सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 03 जुलाई - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 3 जुलाई 2022

सीहोर (मध्य प्रदेश) की खबर 03 जुलाई

प्राचीन मरीह माता मंदिर में श्रद्धालुओं का लगा तांता, दिन रात जारी मां की साधना


sehore-news
सीहोर। शहर के विश्रामघाट मां चौसट योगिनी मरीह माता मंदिर में आषाढ़ गुप्त नवरात्रि का पावन पर्व अवसर पर नियमित रूप से सुबह देवी के नौ रूप की आराधना की जा रही है, वहीं देर रात्रि को विशेष प्रकार की साधना की जाती है। इस संबंध में जानकारी देते हुए मंदिर के व्यवस्थापक रोहित मेवाड़ा ने बताया कि रविवार को सुबह मां चौसट योगिनी की पूजा अर्चना की गई और उसके पश्चात यज्ञ के द्वारा आहुतियां दी गई। वहीं सोमवार को मंदिर परिसर में पार्थिव शिवलिंगों का निर्माण किया जाएगा। सुबह साढ़े आठ बजे बड़ी संख्या में पंडित उमेश दुबे, ज्योतिषाचार्य पंडित गणेश शर्मा, मनोज दीक्षित मामा, राकेश शर्मा, रितेश अग्रवाल के द्वारा इसके पश्चात आरती की जाएगी।


कूष्माण्डा देवी की पूजा की

पंडित श्री दुबे ने कहा कि मंदिर परिसर में हर नवरात्रि पर प्रतिदिन देवी की पूजा के साथ भगवान शिव की आराधना की जाती है। शिव और शक्ति के मिलन से ही इस संसार में कल्याण होता है। उन्होंने बताया कि नवरात्रि के चतुर्थ दिन शक्ति कुष्मांडा की पूजा अर्चना की जाती है अपनी हल्की हंसी से ब्रह्मांड को उत्पन्न करने के कारण इनका नाम कूष्मांडा पड़ा।  देवी कुष्मांडा कुंडली में नीच के बुध को नियंत्रित करती हैं तथा अनाहत चक्र को नियंत्रित करती है। मां कुष्मांडा को कुम्हड़ा विशेष रूप से प्रिय होने के कारण भी इनका नाम कूष्मांडा पड़ा.  देवी कुष्मांडा की पूजा अर्चना करके नौकरी व्यापार तथा नाक कान गले से संबंधित बीमारियां दूर होती है। देवी कुष्मांडा की विशेष पूजा से वाणी प्रभावित होती है और आपकी वाणी द्वारा कार्य सिद्ध होता है।  उन्होंनं बताया कि नौ देवियों के साथ हर रोज दस महाविद्याओं का भी आह्वान किया जाता है। उन्होंने बताया कि काली, तारा, त्रिपुरसुंदरी, भुवनेश्वरी, छिन्नमस्ता, त्रिपुरभैरवी, धूमावती, बगलामुखी, मातंगी और कमला शामिल है। प्रवृति के अनुसार दस महाविद्या के तीन समूह हैं। पहला सौम्य कोटि (त्रिपुर सुंदरी, भुवनेश्वरी, मातंगी, कमला), दूसरा उग्र कोटि (काली, छिन्नमस्ता, धूमावती, बगलामुखी, तीसरा सौम्य-उग्र कोटि (तारा और त्रिपुर भैरवी)। मंदिर में पूजा अर्चना आदि का क्रम जारी है। हर साल बड़ी संख्या में यहां पर श्रद्धालु माता के दर्शन के लिए आते है। यहां पर चारों नवरात्रि पर माता की पूजा अर्चना की जाती है। 


लायंस क्लब के द्वारा डॉक्टरों का किया सम्मान


sehore-news
सीहोर। डॉक्टर्स डे के उपलक्ष्य में लायंस क्लब सीहोर शौर्य के सदस्यों द्वारा एक निजी अस्पातल में पहुंचकर डॉक्टर सिरिल आर्य और डॉ रिचा मोदी का सम्मान किया गया। लॉयन खुशी उपाध्याय, लॉयन सीमा परिहार, लॉयन आरती ठकराल, लायन रानू अग्रवाल आदि उपस्थित थे। श्रीमती उपाध्याय ने कहा कि डॉक्टरों का कार्य जीवन देना है। धरती पर डॉक्टर ही भगवान होते हैं। इस मान्यता को कोरोना संक्रमण के दौर में चरितार्थ होते देखा गया है। जब अपने सगे संबधी भी साथ छोड़ रहे थे, तब मानवता की पुकार पर डॉक्टरों ने हाथ थामा। वहीं इस दौरान श्रीमती परिहार ने कहा कि कोरोना काल में चिकित्सकों की बदौलत ही लाखों लोगों की जान बच पाई है। चिकित्सक समाज का प्रमुख अंग है। उनका सम्मान सभी का कर्तव्य है।


महाकाल की तर्ज पर निकाली जाएगी भव्य शिव पालकी यात्रा, युवा समाजसेवी रिंकू जायसवाल बने अध्यक्ष


sehore-news
सीहोर। हर साल की तरह इस साल भी सिद्धेश्वर महादेव मंदिर समिति के तत्वाधान में निकाली जाने वाली शिव पालकी यात्रा इस वर्ष आस्था और उत्साह के साथ महाकाल की तर्ज पर निकाली जाएगी। रविवार को समिति की बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक के दौरान सर्व सम्मति से युवा समाजसेवी रिंकू जायसवाल को अध्यक्ष बनाया गया है। इस संबंध में जानकारी देते हुए शिव पालकी की यात्रा समिति के संस्थापक किशोर कौशल ने जानकारी देते हुए बताया कि रविवार को आयोजित बैठक के दौरान वरिष्ठ समाजसेवी अखिलेश राय ने करीब ढाई फीट ऊंची और 15 किलो के भगवान भोलेनाथ का स्वरूप समिति को भेंट किया है जो आगामी दिनों में बर्फानी बाबा के साथ-साथ चल समारोह में आकर्षण का केन्द्र रहेगा। नव नियुक्त शिव पालकी यात्रा समिति के अध्यक्ष श्री जायसवाल ने बताया कि पिछले दो सालों से कोरोना काल के कारण श्रावण मास में निकाली पालकी यात्रा सादगी के साथ निकाली गई थी, लेकिन इस वर्ष पूरे उत्साह के साथ यात्रा निकाली जाएगी। श्रावणमास के तृतीय सोमवार आगामी 1 अगस्त  भगवान भोलेनाथ की पालकी यात्रा बड़े ही हर्ष उल्लास के साथ निकाली जाऐगी जिसके लिए समिति के सदस्यण युद्वस्तर पर तैयारी में जुटे है। आयोजन समिति के संस्थापक किशोर कौशल ने बताया कि सावन मास के तृतीय सोमवार को नगर शिवमय होग शिव भक्त जहां शिव पालकी यात्रा में शमिल होकर जमकर झूमेगे वही सावन के तीसरे सोमवार नगर के शिवालयों में दिन भर अभिषेक और दर्शनो के लिए शिव भक्तों का तांता लगा रहेगा दोपहर 12 बजे कोतवाली चौराहा स्थित श्री सिद्वेश्रवर महादेव मंदिर से पालकी यात्रा शुरू होगी जो नगर के प्रमुख मार्गा से होती हुई मनकामेश्रवर महादेव मंदिर बावडी पहुंचेगी यहां महाआरती का आयोजन किया गया है आयोजन समिति ने  शहर की सभी धर्म प्रेमी बंधुओं एवं शिव भक्तों  से अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने कि अपील की है। बैठक के दौरान वरिष्ठ समाजसेवी भामाशाह अखिलेश राय ने लगातार निकाली जाने वाली भव्य पालकी यात्रा समिति के सभी अध्यक्षों को संरक्षक के रूप में समिति के रूप में शामिल कर उनकी अनुकारिणी सेवा के लिए भगवान भोलेनाथ के मंत्र से उच्चारित दुपट् पहनाकर पुष्प मालाओं के साथ स्वागत किया। बैठक के दौरान समिति के पदाधिकारियों के अलावा क्षेत्र के गणमान्य नागरिक मौजूद थे। पालकी यात्रा वर्ष 2003 से लगातार निकाली जा रही है। इस वर्ष पालकी यात्रा भव्य रूप से ऐतिहासिक स्वरूप में निकाली जाएगी।


भाजपा ने सीहोर नगर के विकास को लेकर जारी किया संकल्प पत्र

  • सीहोर के नागरिको को पिलायेंगे नर्मदा का जल,उज्जैन महांकाल मन्दिर,सलकनपुर विजयासन मन्दिर की तरह गणेश मंदिर का होगा कायाकल्प

sehore-news
सीहोर। सीहोर नगर के सम्पूर्ण विकास के संकल्प के साथ भाजपा नगर पालिका चुनाव में जनता की सेवा के लिये मैदान में है। जिस तरह देश और प्रदेश की सरकार के निर्माण में जनता का आशीर्वाद भाजपा को मिला। उसी तरह सीहोर नगर सरकार के लिये सीहोर की जनता का आशीर्वाद 6 जुलाई को भाजपा को मिलेगा। नगर विकास के लिये भाजपा ने आज अपना संकल्प पत्र जारी किया। आज सीहोर जिला भाजपा अध्यक्ष श्री रवि मालवीय,विधायक श्री सुदेश राय, भाजपा की जिला प्रभारी श्री बहादुरसिंह मुकाती,जिला महामंत्री राजकुमार गुप्ता,नरेश मेवाड़ा,रमाकांत समाधिया,प्रिंस राठौर ने सीहोर नपा चुनाव को लेकर भाजपा का संकल्प पत्र जारी किया। भाजपा के जिला मीडिया प्रभारी सुशील संचेती, नपा चुनाव के मीडिया प्रभारी महेन्द्र ठाकुर ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर जारी किये संकल्प पत्र की जानकारी दी।


"सीहोर शहर विकास की बात"

1. सीहोर नगर में प्रतिदिन समय पर पर्याप्त पेयजल उपलब्धता सुनिश्चित करना।

2. नर्मदा का जल सीहोर नगर में पेयजल के रूप में प्रदाय (कार्य प्रगति पर है।)

3. नगर में बहने वाले नाले का गहरीकरण और रिटर्निंग वॉल का निर्माण

4. श्री गणेश मंदिर धाम पर महाकाल जी और सलकनपुर की तर्ज पर ट्रस्ट का निर्माण कर भव्य और विशाल रूप में विकसित करना।

5. जिला अस्पताल में 400 अतिरिक्त बेड के साथ 20 करोड़ की लागत से विस्तार कार्य।

6. शहर में हर मार्ग का निर्माण, सैकड़ाखेडी मार्ग, हाउसिंग बोर्ड से चौपाल सागर तक बने फोरलेन की तरह शहर की सडको का निर्माण व उसमें विद्युत सजावट 

7. शहर के मध्य में स्थित पुलो को नव निर्माण, जिस प्रकार टाउन हॉल के सामने अस्पताल के पास सीवन नदी पर बना पुल।

8. बड़ियाखेडी औद्योगिक क्षेत्र को ओर विकसित करना एवं सीहोर नगर में नये उद्योग  स्थापित करना जिसमें स्थानीय लोगो को रोजगार मिले।

9. सीहोर नगर को भोपाल राजधानी का उप नगर बनाना ।

10. सीहोर नगर में मेट्रो ट्रेन के विस्तार हेतु भोपाल नगर से जोड़ना ।

11. सीहोर नगर में स्पोर्टस कॉम्पलेक्स खेल मैदान का निर्माण 

12. रेशम केन्द्र के पास 365.00 लाख की लागत से मल्टी परपस जिम व स्वीमिंग पुल का निर्माण जिसमें ओलपिंक स्टेडर्ड-बी का 21 25 मीटर का स्वीमिंग पुल 8 लेन के निर्माण कार्य होगा। मल्टी परपस जिमनेजियम एवं फूल कोर्ट का भी निर्माण होगा। जिससे शहर की तैराकी प्रतिभाओं को अपनी प्रतिभा को निखारने का अवसर मिलेगा साथ ही शहर के लोगो को फिटनेस एवं स्वास्थ्य सुविधा भी मिलेगी।

13. ठोस अपशिष्ट निपटान कार्य हेतु 8.35 करोड की लागत शहर के प्रतिदिन निकलने वाले 50 टन कचरे प्रोसेसिंग कार्य होगा। जिससे शहर सुन्दर एवं कचरा मुक्त बनाया जावेगा तथा स्वच्छ पर्यावरण भी मिर्नित होगा।

14. टाउन हाल के पास 441.43 लाख की लागत से 500 सीटर सुसज्जिद ऑडीटोरियम हाल का निर्माण होगा जिसमें 500 व्यक्तियों के बैठने की सुविध के साथ स्टेज,साउण्ड,फिक्स चेयर,एकोस्टिकस की सुविधा एवं परिसर में लेण्ड स्केपिंग एवं पार्किंग की सुविधा भी होगी।

15. भोपाल नाके के पास 1.88 करोड की लागत से व्यवसायिक भवन का निर्माण कार्य होगा जिसमें 38 दुकानो के निर्माण के साथ उपरी तल पर मल्टीपरपस हाल का निर्माण सुनियोजित तरीके से होगा जिससे आने वाले समय में शहर के युवाओ को रोजगार का अवसर मिलेगा।

16. टाउन हाल के पास 15.00 की लागत से स्टापडेम का निर्माण होगा जिसमें टाउन हाल के पास स्टाप डेम नाले का चौडीकरण एवं गहरीकरण का कार्य होगा जिसमें आने वाले समय 1.50 करोड लीटर का पानी एकत्रित होगा जिससे जल भरण क्षमता में वृ़ि़द्व के साथ ग्राउण्ड वाटर रिचार्ज का कार्य भी करेगा।

17. मुख्यमंत्री संजीवनी क्लिनिक का निर्माण कार्य जिसमें 25.00 25.00 लाख की लागत से शहर के लेवर कालोनी,श्यामा प्रसाद मुखर्जी कालोनी एवं कस्बा क्षेत्र में तीन नये मुख्यमंत्री संजीवनी क्लिनिक का निर्माण कार्य किया जावेगा। शहर के निवासियों को उनके निवास के पास ही चिकित्सा सुविधा का लाभ मिले इसको ध्यान में रखते हुऐ यह कार्य किये जावेगे। पूर्व में मात्र मण्डी क्षेत्र में यह सुविधा थी । 

18. सीहोर शहर में अनेक स्थानो पर वाई-फाई जोन बनाना ।

19. नगर के सभी चौराहो का सौन्दर्यकरण ।

20. सीहोर रेलवे स्टेशन का रेल यात्रियो की सुविधाओ को देखते हुये विस्तार ।

21. हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के पास आर.ओ.बी. का निर्माण ।

22. सीहोर नगर में सभी पार्को को अति सुन्दर बनाना और इन पार्को में मोरनिंग वॉक हेतु वॉकिंग ट्रेक का निर्माण, साथ ही पार्क में बच्चो को खेलने के लिये झुले स्थापित करना।

23. नगर में सीवेज लाइन को सुव्यवस्थित रखने के साथ सुबह और रात को साफ सफाई और घर-घर से कचरा कलेक्शन कराना।

24. नगर में वाहन खडे करने के लिये पार्किंग सुविधा ।

25. नगर के खेल मैदानो को विकसित करना ।

26. शहर में बहने वाली सीवन नदी के दोनो तरफ सौन्दर्यकरण घाट का निर्माण एवं वृक्षारोपण किया जायेगा। 

27. श्रमिको के बच्चो के लिये पालन घर बनाये जाने की व्यवस्था सुनिश्चित की जावेगी। 

28. शहर में गौशाला का निर्माण ।


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसलों का बीमा 31 जुलाई तक होगा


प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत वर्ष 2022-23 खरीफ एवं रबी मौसम के लिए क्लस्टरवार निर्धारित कर बीमा कंपनियों को आदेश जारी किये जा चुके है। फसलों का बीमा ऋणी एवं अऋणी कृषक 31 जुलाई तक करवा सकते है। अऋणी किसान अधिसूचित फसलो का बीमा बैंक, लोक सेवा केन्द्र या फसल बीमा पोर्टल पर जाकर स्वयं सोयाबीन, मक्का, कपास, ज्वार, बाजरा, अरहर, मूंगफली, मूंग व उड़द फसल का बीमा करा सकते हैं। ऋणी कृषको का बीमा संबंधित बैंकों के माध्यम से किया जायेगा। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत मौसम खरीफ 2022 के लिए अधिसूचित पटवारी हल्का अंतर्गत किसानों की अधिसूचित फसलों का बीमा करने के लिए बैंकों द्वारा प्रीमियम नामे किये जाने की अंतिम तिथि 31 जुलाई निर्धारित है। बैंकों द्वारा बीमित किसानों की प्रविष्टि के लिए भारत सरकार के फसल बीमा पोर्टल (NCIP Portal) पर समय सीमा में प्रविष्टि किया जाना आवश्यक है। बोई गई फसल की क्षति के समय कृषकों को हानि से बचने के लिये तथा बोई जाने वाली फसल में किसान द्वारा किसी भी प्रकार का परिवर्तन किया गया है, तो किसान द्वारा संबंधित बैंक से सम्पर्क कर बीमांकन की अंतिम तिथि के 2 दिन पहले यानि 29 जुलाई तक बोई गई वास्तविक फसल की जानकारी बैंकों उपलब्ध कराया जाना है। किसानों की सुविधा को देखते हुए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना मौसम खरीफ 2022 अन्तर्गत प्रदेश में नेशनल क्रॉप इन्श्योरेन्स पोर्टल पर भू-अभिलेख के एकीकरण का कार्य किया जा रहा है। पंजीयन के समय कृषक की भूमि धारिता संबंधी जानकारी भू-अभिलेख के आधार पर पोर्टल में ड्राप डाउन पर उपलब्ध हो सकेगी। जिसमें बीमाकर्ता (बैंकर्स, कामन सर्विस सेन्टर, स्वंय कृषक) द्वारा संगत खसरा नंबर का चयन कर धारित भूमि का बीमा किया जा सकेगा। किसानों की सुविधा को देखते हुए पंजीयन के दौरान खसरा नंबर तथा बीमित भूमि के क्षेत्रफल की सही-सही जानकारी बैंक द्वारा NCIP पोर्टल पर दर्ज की जाना है, जिससे किसानों को समय पर सही बीमा पॉलिसी जारी हो सकेगी।

कोई टिप्पणी नहीं: