डोम शेप मूवी थियेटर "छोटू महाराज सिने कैफे" का वाराणसी में हुआ उद्घाटन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 31 जुलाई 2022

डोम शेप मूवी थियेटर "छोटू महाराज सिने कैफे" का वाराणसी में हुआ उद्घाटन

k-sera-sera-miniplex
मुंबई/वाराणसी:  के सेरा सेरा ने नया प्रयोग करते हुए गर्व से अपने पहले डोम शेप के सिनेमाघर "छोटू महाराज सिने कैफे" का वाराणसी में उद्घाटन किया है। विकेश जायसवाल उत्तर प्रदेश में वाराणसी के पहले फ्रैंचाइजी मालिक हैं, जिन्होंने बनारस को यह अनोखा डोम स्ट्रक्चर सिने कैफे प्रस्तुत किया है। डोम थिएटर के साथ यहां एक रेस्टॉरेंट, बैंक्वेट हॉल और किड्स प्ले जोन भी है। के सेरा सेरा के चेयरमैन सतीश पंचारिया ने कहा कि के सेरा सेरा ने भारत भर में 9000 छोटू महाराज सिनेमा खोलने की योजना बनाई है, जिसमें से 300 छोटू महाराज सिनेमा यूपी में खुलने हैं, कंपनी ने अब तक यूपी में 30 सिनेमाघरों के साथ यह डील साइन की है।  गौरतलब है कि के सेरा सेरा मीडिया और मनोरंजन क्षेत्र की अग्रणी कंपनी है जो फिल्म निर्माण, फिल्म वितरण और फ़िल्म के प्रदर्शन में सक्रिय है। के सेरा सेरा ने 2018 में भारत के टायर 2 और टायर 3 शहरों के किफायती थिएटरों में बड़े पैमाने पर व्यावसायिक अवसर की तलाश में "छोटू महाराज सिनेमा" का अपना पायलट प्रोजेक्ट लॉन्च किया। छोटू महाराज अपने आप में एक अनूठा अवसर है जो सिनेमा थिएटर के नए कारोबारी के लिए कम से कम 40 से 50 लाख के निवेश के साथ शुरू किया जा सकता है। गौरतलब है कि छोटू महाराज भारत की सबसे तेजी से बढ़ती सिनेमा श्रृंखला है, छोटू महाराज सिंगल स्क्रीन डोम थियेटर में इसके 40 फीट वाले सिने कैफे में 100 लोगों के बैठने की क्षमता और इसके 50 फीट सिने कैफे में 150 सीटों की क्षमता है। अपनी विशेषताओं के साथ इग्लू डोम स्ट्रक्चर्ड थियेटर का आकार किसी भी शहर के लिए आकर्षण का केंद्र होता है। इसकी संरचना मजबूत और ठोस सामग्री से की गई है जो दर्शकों की सुरक्षा के लिए इसे और अधिक विश्वसनीय बनाती है। इस थिएटर को सिर्फ 15 दिनों में इंस्टॉल किया जा सकता है, जिसे आवश्यकता पड़ने पर आसानी से स्थानांतरित भी किया जा सकता है। इसमें किफायती दाम पर दर्शकों के लिए भोजन भी उपलब्ध किया जाता है। उल्लेखनीय है कि के सेरा सेरा पिछले दो दशकों से फिल्म निर्माण, वितरण, एक्जीबिशन के क्षेत्र में है। कंपनी ने सरकार, सरकार राज, पार्टनर, गोलमाल, अब तक छप्पन जैसी ब्लॉकबस्टर फिल्मों का निर्माण किया है और 100 से अधिक ब्लॉकबस्टर फिल्में वितरित की हैं। के सेरा सेरा भारत के सबसे बड़े डिजिटल सर्विस प्रोवाइडर्स में से एक है। इसकी तकनीक का उपयोग दुनिया में 1800 से अधिक सिनेमा पार्टनर्स और भारत में 800 से अधिक सिनेमा पार्टनर्स द्वारा किया जाता है। के सेरा सेरा हर साल लगभग 1000 से अधिक रीजनल और बॉलीवुड कंटेंट की प्रोसेसिंग करता है। के सेरा सेरा भारतीय सिनेमा इंडस्ट्री में एचडी तकनीक लाने वाली पहली कंपनी है। कंपनी के पास के सेरा सेरा मिनीप्लेक्स और छोटू महाराज सिने कैफे ब्रांड नाम से सिनेमा मिनीप्लेक्स की एक श्रृंखला भी है, जो भारतीय सिनेमा उद्योग में क्रांति लाने वाली थिएटर परियोजना में दुनिया का पहला गुंबद के आकार का सिनेमा है, चेयरमैन सतीश पंचारिया कहते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: