जनजातीय विकास समिति आनंदपुरी की त्रैमासिक बैठक टामटिया में आयोजन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 5 जुलाई 2022

जनजातीय विकास समिति आनंदपुरी की त्रैमासिक बैठक टामटिया में आयोजन

trible-meating
राजस्थान के दक्षिण में  जनजातीय समुदायों में  वाग्धारा संस्थान बाॅसवाड़ा द्वारा गठित ब्लाॅक स्तरीय जनजातीय विकास समिति की त्रेमासिक बैठक का आयोजन गांव टामटिया  में  अटल सेवा केन्द्र  किया गया  बैठक में उपस्थित सभी संगठन के पदाधिकारियों एवं ग्रामीण जन का वाग्धारा संस्थान से सहजकर्ता मानसिंह नीनामा ने स्वागत व आभार व्यक्त किया | बैठक में  जनजातिय स्वराज संगठन सहयोग ईकाई मानगढ के  ईकाई प्रबंधक प्रशांत थोरात ने सभी को ब्लॉक स्तरीय जनजातीय विकास समिति की मुख्य भूमिका के बारे में अवगत करायाउन्होने कहाँ की लोग निःस्वार्थ भाव सेे हलमा के द्वारा मिलजुल कर एक दुसरे का सहयोग करते थे द्य लेकिन वर्तमान समय में  देखा जाऐ तो ज्यादातर जनजातीय परिवार व गांव बाजारीकरण के कारण आपसी प्रेमभाव, स्नेह, मेल-जोल एवं अपने परम्परागत कौशल, ज्ञान, स्वावलम्बन व स्वराज से कोसो दुर जा चुके है। ग्राम विकास का बजट सरकार की तरफ से आता हैए उसका सही उपयोग करने में समुदाय की भूमिका होती हैए जिस पर हम सभी को सोचना होगा द्य ग्राम सभाओं में जाकर अपनी सहभागिता निभानी होगी | ये स्थिति दिनोदिन बढती जा रही है। जिससे समुदायों मंे आपसी बिखराब के साथ ही आजीविका के साधनो में  कमी आयी है लेकिन कही न कही ग्राम स्वराज की चुनौतियाँ आज भी हमारे गांवों मे है। इसके लिए संगठनो की भूमिका महत्वपूर्ण हैं  सहजकर्ता मानसिंग निनामा ने बताया कि जनजातीय विकास समिति के उपस्थित सदस्य एवं समुदाय द्वारा आपस में  मिलजुल कर समुदाय के हित को ध्यान में  रखते हुए निर्णय लेना है कि स्वराज संगठनों के माध्यम आवाज पहुंचानी है कि सरकार द्वारा जनजातिय किसानों को स्थानिय देशी बीज समय पर उपलब्ध करवाया जाये एवं कम से कम 2 नीतिगत मुद्वे को लेकर नेतृत्व करने के लिए ब्लाॅक स्तरीय समिति से शुरू की गई कार्यवाही को जनजातीय विकास मंच  लाने हेतू समर्थन किया  सामुदायिक स्तर पर पहल की जानी है कि हमारे गांवो से पलायन की स्थिति को कम करने के लिए हम सभी को सामुदायिक भावना से काम करना होगा एवं ग्राम सभाओं में  समुदाय की सहभागिता को बढाना एवं ग्राम विकास योजना में  अपनी भागीदारी को सुनिश्चित करना होगा। एवं श्रमदान के माध्यम से एक दुसरे की मदद भी करनी होगी एवं सभी उपस्थित सदस्य अपने अपने गांवों में व अपनी अपनी ग्राम पंचायतों में जाकर ज्यादा से ज्यादा लोगो की ग्राम सभा में  भागीदारी के साथ ही ग्राम सभा में समुदाय की सहभागिता को बढाना एवं ग्राम विकास योजना में  अपनी भागीदारी को सुनिश्चित करना होगा | इस दोरान सहजकर्ता  भुरालाल लाल, सुरेश पटेल , नाथू लाल पारगी,दिपीका, कमजी भाई सविता देवी , कांता देवी  ,छगन लाल  अशोक कमला देवी कंकू देवी, खेमराज, आदि उपस्थित रहे । अंत में  सभी का स्वराज सगठन अध्यक्ष सोहन ताबियार ने आभार व्यक्त किया।

कोई टिप्पणी नहीं: