हथकरघा समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक : शाह - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 7 अगस्त 2022

हथकरघा समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक : शाह

handloom-rich-and-diverse-cultural-heritage-shah
नई दिल्ली 07 अगस्त, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर रविवार को देशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि हथकरघा क्षेत्र देश की समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक है। श्री शाह ने रविवार को सिलसिलेवार ट्वीट् में कहा ,“ भारत का हथकरघा क्षेत्र हमारी समृद्ध और विविध सांस्कृतिक विरासत का प्रतीक है। वर्ष 2015 में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने आज ही के दिन 1905 में शुरू हुए स्वदेशी आंदोलन को मनाने और इस प्राचीन भारतीय कला को पुनर्जीवित करने के लिए 07 अगस्त को राष्ट्रीय हथकरघा दिवस घोषित किया था।“ गृह मंत्री ने कहा ,“ इसका उद्देश्य देशवासियों को स्वदेशी बुनकरों द्वारा बनाए गए हथकरघा उत्पादों का उपयोग करने के लिए प्रोत्साहित करना भी है। आइए इस 8वें राष्ट्रीय हथकरघा दिवस पर, अपनी हथकरघा विरासत को संरक्षित करने और बढ़ावा देने तथा अपने हथकरघा बुनकरों, विशेष रूप से महिलाओं को सशक्त बनाने के मोदी सरकार के संकल्प को मिलकर आगे बढ़ाएं।“

कोई टिप्पणी नहीं: