सीतामढ़ी : ऋण आवेदनों को त्वरित निपटारा करें : डीएम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 जून 2022

सीतामढ़ी : ऋण आवेदनों को त्वरित निपटारा करें : डीएम

sitamarhi-dm
सीतामढ़ी . इस जिले के जिला पदाधिकारी मणेश कुमार मीणा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय परामर्शदात्री समिति सह जिला समन्वय समिति की समीक्षा बैठक समाहरणालय के परिचर्चा भवन में आयोजित की गई.जिलाधिकारी ने बैंकरों को जिले के विकास योजनाओं के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश दिए.जिलाधिकारी ने सर्टिफिकेट केस में बैंकों के एन पी ए बकायेदारों की सूची जिला नीलाम पदाधिकारी को उपलब्ध कराने को कहा ताकि उन पर त्वरित करवाई की जा सके. अग्रणी जिला प्रबंधक लाल बहादुर पासवान के द्वारा बैंक के दिसंबर तिमाही यानी कि 31 मार्च 2022 तक की उपलब्धि पर चर्चा की गई.इस दौरान सभी बैंक के द्वारा मार्च 2022 महीने तक प्राप्त की गई उपलब्धियों की बारी-बारी से समीक्षा की गई.समीक्षा के क्रम में यह तथ्य सामने आया कि मार्च 2022 तिमाही तक लक्ष्य के विरुद्ध जिले की उपलब्धि 71.56% रही साथ ही साख-जमा अनुपात में जिले की उपलब्धि 50.76% रही है।. जिसपर जिलाधिकारी ने सभी बैंकों के जिला समन्वयकों को जिले में साख-जमा अनुपात को बढ़ाने के लिए निर्देशित किया है और अगले वर्ष में बेहतर उपलब्धि प्राप्त करने के निर्देश दिया. जिलाधिकारी ने बैंकों को निर्देशित किया कि अगले विगत वर्ष में जिले में और सुधार करते हुए वार्षिक साख योजना, साख जमा अनुपात, सरकार प्रायोजित योजनाएं जैसे  प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना, कृषि ऋण, मुद्रा योजना के साथ  प्रधानमंत्री के महत्वाकांक्षी योजनाओं जैसे सामाजिक सुरक्षा योजनाएं जिसके तहत पीएमएसबीवाई, पीएमजेजेबीवाई, जन धन योजना एवं अटल पेंशन योजना में जिले की उपलब्धि अच्छी हो.इसके लिए जिलाधिकारी ने प्रथम तिमाही से ही लक्ष्य के अनुरूप काम करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि सभी बैंकर अच्छे तरीके से काम करें, जिससे जिले की उपलब्धि बढ़ सके. जिला पदाधिकारी ने निर्देश दिया  कि प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना एवं प्रधानमंत्री जीवन सुरक्षा योजना के लाभुकों के मृत्यु के पश्चात बीमा का लाभ लेने के लिए उनके परिजनों को आवश्यक कागजात पासबुक की छायाप्रति, के0वा0ई0सी0, मृत्यु प्रमाण पत्र एवं आवेदन के साथ  संबंधित बैंक में जाकर मृत्यु के 90 दिनों के अंदर योजना का लाभ देने को लेकर प्रचार-प्रसार के माध्यम से लोगों में जागरूकता  लाने का काम करे.एवं सभी बैंकों में संबंधित पोस्टर, बैनर लगाने का भी निर्देश दिया. साथ ही सोशल मीडिया के माध्यम से भी प्रचार- प्रसार करना सुनिश्चित करें.


उन्होंने ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरएसईटीआई) द्वारा किए गए ट्रेनिंग प्रोग्राम की भी समीक्षा की गई.जिसमें पाया गया कि आरएसईटीआई  द्वारा लक्ष्य को हासिल कर लिया गया है.जिले में बेहतर तरीके से काम को करने के लिए सभी बैंक शाखाओं को एक-एक प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना एवं एक-एक पशुपालन संबंधी केसीसी लोन करने को निर्देशित किया गया.साथ ही सभी जिला समन्वयकों को अपने शाखा की उपलब्धि को तिमाही प्रगति रिपोर्ट के साथ समीक्षा करने और डाटा उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया. जिला पदाधिकारी ने ऋण आवेदनों की समीक्षा के लिए अलग से बैंकों की मासिक बैठक का भी निर्देश दिया.जिलाधिकारी ने बैंकरों को साख-जमा अनुपात एवं वार्षिक ऋण योजना में और तेजी लाने का निर्देश दिया ,साथ ही सभी बैंकों को वित्तीय वर्ष 2022-23 के वार्षिक ऋण योजना में लक्ष्य के अनुरूप प्रगति करने एवं ऋण जमा अनुपात को राष्ट्रीय स्तर पर 72% तक लाने की कार्यनीति बनाने का निर्देश दिया. ’डीडीएम नाबार्ड संजय कुमार चैधरी द्वारा भारत सरकार की विभिन्न योजनाओं जैसे कृषि आधारभूत फंड (आरएसइटीआई) के तहत बैंकों को ऋण प्रदान करने की सलाह दी गई, ताकि जिले में कृषि क्षेत्र में पूंजी सृजन को बढ़ावा मिले. जिलाधिकारी ने मत्स्य विभाग, उद्योग विभाग एवं पशुपालन विभाग को उचित कार्रवाई करने का दिशा निर्देश दिया एवं लंबित ऋण संबंधी आवेदनों को को जल्द से जल्द निपटारा करने का भी आदेश दिया. बैठक के अंत मे जिला पदाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि अस्वीकृत मामलों में कारण सहित प्रतिवेदन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें.साथ ही उन्होंने निर्देश दिया कि 30 जून तक सभी सी0एस0पी0 सेंटर अपने अपने गांव में सर्वे कर जिनका भी बचत खाता नहीं खुला  है उनका बचत खाता खोलना सुनिश्चित करें.उन्होंने  एलडीएम को निर्देश दिया कि अगली बैठक से पूर्व किसी भी बैंक का सी0एस0पी0 सेंटर जिले के सभी पंचायतों में खुलना सुनिश्चित करें. उक्त बैठक में अग्रणी जिला प्रबंधक, लाल बहादुर पासवान,  वरीय उप समहर्ता शशि भूषण कुमार, इति चतुर्वेदी, डीडीएम नाबार्ड संजय कुमार चौधरी,एलबीओ आरबीआई गौरव सिंह, निदेशक,आरएसईटीआई  सुनील कुमार महतो, के साथ सभी बैंकों के जिला समन्वयक सहित सभी संबंधित जिला स्तरीय पदाधिकारी यथा जिला कृषि पदाधिकारी अनिल कुमार, जिला नीलाम पत्र अधिकारी, महाप्रबंधक, जिला उद्योग केंद्र आदि उपस्थित थे.  

कोई टिप्पणी नहीं: