मधुबनी : आज सेवानिवृत्त होंगे अपर समाहर्ता अवधेश राम - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 31 जुलाई 2022

मधुबनी : आज सेवानिवृत्त होंगे अपर समाहर्ता अवधेश राम

  • ■ 30 वर्षों तक सफलतापूर्वक प्रशासनिक सेवा में रहने के उपरांत आज 31 जुलाई को सेवानिवृत्त होंगे अपर समाहर्ता अवधेश राम।
  •  इस अवसर पर कल शनिवार को आयोजित सम्मान समारोह में उपस्थित डीएम-एसपी सहित तमाम अधिकारियों ने उनके कार्यकाल की भूरी-भूरी प्रशंसा किया।
  • अधिकारियों ने अवधेश राम को उनके वाहन में बैठाकर अपने हाथों से वाहन को धक्का देकर ससम्मान विदा किया ।

madhubani-news
मधुबनी, 30 वर्षों तक सफलतापूर्वक प्रशासनिक सेवा में रहने के उपरांत आज 31 जुलाई को सेवानिवृत्त होंगे अपर समाहर्ता अवधेश राम। इस अवसर शनिवार देर शाम मिथिला चित्रकला संस्थान, सौराठ में आयोजित सेवानिवृति सह सम्मान समारोह में अपर समाहर्ता सह अपर जिला दंडाधिकारी, मधुबनी अवधेश राम को डीएम-एसपी सहित जिले के तमाम पदाधिकारियो ने उनको सम्मानित करते हुए उनके कार्यकाल की एक स्वर में भूरी-भूरी प्रशंसा किया। उक्त सम्मान समारोह में जिले के प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियो से लेकर जिलास्तरीय अधिकारियों ने भाग लिया। जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा ने अवधेश राम की सेवा और लगन की मुक्त कंठ से सराहना करते हुए कहा कि इनके प्रशानिक अनुभवों का लाभ जिला प्रशासन के साथ-साथ सम्पूर्ण जिला को मिला। उन्होंने कहा कि कुछ महीनों के साथ में अपर समाहर्ता के द्वारा दिए गए सुझावों और उनकी दैनिक क्रियाकलापों से वे प्रभावित हुए। उन्होंने अच्छे स्वास्थ्य की कामना करते हुए सेवानिवृति के बाद उन जिम्मिवारियों को पूरा करने की सलाह दी जिनका निर्वाहन सेवा की व्यस्तता के कारण नहीं किया जा सका। पुलिस अधीक्षक सुशील कुमार ने भी उनके प्रशानिक अनुभवों एवम उनके व्यवहार कुशलता की तारीफ किया। अपर समाहर्ता ने अपने संबोधन में  कहा कि सेवा में बहुत कुछ सीखने को मिलता है। कई प्रकार के उतार चढ़ाव आते हैं, परंतु आदमी को आगे बढ़ते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि गलतियां किसी से भी हो सकती हैं। अज्ञानता या भूलवश की गई गलतियां क्षमा की जाने योग्य हैं। परंतु, कोई जान बूझ कर गलतियां करे, ये स्वीकार्य नहीं हो सकता। सेवा के अपने शुरुआती दिनों में झारखंड में अपने सेवा काल की चुनौतियों को भी उन्होंने याद किया और कहा कि स्थान, काल व परिस्थिति के अनुरूप लिए गए निर्णय प्रासंगिक होते हैं। उन्होंने कार्य सम्पादन में सहयोग के लिए अधीनस्थ सभी कर्मियों को भी धन्यवाद ज्ञापित किया और जिलाधिकारी के कार्यशैली की प्रशंसा की।कार्यक्रम की समाप्ति के उपरांत जिलाधिकारी अरविन्द कुमार वर्मा सहित तमाम पदाधिकारियो ने एडीएम अवधेश राम को उनके वाहन में बैठाकर अपने हाथों से वाहन को धक्का देकर विदा किया। मौके पर अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, फुलपरास सुरेंद्र राय ने गुदगुदाने वाले अंदाज में सभी अधिकारियों की ओर से कहा कि अपर समाहर्ता द्वारा हर छोटे बड़े अवसर पर दिए जाने वाले सुझावों के साथ साथ एक अभिभावक के रूप में अपर समाहर्ता द्वारा समय समय पर दिए जाने वाले चाय नाश्ते के निमंत्रण को सभी अधिकारी बहुत याद करेंगे। उक्त अवसर पर पुलिस अधीक्षक, सुशील कुमार, उप विकास आयुक्त, विशाल राज, नगर आयुक्त, अनिल चौधरी, अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, बेनीपट्टी, किशोर कुमार, वरीय उप समाहर्ता, विकास कुमार सहित अन्य लोगों ने भी अपर समाहर्ता के कार्यशैली की भूरी भूरी प्रशंसा की और सभी ने उनके उत्तम स्वास्थ्य की कामना करते हुए उन्हें विदाई दी। इस आयोजन के अवसर पर विशेष कार्य पदाधिकारी, जिला गोपनीय शाखा, अमेत विक्रम बैनामी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, परिमल कुमार, उप निदेशक, मिथिला चित्रकला संस्थान, बालेंदु पांडे, कार्यपालक अभियंता, भवन, अनिल कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, सदर, अश्वनी कुमार, अनुमंडल पदाधिकारी, जयनगर,बेबी कुमारी, अनुमंडल पदाधिकारी, झंझारपुर, शैलेश कुमार चौधरी,  वरीय उप समाहर्ता, आरती कुमारी, वरीय उप समाहर्ता, नलिनी कुमारी, जिला पंचायत राज पदाधिकारी, शैलेंद्र कुमार सहित जिले के सभी प्रखंडों के अंचल अधिकारी व अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: