मधुबनी : महिला उत्थान एवं जागरूकता पहल शुरू किया माँ अन्नपूर्णा महिला मंच ने - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 जून 2022

मधुबनी : महिला उत्थान एवं जागरूकता पहल शुरू किया माँ अन्नपूर्णा महिला मंच ने

  • नि:शुल्क सिलाई मशीन प्रशिक्षण शिविर शुरू किया माँ अन्नपूर्णा महिला मंच ने, महिला जागरूकता एवं उत्थान में मिलेगी मदद
  • माँ अन्नपूर्णा महिला मंच ने ठाना है, महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाना है :- सबिता देवी।
  • प्रशिक्षण शिविर में महिलाओं एवं युवतियों को निःशुल्क सिलाई सीखाएंगें :- कामिनी साह।

जयनगर /मधुबनी, जिले के जयनगर में माँ अन्नपूर्णा महिला मंच ने महिलाओं एवं युवतियों को आत्मनिर्भर एवं स्वंय के पैर पर खड़ा होने की पहल पर निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण शिविर शुरू किया गया। सर्वप्रथम पूरे विधि-विधान से देवी-देवताओं की पूजा अर्चना की गई, तत्पश्चात हवन भी किया गया। इसके बाद समाजसेवी राजू सरदार, प्रसिद्ध चिकित्सक डॉ० मनोहर जायसवाल, दिनेश पूर्वे, संरक्षक प्रवीर महासेठ, हीरा मांझी, रोहन रंजन सिंह, सुरेन्द्र महतो, गणेश कांस्यकार, पवन सिंह, रवि साह, अमित कुमार राउत, संतोष शर्मा, सबिता देवी, कामिनी साह, प्रियंका देवी एवं संस्था के सदस्यों ने सामूहिक रूप से फीता काटकर कार्यक्रम का उदघाटन किया।


इस मौके पर संस्था की कामिनी साह ने बताया कि हमारी संस्था समय-समय पर क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के सामाजिक हित के कार्य करती रहती है। समाज हित में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेती है। संस्था की ओर से महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में यह कदम संपूर्ण क्षेत्र में एक विशेष बदलाव लेकर आएगा, जिससे हमारे क्षेत्र की माताएं बहने आत्मनिर्भर बनेंगे व सामाजिक विकास में अहम कड़ी साबित होंगी। सबिता देवी ने कहा कि ने बताया कि इस कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र के विभिन्न गांवों में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने के लिए सिलाई व अन्य प्रकार के कार्यों का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। महिला सशक्तिकरण के अभियान में यह बड़ा कदम है। उन्होंने बताया कि इस प्रकार के प्रशिक्षण शिविर विभिन्न गांव में समय-समय पर आयोजित किए जाएंगे, जिससे ग्रामीण क्षेत्र की महिलाएं आत्मनिर्भर बन सकें व परिवार के लालन-पालन तथा समाज में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकें। वहीं, संस्था के मुस्कान शर्मा ने कहा कि प्रशिक्षण शिविर में सभी प्रशिक्षणार्थियों को मैनुअल सिलाई मशीन के बारे में विस्तृत जानकारी दी जाएगी। मशीनों की मरम्मत एवं रखरखाव की भी जानकारी दी जाएगी। इसके बाद सभी प्रशिक्षणार्थियों को हैंडस आन ट्रेनिग प्रदान की जाएगी, जिसमें उन्हें सिलाई मशीनों से संबंधित प्रतिदिन आने वाली समस्याओं व उनके निदान से अवगत कराया जाएगा। वहीं, सदस्या दुर्गा देवी ने कहा कि ने बताया कि यदि आप कार्य को गुणवत्ता के स्तर पर ले जाते हैं, तो आप व्यवसायिक रूप में भी कार्य कर सकते हैं, जिसमें कई स्वयंसेवी संस्था इनका पूर्ण सहयोग करेगी। उन्होंने सभी प्रशिक्षणार्थियों से कहा कि आप सभी उन महिलाओं के लिए एक आदर्श हैं, जो आपसे प्रेरित होकर अपने घरों से बाहर निकलीं तथा इस प्रशिक्षण में प्रतिभाग किया। उन्होंने कहा कि आप सभी को प्रशिक्षण के पश्चात करने हेतु काम भी संस्था मुहैया करवाएगी। वहीं, संस्था की प्रियंका देवी ने कहा कि इससे महिलाएं आत्मनिर्भर होंगी, ओर पलायन पर भी रोक लगेगी। साथ इससे महिलाओं के खिलाफ हो रहे प्रताड़ना एवं उत्पीड़न के मामलों में भी कमी आएगी, क्योंकि ऐसे निःशुल्क प्रशिक्षण शिविर से महिलाएं आत्मनिर्भर बनेंगी। वहीं, इस मौके पर संस्था के मुख्य कॉर्डिनेटर अमित कुमार राउत ने कहा कि इस प्रशिक्षण शिविर में युवतियों और महिलाओं को सिलाई की क्लास में सिलाई मशीन से सम्बन्धित सब कुछ सिखाया जाएगा। मसलन साड़ी में फाल लगाने, हुक, बटन, कुर्ती, सलवार गाउन, लहंगा, ब्लाउज, तरह-तरह के डिज़ाइनर गाउन बनाना, पेटिकोट, छोटे बच्चे के फ्रॉक बनाना भी सिखाया गया। घरेलू उपयोग की बैग बनाना भी बताया जाएगा, और भी अनेक जानकारी सिलाई के लिए दी जाएंगी। सभी को सिलाई से सम्बन्धित सभी बारीकियों को सिखाया जाएगा, जिससे आगे चल कर ये महिलाएं अपना खुद का एक व्यापार शुरु कर सकती है। इससे महिला आत्मनिर्भर होकर घर के प्रति अपनी जिम्मेदारी उठा सकती है।  बता दें कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए माँ अन्नपूर्णा महिला मंच निःशुल्क सिलाई प्रशिक्षण शिविर का शुरू किया है, जिसमें पहके रजिस्ट्रेशन करवाया गया, ततपश्चात आज से विधिवत उनकी प्रशिक्षण शुरू की जा रही है। इस मौके पर सैकड़ों की संख्या में लोग मौजूद रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: