सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 26 जून - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 जून 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 26 जून

"मन की बात" जानकारी, ऊर्जा और प्रेरणा देने वाला कार्यक्रम, इसे समाजव्यापी बनाएं:-रवि मालवीय भाजपा जिला अध्यक्ष


sehore-news
सीहोर। प्रधानमंत्री जी का ‘मन की बात’ कोई राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। यह नई-नई जानकारी, प्रेरणा और ऊर्जा देने वाला कार्यक्रम है। इसकी सार्थकता तभी है, जब हम इस कार्यक्रम से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ें और इसे समाजव्यापी बनाएं। यह बात भारतीय जनता पार्टी के सीहोर जिला अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने आज ‘मन की बात’ कार्यक्रम के उपरांत उपस्थित कार्यकर्ताओ अन्य श्रोताओं को संबोधित करते हुए कही। सीहोर जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय इस अवसर पर पार्टी पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं और नागरिकों के साथ नसरुल्लागंज से उपस्थित रहे।  "कौन, क्या अच्छा कर रहा है,मन की बात में बताते हैं मोदी जी" सीहोर जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय ने उपस्थित कार्यकर्ताओ  को संबोधित करते हुए कहा कि समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कई लोग काम कर रहे हैं। लेकिन इनमें से कौन क्या अलग कर रहा है, मोदी जी उसे ‘मन की बात’ कार्यक्रम में शामिल करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी जी अपने इस कार्यक्रम में नई जानकारी, नई ऊर्जा और प्रेरणा देने वाले मुद्दों की चर्चा करते हैं। इस कार्यक्रम में मोदी जी बताते हैं कि समाज में कौन-कौन लोग किस-किस भूमिका में काम कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जी अपने इस कार्यक्रम में परंपरागत क्षेत्रों में कुछ अलग करने वालों की और तमाम कठिनाइयों का सामना करते हुए नए क्षेत्रों में उपलब्धियां हासिल करने वालों की भी चर्चा भी करते हैं। जैसे इस बार उन्होंने अंतरिक्ष से कचरा साफ करने के प्रयास में लगे युवाओं की बात की। उन्होंने सुदूर गांवों में जल, और पर्यावरण के संरक्षण से लेकर बीज संरक्षण तक के कामों में लगे लोगों की चर्चा भी अपने कार्यक्रम में की है। श्री रवि मालवीय ने कहा कि इस कार्यक्रम की सार्थकता तभी है, जब हम भी यह देखें कि हमारे आसपास भी ऐसा कुछ हो रहा है क्या? इसकी जानकारी को सामने लाएं और अपने आसपास के व्यक्तियों, समूहों को इस कार्यक्रम से जोड़कर इसे सर्वव्यापी बनाएं। जिला भाजपा के मीडिया प्रभारी सुशील संचेती ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया की आज सीहोर जिले के सभी 19 मंडलो में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की मन की बात कार्यक्रम को सुना देखा गया। 

अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस पर विशाल रैली नशा मुक्ति एवं जन जागृति अभियान आयोजित

  • "जिंदगी को हां और नशे को न कहें" की थीम पर चलाया गया नशा मुक्ति अभियान

sehore-news
नशीले पदार्थों के दुरूपयोग और अवैध व्यापार के विरुद्ध 26 जून को अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस मनाया गया। संयुक्त राष्ट्र परिषद की साधारण सभा द्वारा 1987 को पारित संकल्प में की गई घोषणा अनुसार 26 जून को नशीले पदार्थों के दुरूपयोग और अवैध व्यापार के विरूद्ध अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसी क्रम में सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा  विशाल रैली मानव श्रंखला, मेडिकल बोर्ड द्वारा स्वास्थ्य परीक्षण शिविर ऑफलाइन शपथ एवं ई-शपथ सेमिनार कार्यशालाओं का आयोजन किया गया। नशा मुक्ति रथ को सामाजिक न्याय एवं निशक्तजन कल्याण विभाग के संचालक डॉ. श्रवण कुमार पचौरी एवं शासकीय उत्कृष्ट  विद्यालय के प्राचार्य श्री आर के बांगरे द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। रैली के पश्चात जिला चिकित्सालय के विषय विशेषज्ञों द्वारा बाल विहार मैदान में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया गया। जिसमे आरसी साइकैटरिस्ट द्वारा 50 श्रमिकों का स्वास्थ्य परीक्षण कर दवा वितरण किया गया। इस अवसर पर उप संचालक  डॉ. पचौरी ने कहा कि शासन द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाएं संचालित की जाती हैं, जिसमें अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण दिवस 12 से 26 जून तक नशे से आजादी पखवाड़ा 26 जून 2022 मनाया जा रहा है। जिसकी थीम "जिंदगी को हां और नशे को न कहें" रखी गई। उन्होंने जन जागृति अभियान के अंतर्गत समाज में नशे से पीड़ित व्यक्तियों को नशे से होने वाले दुष्परिणाम एवं नशा मुक्ति के लिए जन समुदाय एवं समाज को जागृत करने हेतु आह्वान किया। इस अवसर पर शासकीय उत्कृष्ट  विद्यालय के प्राचार्य आर के  बांगरे, आवासीय खेलकूद संस्थान के प्राचार्य श्री आलोक शर्मा, महारानी लक्ष्मीबाई स्कूल की प्रभारी प्राचार्य श्रीमती मृदुला दुबे, सहित अनेक शिक्षक एवं छात्र-छात्रा उपस्थित थे।

वाटर स्पोर्ट्स के लिए ट्रायल आज


मध्यप्रदेश में राज्य वॉटर स्पोर्ट्स अकादमी में सेलिंग और रोइंग विधा के लिए विभिन्न जिलों में प्रतिभा चयन किया जा रहा है। प्रतिभाओं का चयन तीन चरणों में वॉटर स्पोर्ट्स चयन समिति द्वारा किया जाएगा। सेलिंग और रोइंग विधा के लिए इच्छुक खिलाड़ी अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर सकेंगे। प्रथम एवं द्वितीय चरण में अन्य जिले को शामिल किया गया है और तीसरे चरण में 26 जून को भोपाल के जल क्रीड़ा केंद्र, बड़ी झील में भोपाल, विदिशा,  सीहोर, रायसेन और राजगढ़ के खिलाड़ियों के ट्रायल्स होंगे। भोपाल में ही 27 से 29 जून तक अंतिम चयन प्रक्रिया होगी। प्रतिभा चयन से संबंधित जानकारी के लिए तकनीकी सलाहकार एवं मुख्य प्रशिक्षक वॉटर स्पोर्ट्स (सेलिंग) श्री जी.एल. यादव, मोबाइल नम्बर- 9479848776 तथा कैप्टन श्री दलबीर सिंह राठौर मुख्य प्रशिक्षक वॉटर स्पोर्ट्स (रोइंग) मोबाइल नम्बर - 8319360206 पर संपर्क कर सकते हैं।


जनजातीय संग्रहालय में प्रवेश और फोटोग्राफी दर निर्धारित


मध्यप्रदेश की जनजातियों के जीवन, देशज ज्ञान, कला परंपरा और सौन्दर्यबोध पर एकाग्र स्थापित मध्यप्रदेश जनजातीय संग्रहालय में प्रवेश एवं फोटोग्राफी शुल्क में वृद्धि की गई है। शुल्क वृद्धि 1 जुलाई, 2022 से लागू होगी। भारतीय दर्शक 10 वर्ष से अधिक आयु के लिए 20 रूपये, विदेशी दर्शक 10 वर्ष से अधिक आयु के लिये 400 रूपये प्रवेश शुल्क होगा। इसी तरह फोटोग्राफी प्रति कैमरा, मोबाइल अव्यवसायिक बिना स्टैंड, ट्राइपॉड, सेल्फी स्टिक के लिए 100 रुपए शुल्क निश्चित किया गया है। संग्रहालय दोपहर 12 बजे से रात 8 बजे तक दर्शकों के लिए खुला रहता है। संग्रहालय की विभिन्न दीर्घाओं में मध्यप्रदेश के जनजातीय समुदायों के आवास के वास्तुगत, शिल्पगत और व्यवहारगत रूप प्रदर्शित हैं। संग्रहालय की 6 अलग-अलग दीर्घाओं में जनजातीय जीवन की झलक, उनके परिवेश, खेल, संस्कृति, देवलोक आदि देखने को मिलते हैं। प्रत्येक दीर्घा में जिज्ञासु और शोधार्थियों के लिए कियोस्क स्थापित किए गए हैं, जिससे हिंदी और अंग्रेजी में विस्तार से जाना-समझा जा सकता है।


आर.टी.ई के तहत प्रवेश के लिए आवेदन 30 जून तक


शिक्षा का अधिकार अधिनियम के तहत शैक्षणिक सत्र 2022-23 में प्रायवेट स्कूलों की प्रथम कक्षा में निःशुल्क आरटीई में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन 30 जून 2022 तक किए जा सकेंगे। इस संबंध में आर.टी.ई पोर्टल www.educationportal.mp.gov.in/Rte Portal पर ऑनलाइन आवेदन पत्र का प्रारूप उपलब्ध है। आवेदन के साथ पात्रता सम्बंधित कोई भी एक दस्तावेज अपलोड किया जाना होगा। आगामी 5 जुलाई को पारदर्शी तरीके से ऑनलाइन लॉटरी द्वारा छात्रों को निजी स्कूलों में सीट का आवंटन किया जायेगा।


हेपेटाइटिस से बचाव के लिए एडवाइजरी जारी


मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि हेपेटाइटिस लीवर से जुड़ी बीमारी जो वायरल इंफेक्शन के कारण होती है। इस बीमारी में लीवर में सूजन आ जाती है, हेपेटाइटिस में पांच प्रकार के वायरस होते है जिसमें हेपेटाइटिस ए.बी.सी.डी और ई इन पांचों वायरस को गंभीरता से लेना चाहिये। उन्होंने बताया कि आस-पास साफ-सफाई और हाइजीन प्रोटोकॉल का पालन करके इस बीमारी को कमतर किया जा सकता है। इसके साथ ही जन्म के बाद बच्चों को हेपेटाइटिस की वैक्सीन लगाया जाना चाहिए। क्योंकि इनके कारण हेपेटाइटिस महामारी जैसी बनती जा रही है और हर साल इसकी वजह से होने वाली मृत्यु के आंकड़े भी बढ़ते जा रहें है। हेपेटाइटिस का टाइप बी और सी लाखों लोगों में क्रोनिक बीमारी का कारण बन रहें है, क्योंकि इनके कारण लीवर में सिरोसिस और कैंसर होते है। हेपेटाइटिस के बारे में जागरूकता पैदा करने और जन्म के बाद बच्चे को वैक्सीन देकर उसे हेपेटाइटिस से बचाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि हेपेटाइटिस-सी, एचसीवी के कारण होता है और जैसे प्रदूषित खाना, प्रदूषित पानी के कारण भी होता है। हेपेटाइटिस के लक्षण पीलिया, बहुत अधिक थकान, पेट में दर्द, सूजन, खुजली, भूख न लगना, अचानक से वजन कम होना आदि लक्षण होने पर हेपेटाइटिस बी और सी की रोकथाम के संक्रमण को रोकने के लिये सभी शासकीय संस्थाओं पर डॉक्टर से संपर्क करना चाहिये। हेपेटाइटिस के लक्षण होने पर जिला चिकित्सालय में निःशुल्क जांच एवं उपचार लें, जिससे इस बीमारी से बचा जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं: