प्रतापगढ़ पेड़ लगाने का लो संकल्प, प्रकृति बचाने का यही विकल्प : एडीजे तम्बोली - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 23 जुलाई 2022

प्रतापगढ़ पेड़ लगाने का लो संकल्प, प्रकृति बचाने का यही विकल्प : एडीजे तम्बोली

  • प्राधिकरण वृक्षारोपण अभियान निरन्तर जारी

pratapgarh-up-news
प्रतापगढ़, आज दिनांक 22.07.2022 को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, प्रतापगढ़ द्वारा निरन्तर जारी वृक्षारोपण अभियान को गति देते हुए ग्राम पंचायत सिद्धपुरा एवं ग्राम पंचायत कुलमीपुरा में वृक्षारोपण किया। जहां पंचायत सचिव, सरपंच, ग्रामीणों, विद्यालय अध्यापकगण ने सक्रिय भूमिका निभाई। प्राधिकरण सचिव, अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश शिव प्रसाद तम्बोली द्वारा अभियान के तहत वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें ग्राम पंचायत सिद्धपुरा के राजकीय प्राथमिक विद्यालय करमदीखेड़ा के परिसर में विभिन्न प्रकार के पौधे लगाये गये। प्राधिकरण द्वारा संचालित वृक्षारोपण के इस अभियान में प्रत्येक ग्राम पंचायत सरपंच, सचिव, और आम जन द्वारा अपनी भूमिका का निर्वहन किया जा रहा है। वृक्षारोपण के कार्यक्रम के पश्चात उपस्थित लोगों को विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के बारे में जागरूक करने के उद्धेश्य से विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया।  शिविर के दौरान प्राधिकरण सचिव श्री तम्बोली ने उपस्थित अध्यापकगण, सचिव एवं आमजन से अपील की कि ऐसे बच्चे जो स्कूली शिक्षा से ड्रॉप आऊट हो गये है, जिन्होनें अपनी स्कूली शिक्षा बीच में ही छोड़ दी है, ऐसे बच्चों को चिन्हित करते हुए उन्हें पुनः स्कूली शिक्षा से जोड़े एवं बच्चों के अच्छे भविष्य के निर्माण में अपना सहयोग दें। साथ ही ऐसे बच्चे जिनके पिता या माता अथवा दोनों की मृत्यु कोरोना की वजह से हो गई है, उन्हें पालनहार योजना का लाभ दिलाने में मदद करें। उपस्थित काश्तकारों को कम लागत में उन्नत खेती के उपाय भी बताये। प्राधिकरण सचिव ने काश्तकारों को रासायनिक कीटनाशक एवं खाद के स्थान पर देशी कीटनाशक एवं देशी खाद का उपयोग करने की सलाह दी। स्वयं द्वारा इनके निर्माण की सामान्य विधि के बारे मंे भी समझाया। श्रम विभाग द्वारा श्रमिकों के हितार्थ संचालित विभिन्न योजनाओं का लाभ लेने के लिये श्रमिक कार्ड बनवाने की सलाह दी, जिसके लिये श्रम विभाग से पंजीयन कराया जाना आवश्यक है। श्रम विभाग में पंजीयन हो जाने के पश्चात श्रमिकों के बच्चों को छात्रवृत्ति, पंजीकृत श्रमिक की पत्नी अथवा पंजीकृत महिला श्रमिकों को प्रसुति सहायता भी विभाग द्वारा प्रदान की जाती है, जिसके लिये श्रम विभाग में आवेदन किया जाना चाहिये। इसी के साथ बड़ौदा स्वरोजगार विकास संस्थान प्रतापगढ़ के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि संस्थान द्वारा निःशुल्क सिलाई, वर्मी कम्पोस्ट बनाना, पापड़ उद्योग, अगरबत्ती बनाना आदि कईं ऐसे प्रशिक्षण निःशुल्क करवाये जाते हैं। इसी दिवस ग्राम पंचायत कुलमीपुरा के नकोर स्थित मुक्ति धाम पर भी विभिन्न प्रकार के पौधों का रोपण किया गया। जहां उपस्थित समस्त लोगों को नव रोपित पौधों की देखभाल, सुरक्षा का जिम्मा लेने हेतु अपील की। काश्तकारों को कच्ची तलाई बनाकर जल संचय करने की सलाह दी एवं इससे होने वाले फायदों के बारे में बताया। काश्तकारों को कृषि संबंधी कईं महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत कराया। उपस्थित काश्तकारों को अपने खेतों पर प्रधानमंत्री कुसुम योजना के अन्तर्गत सोलर प्लांट स्थापित कर बिजली की बचत करने की सलाह भी दी।   

कोई टिप्पणी नहीं: