बिहार : इंटर के सभी छात्र-छात्राओं को व्यवसायिक कोर्स करना होगा अनिवार्य - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 26 जून 2022

बिहार : इंटर के सभी छात्र-छात्राओं को व्यवसायिक कोर्स करना होगा अनिवार्य

vocational-courses-compulsory-in-schools
पटना : बिहार सरकार और शिक्षा विभाग के निर्णय बाद बिहार बोर्ड ने राज्य में 32 स्कूलों में वोकेशनल सब्जेक्ट पढ़ना अनिवार्य कर दिया है। इंटर में नामांकन लेने वाले छात्रों को इन विषयों का चयन करना होगा। हालांकि यह छठे विषय के तौर पर होगा। इसके तहत स्कूल में दो-दो ट्रेड की पढ़ाई होगी। हर ट्रेड में 25 सीटें अनिवार्य किया गया है। अब इन स्कूलों में नामांकन लेने वाले विज्ञान, कला या वाणिज्य संकाय के छात्रों को छठे विषय के तौर एक ट्रेड लेना अनिवार्य होगा। बता दें कि,वर्तमान में राज्यभर के 90 स्कूलों में व्यावसायिक ट्रेड की पढ़ाई होती है। इसमें 90 स्कूलों में तीन-तीन ट्रेड में 25-25 सीटें हैं। सबसे ज्यादा पटना जिले में 13 स्कूल हैं। इसके अलावा नालंदा सीवान-सासाराम में तीन, मुजफ्फरपुर और भागलपुर में पांच, दरभंगा में चार, सारण, भोजपुर और कटिहार में दो-दो स्कूल शामिल हैं। बोर्ड द्वारा स्कूलवार वोकेशनल कोर्स की सूची अलग से जारी की गई है। अभी तक वोकेशनल कोर्स को नियमित कोर्स साथ जारी की जाती थी, लेकिन पहली बार बोर्ड ने वोकेशनल कोर्स के स्कूल और कॉलेजों की सूची अलग से जारी की है। इस बार सभी कोर्स मिलाकर 69 सौ सीटों पर नामांकन लिया जाएगा। अभी तक पांच हजार सीटें ही व्यावसायिक पाठ्यक्रम के लिए थी। लेकिन, अब इसकी सीटें बढ़ा दी गई है। वहीं,इसको लेकर बोर्ड के शैक्षणिक निदेशक द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के अनुसार व्यवसायिक कोर्स के लिए 100 अंकों की परीक्षा होगी। जिसमें 30 अंक थ्योरी व 50 अंक का प्रैक्टिकल होगा। इसके साथ ही 20 अंक वोकेशनल शिक्षक के द्वारा दिया जाएगा। चयनित ट्रेडों के लिए अलग से व्यावसायिक शिक्षा संस्थान के माध्यम से पाठ्यक्रम तैयार किया गया है।बोर्ड ने निर्देश दिया है कि राज्य के स्कूलों के लिए चिह्नित ट्रेडों के अनुसार सुरक्षा, ब्यूटीशियन, टूरिज्म, रिटेल मैनेजमेंट, ऑटोमोबाइल कोर्स बच्चे पढ़ेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: