवरी 2020 को जमिंदोज किया गया। बाद मे उक्त भवन के टिन व लोहे के सामान को लोक निर्माण विभाग के बारहमासियो ने कई दिनो तक निकाला व वाहन मे भरकर लेगए। एसडीएम खराडी ने उक्त मलबे को भी तत्काल हटाने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के दिए थे किन्तु आज 28 माह बित जाने के बाद उक्त मलबा स्कुल परिसर मे पडा हुआ हे।


डॉ रामंकर चंचल कीलधु कथाओ को हेमन्त मोहन का स्वर मिला, काली लधु कथा की बेहद खूब सूरत प्रस्तुति


झाबुआ। महान साहित्य साधक डॉ रामसंकर चंचल की लधु कथाओ को भी अब देश के महान स्वर साधक श्री हेमन्त मोहन का स्वर मिला। हाल में ही अपनी बेहद प्रभाव शाली आवाज में बेहद सार्थक चित्रों को समेटे आवाज के धनी श्री हेमन्त मोहन ने डॉ चंचल की काली लधु कथा को अपनी आवाज दी जो सचमुच उम्दा और बेहद प्रभावित करती हैं। जिसे बहुत ही साराया जा रहा है। देश और विदेश के हजारों श्रोता द्वारा।  डॉ चंचल की सैकड़ो उपलब्दियों में आज एक ओर महत्वपूर्ण उपलब्धि जुड़ गई। इस गौरव पर उन्हें देश और विदेशो से खूब खूब बधाई और शुभ कामना दी जा रही हैं। शहर झाबुआ के लिए डॉ चंचल वो महान साहित्य साधक है जिसे सदियो तक याद किया जायेगा।


पंचायत आम चुनाव 2022 के मतपत्र मुद्रण हेतु श्री दिनेश वर्मा, अतिरिक्त मु. कार्य. अधि., जिला पंचायत झाबुआ को अति. सहा. रिटर्निंग ऑफिसर नियुक्त किया


झाबुआ । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्था. निर्वा.) जिला झाबुआ के आदेशानुसार नगरीय निकायत/पंचायत आम चुनाव 2022 के संपन्न कराये जाने के लिए श्री दिनेश वर्मा, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत झाबुआ को निर्वाचन कर्तव्य मतपत्र प्रबंधन एवं मतपत्रों का प्रबंधन हेतु जिला स्तरीय नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया हैं। पंचायत आम चुनाव 2022 के मतपत्र मुद्रण हेतु श्री दिनेश वर्मा, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत झाबुआ को अतिरिक्त सहायक रिटर्निंग ऑफिसर (पंचायत मतपत्र मुद्रण) नियुक्त किया जाता है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू।


मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु शेष जो कार्यक्रम होंगे

 

झाबुआ,। मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु निर्वाचन कार्यक्रम समय अनुसूची जिसमें मतदान प्रथम चरण 25 जून, 2022 शनिवार, द्वितीय चरण 01 जुलाई, 2022 शुक्रवार समय प्रातः 7 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक होगा। मतगणना, सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा ;पद्ध मतदान केन्द्र पर की जाने वाली मतगणना प्रथम चरण 25 जून, 2022 शनिवार, द्वितीय चरण हेतु 01 जुलाई, 2022 शुक्रवार को समय  मतदान समाप्ती के तुरन्त पश्चात। ;पपद्ध विकासखण्ड मुख्यालय पर की जाने वाली मतों की गणना प्रथम चरण हेतु 28 जून, 2022 मंगलवार, द्वितीय चरण हेतु 4 जुलाई, 2022 सोमवार समय प्रातः 8 बजे से होगा। ;पपपद्ध पंच/सरपंच/जनपद पंचायत सदस्य पद की मतगणना का सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा प्रथम चरण हेतु 14 जुलाई, 2022 गुरूवार एवं द्वितीय चरण हेतु 14 जुलाई 2022 गुरूवार को प्रातः 10.30 बजे से प्रारम्भ होगी। ;पअद्ध जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतों का विकासखण्ड स्तरीय सारणीकरण प्रथम चरण हेतु 14 जुलाई, 2022 गुरूवार एवं द्वितीय चरण हेतु 14 जुलाई, 2022 गुरूवार को समय प्रातः 10.30 बजे से होगा। ;अद्ध जिला पंचायत सदस्य पद के लिए मतों का जिला मुख्यालय पर सारणीकरण तथा निर्वाचन परिणाम की घोषणा प्रथम चरण हेतु 15 जुलाई 2022 शुक्रवार एवं द्वितीय चरण हेतु 15 जुलाई, 2022 शुक्रवार को प्रातः 10.30 बजे से प्रारम्भ होगा।


मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु जिला पंचायत, पंच, सरपंच एवं जनपद पंचायत सदस्य की स्थिति

 

झाबुआ। मध्यप्रदेश राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार त्रि-स्तरीय पंचायतों के आम निर्वाचन हेतु जो कार्यवाही की जाना है जिसमें जिला पंचायत, पंच, सरपंच एवं जनपद पंचायत सदस्य की स्थिति का विवरण में जिला पंचायत सदस्य हेतु विधिमान्यता के समय अभ्यर्थियो की संख्या 108 थी, जिसमें 30 नाम अभ्यर्थियों द्वारा वापस लिए गए । शेष 78 अभ्यर्थियों द्वारा चुनाव लड़ा जाएगा। इसी तरह पंच पद हेतु जिले की 6 जनपद पंचायत में विधिमान्यता के समय अभ्यर्थियो की संख्या 9129 थी, जिसमें 222 नाम अभ्यर्थियों द्वारा वापस लिए गए। शेष 5439 अभ्यर्थियों द्वारा चुनाव लड़ा जाएगा। निर्विरोध निर्वाचन होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या 3468 थी एवं 01 पद जिसमें किसी भी अभ्यर्थी द्वारा नाम निर्देशन पत्र प्रस्तुत नहीं किया गया। सरपंच पद हेतु जिले की 06 जनपद पंचायत जिसमें 375 ग्राम पंचायत है। विधिमान्यता के समय अभ्यर्थियो की संख्या 2475 थी जिसमें 594 नाम अभ्यर्थियों द्वारा वापस लिए गए। शेष 1879 अभ्यर्थियों द्वारा चुनाव लड़ा जाएगा। निर्विरोध निर्वाचन होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या 02 थी। जनपद पंचायत सदस्य हेत जिले की 06 जनपद पंचायत में विधिमान्यता के समय अभ्यर्थियो की संख्या 742 थी, जिसमें 74 नाम अभ्यर्थियों द्वारा वापस लिए गए। शेष 667 अभ्यर्थियों द्वारा चुनाव लड़ा जाएगा। निर्विरोध निर्वाचन होने वाले अभ्यर्थियों की संख्या 01 थी।


नगरीय निकाय चुनाव में पहली बार ई वी एम में प्रतीक चिन्ह के साथ उम्मीदवार के फोटो भी प्रिंट होंगे


झाबुआ। नगरीय निकाय चुनाव 2022 में इस बार राज्य निर्वाचन आयोग ने यह निर्णय लिया है कि ईवीएम में जो मतपत्र लगेंगे उन मतपत्रों पर चुनाव लड़ने वाले अभ्यर्थियो के निर्वाचन प्रतीक के साथ नाम एवं साथ में फोटो भी प्रिंट होंगे। जिले में नगर परिषद् मेघनगर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं रिटर्निंग ऑफिसर श्रीमती अंकिता प्रजापति ने बताया कि आयोग ने निर्देश जारी किए है कि नगरीय निकाय चुनाव के लिए आवेदन प्रस्तुत करने वाले अभ्यर्थियों से उनके दो रंगीन चित्र (2.50.2) भी आवेदन के साथ जमा करवाए जाए। श्रीमती प्रजापति ने बताया कि नगरीय निकाय चुनाव में पहली बार इस प्रकार का प्रयोग राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा कराया जा रहा है। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा विधानसभा व लोकसभा चुनावों में कुछ राज्यों में इसका प्रयोग किया जा चुका हैं। उन्होने बताया कि निकाय चुनाव में पार्षद पद के लिए जो उम्मीद्वार रहेंगे उन्हे नवीन बैंक खाता खुलवाकर उसकी छायाप्रति प्रस्तुत करना होगी तथा चार दिन के अंतराल में चुनावी खर्च का लेखा-जोखा प्रस्तुत करना होगा। पार्षद पद के लिए अधिकतम खर्च की सीमा 75 हजार रूपए रहेगी। अभ्यर्थी द्वारा निर्वाचन व्यय लेखा संधारण नहीं किए जाने अथवा मतगणना परिणाम के 30 दिवस के भीतर रिटर्निंग ऑफिसर को दाखिल नहीं किए जाने की स्थिति में अभ्यर्थी को निर्हरित किए जाने का प्रावधान है।

कोई टिप्पणी नहीं: