जनता से बिश्वासघात करने बाली भाजपा को अपने गिरेबान में झांकना चाहिए : माले - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 14 अगस्त 2022

जनता से बिश्वासघात करने बाली भाजपा को अपने गिरेबान में झांकना चाहिए : माले

मंहगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, रुपए के अवमूल्यन बिरोधी जनभावना व जन आक्रोश के सहारे सत्ता में आई भाजपा ने जनता को धोखा दिया -ध्रुब कर्ण

  • महाराष्ट्र का बदला, बिहार ने लेकर, देश को महत्वपूर्ण संदेश दिया है

cpi-ml-madhubani
मधुबनी/ 14 अगस्त, भाकपा-माले बिहार राज्य कमिटी सदस्य सह जिला सचिव ध्रुब नारायण कर्ण ने भाजपा द्वारा "विश्वासघात"दिवस मनाने को एक नौटंकी करार देते हुए कहा है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने मंहगाई, बेरोजगारी, भ्रष्टाचार व रुपए के अवमूल्यन के खिलाफ आवाज का उठाकर जनता से वोट मांगा था। मंहगाई दूर करने, प्रत्येक बर्ष दो करोड़ नौजवानों को नौकरी देने, भ्रष्टाचार समाप्त करने, रुपए का मूल्य ऊपर उठाने और आतंकवाद को समाप्त करने का जनता से वायदा किया था। परंतु जनता से किए गए सारे वायदे के खिलाफ ही कार्य करते आ रहे हैं।आज आलम तो यह है कि मंहगाई, बेरोजगारी व भ्रष्टाचार चरम पर है।इन सबालों को लेकर कोई आवाज भाजपा की तरफ से नहीं उठ रहे हैं। और जो लोग जनता के सवालों को लेकर आवाज उठा रहे हैं,उस पर झूठे मुकदमों में फंसाये जा रहें हैं। बहुतों को जेल भेजा गया है और अभी भी जेल की हवा खिलवा रहे हैं। इस तरह जनता से पूरी तरह बिश्वासघात कर चुकी भाजपा, अब नीतीश कुमार को महागठबंधन में शामिल होकर सरकार मनाने पर बिधवा बिलाप कर रही, विश्वासघात दिवस मना रही हैं।

       माले नेता ने आगे कहा कि हाल ही में महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे को मोहरा बनाकर सरकार पलट कराने बाली भाजपा को जब बिहार ने बदला चूकाया है तो,वे तिलमिला उठा है। उसने जब बर्ष 2017 में महागठबंधन की चुनी गई सरकार को गिरवाकर खुद सरकार बनाया था, वह दिन भूल गया है। इसलिए भाजपा को बिधवा बिलाप बंद कर अपने गिरेबान में झांकना चाहिए।।

कोई टिप्पणी नहीं: