शहद से आ रही है किसानों के जीवन में मिठास: मोदी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 31 जुलाई 2022

शहद से आ रही है किसानों के जीवन में मिठास: मोदी

sweetness-in-farmers-lives-is-coming-from-honey-modi
नयी दिल्ली 31 जुलाई, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि शहद से किसानों के जीवन में मिठास आ रही है और उनकी हालत में सुधार हो रहा है। श्री मोदी ने आकाशवाणी पर अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' की 91वीं कड़ी में देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि किसान इन दिनों शहद के उत्पादन में ऐसा ही कमाल कर रहे हैं। शहद की मिठास हमारे किसानों का जीवन भी बदल रही है, उनकी आय भी बढ़ा रही है। हरियाणा के यमुनानगर में मधुमक्खी पालक सुभाष कंबोज, जम्मू के पल्ली गाँव में विनोद कुमार, कर्नाटक के मधुकेश्वर हेगड़े और गोरखपुर के निमित्त सिंह का उल्लेख करते हुए श्री मोदी ने कहा कि पारंपरिक स्वास्थ्य विज्ञान में शहद को महत्व दिया गया है। आयुर्वेद ग्रंथों में तो शहद को अमृत बताया गया है। शहद, न केवल हमें स्वाद देता है, बल्कि आरोग्य भी देता है। शहद उत्पादन में आज इतनी अधिक संभावनाएं हैं कि पेशेवर पढ़ाई करने वाले युवा भी, इसे, अपना स्वरोजगार बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे युवाओं की मेहनत से ही आज देश इतना बड़ा शहद उत्पादक बन रहा है।देश से शहद का निर्यात भी बढ़ गया है। देश ने राष्ट्रीय मधुमक्खी पालन एवं शहद मिशन जैसे अभियान चलाए, किसानों ने पूरा परिश्रम किया, और हमारे शहद की मिठास, दुनिया तक पहुँचने लगी। उन्होंने कहा, " अभी इस क्षेत्र में और भी बड़ी संभावनाएं मौजूद हैं। मैं चाहूँगा कि हमारे युवा इन अवसरों से जुड़कर उनका लाभ लें और नई संभावनाओं को साकार करें।" 

कोई टिप्पणी नहीं: