यमुना में एक बार फिर जमा हुआ जहरीला झाग - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 2 जून 2022

यमुना में एक बार फिर जमा हुआ जहरीला झाग

poiseness-foam-in-yamuna
नयी दिल्ली, दो जून, दिल्ली में यमुना नदी में तैरते जहरीले झाग की तस्वीरें और वीडियो बृहस्पतिवार को सोशल मीडिया पर वायरल होने के साथ इसके प्रदूषित होने से लोगों की चिंता बढ़ गयी है। विशेषज्ञों ने यमुना नदी में इस प्रदूषण के पीछे प्रमुख रूप से अशोधित सीवेज और डिटर्जेंट को जिम्मेदार ठहराया है। विशेषज्ञों के मुताबिक दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में रंगाई उद्योगों, धोबी घाटों और घरों में इस्तेमाल होने वाले डिटर्जेंट के कारण नदी में यह जहरीला झाग बना है। इसके कारण नदी के पानी में फॉस्फेट की मात्रा भी काफी बढ़ गयी है। पिछले साल नवंबर में छठ पूजा समारोह के दौरान जहरीले झाग से लदी यमुना नदी में खड़े भक्तों की तस्वीरों ने पूरी दुनिया का ध्यान खींचा था। कालिंदी कुंज तट पर जहरीले झाग को हटाने के लिए प्रदूषित नदी में नावों को तैनात करने के लिए दिल्ली सरकार को आलोचना का सामना करना पड़ा था। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को कहा कि जहरीले झाग की समस्या तब तक जारी रहेगी जब तक कि दिल्ली में सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट और कॉमन एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट को नए मानकों को पूरा करने के लिए अपग्रेड नहीं किया जाता और सभी अनधिकृत कॉलोनियों को सीवर नेटवर्क से नहीं जोड़ा जाता।

कोई टिप्पणी नहीं: