भाजपा ने नूपुर शर्मा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से किया निलंबित - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 6 जून 2022

भाजपा ने नूपुर शर्मा को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से किया निलंबित

nupur-sharma-discharge-from-bjp
नयी दिल्ली 05 जून, भारतीय जनता पार्टी की प्रवक्ता नूपुर शर्मा द्वारा पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित तौर पर की गई विवादास्पद टिप्पणी का मामले पर भाजपा ने बड़ा कदम उठाया है। भारतीय जनता पार्टी ने नूपुर शर्मा और नवीन कुमार जिंदल को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया है। गौरतलब है कि भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा बीते कुछ समय से विवादों में घिरी हुई हैं। उनके द्वारा पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ कथित तौर पर की गई विवादास्पद टिप्पणी का मामला इतना खिंच गया कि आखिरकार, भाजपा ने उनकी पार्टी की प्राथमिक सदस्यता वापस ले ली। भाजपा की केंद्रीय अनुशासन समिति ने नूपुर शर्मा के विचारों का हवाला देते हुए विभिन्न मामलों पर पार्टी की स्थिति के विपरीत उन्हें तत्काल प्रभाव से पार्टी से निलंबित कर दिया है। पार्टी ने दिल्ली मीडिया के प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को भी पार्टी से यह कहते हुए निष्कासित कर दिया कि सोशल मीडिया पर उनके विचार सांप्रदायिक सद्भाव को बिगाड़ते हैं और इसकी मौलिक मान्यताओं का उल्लंघन करते हैं। दिल्ली के अध्यक्ष आदेश गुप्ता के एक पत्र में कहा गया है कि आपकी प्राथमिक सदस्यता तुरंत समाप्त कर दी जाती है और आपको पार्टी से निकाला जाता है। उल्लेखनीय है कि विवादों को शांत करने की कोशिश करते हुए भाजपा ने रविवार को कहा कि पार्टी सभी धर्मों का सम्मान करती है और किसी भी धार्मिक व्यक्ति के अपमान की कड़ी निंदा करती है।इस बीच भाजपा के महासचिव अरुण सिंह ने भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की टिप्पणी को लेकर उठे विवाद के बीच अपने एक बयान में कहा कि पार्टी किसी भी संप्रदाय या धर्म का अपमान या अपमान करने वाली किसी भी विचारधारा के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि भाजपा ऐसे लोगों को बढ़ावा नहीं देती है। हालांकि, भाजपा नेता ने अपने बयान में किसी भी घटना या टिप्पणी का कोई सीधा जिक्र नहीं किया।

कोई टिप्पणी नहीं: