यातायात के लिए शुरू हुआ बेनिटो जुआरेज अंडरपास - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शनिवार, 2 जुलाई 2022

यातायात के लिए शुरू हुआ बेनिटो जुआरेज अंडरपास

benito-juarez-underpass
नयी दिल्ली 02 जुलाई, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री व पीडब्ल्यूडी मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि बेनिटो जुआरेज अंडरपास शुरू होने से दिल्ली-गुडगाँव के बीच सफ़र करने वाले लाखों लोगों को फायदा होगा और उनके समय की बचत होगी। श्री सिसोदिया ने शनिवार को 1200 मीटर लम्बे बेनिटो जुआरेज अंडरपास का शनिवार को लोकार्पण किया। इस मौके पर श्री सिसोदिया ने कहा कि इस अंडरपास के शुरू होने से रोजाना दिल्ली-गुडगाँव के बीच सफ़र करने वाले लाखों लोगों को फायदा होगा और उनके समय की बचत होगी। उन्होंने कहा कि इस अंडरपास के शुरू होने से यहां रोजाना ट्रैफिक के कारण व्यर्थ जाने वाले 2181 लीटर ईधन की बचत होगी और रोजाना 5.11 टन कार्बनडाईआक्साइड गैस का उत्सर्जन कम होगा जिससे प्रदुषण कम होगा। उन्होंने कहा कि बेनिटो जुआरेज अंडरपास दिल्ली का पहला ऐसा अंडरपास है जिसे ‘वाई’ शेप में बनाया गया है जो शानदार इंजीनियरिंग का परिणाम है। इस अंडरपास से न केवल आसपास के लोगों को बल्कि रोजाना दिल्ली व गुडगाँव के बीच सफ़र करने वाले लाखों लोगों को भी फायदा होगा व धौलाकुआँ, सरदार पटेल मार्ग सहित एयरपोर्ट के बीच सुबह-शाम होने वाले ट्रैफिक में कमी आएगी। उन्होंने बताया कि इस अंडरपास से रोजाना 2181 लीटर ईधन की बचत होगी साथ ही रोजाना कार्बनडाईऑक्साइड के उत्सर्जन में पांच टन से ज्यादा की कमी आएगी और सालाना इससे लोगों के 18 करोड़ रुपयों की बचत होगी। उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का एक सपना है कि दिल्ली के स्कूल-अस्पताल शानदार बनें तो वहीँ उनका दूसरा सपना है कि दिल्ली की सड़कें शानदार बने और शानदार होने के साथ-साथ उनकी ख़ूबसूरती भी बढ़ें। दिल्ली की 1-1 सड़के ऐसी दिखे की दिल्ली के लोगों को उनपर गर्व हो। इस दिशा में बेनिटो जुआरेज मार्ग पर स्थित ये अंडरपास मुख्यमंत्री के दिल्ली के यातायात व परिवहन को सुगम बनाने के विज़न का हिस्सा है। उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य दिल्ली के सड़कों को सुंदर बनाकर लोगों के एक जगह से दूसरी जगह जाने के अनुभव को बेहतर बनाना है। इसको लेकर हमने शानदार योजनाएँ बनाई है और दिल्ली में पीडब्ल्यूडी के अंतर्गत आने वाले 1400 किमी की सड़कों को शानदार बनाने का काम किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि बेनिटो जुआरेज अंडरपास से अब दक्षिणी दिल्ली में रहने वालों को ट्रैफिक से होने वाली परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस अंडरपास से राव तुला राम (आरटीआर) मार्ग, रिंग रोड और धौला कुआं पर ट्रैफिक का भार कम होगा। अभी गुरुग्राम व एयरपोर्ट की ओर से एम्स, मोतीबाग व मध्य दिल्ली जाने के लिए धौलाकुआं से होकर आना-जाना पड़ता है। अंडरपास शुरू होने के बाद ये लोग सीधे आउटर रिंग रोड होते हुए बीजे मार्ग और वहां से अंडरपास होते हुए एम्स या मोती बाग की ओर जा सकेंगे। अंडरपास दुर्गा बाई देशमुख साउथ कैंपस मेट्रो स्टेशन से वाई शेप में दो दिशाओं में बनाया गया है। एक हिस्सा सैन मार्टिन रोड और दूसरा रिंग रोड पर निकला है। अंडरपास शुरू हो जाने से धौलाकुआं पर ट्रैफिक का दबाव कम हो जाएगा। इतना ही नहीं परियोजना के एक हिस्से के रूप में सैन मार्टिन मार्ग और बेनिटो जुआरेज मार्ग पर अंडरपास के दो हिस्सों को जोड़ने वाला एक 670 मीटर स्काईवॉक भी बनाया गया है। 

कोई टिप्पणी नहीं: