किशनगंज : बैंकर्स के साथ भी समीक्षा बैठक - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

शुक्रवार, 12 अगस्त 2022

किशनगंज : बैंकर्स के साथ भी समीक्षा बैठक

kishanganj-news-today
किशनगंज :  किशनगंज जिले के समाहर्त्ता श्री श्रीकांत शास्त्री के द्वारा समाहरणालय परिसर स्थित सभाकक्ष में सभी अंचलाधिकारी के कार्यों,राजस्व संग्रहण एवं आंतरिक संसाधन समिति, नीलाम पत्र वाद से संबंधित कार्यों की समीक्षा की गई.साथ ही, सरफेसी एक्ट के तहत बैक ऋणी के संपति निलामी के निमित सभी बैंक के समन्वयक ,बैंकर्स के साथ भी समीक्षा बैठक आयोजित की गयी. सभी अंचलाधिकारी के कार्यों की समीक्षा बैठक में ऑनलाइन दाखिल खारिज,भू लगान वसूली,सेस ,मांग वसूली, अभियान बसेरा, बासगीत पर्चा वितरण,एलपीसी निर्गत करने की अद्यतन स्थिति, गैर मजरूआ आम भूमि तथा गैर मजरूआ मालिक भूमि  बंदोबस्ती ,लोक भूमि अतिक्रमण ,जल संचयन का अतिक्रमण,न्यायालय वाद, भू हदबंदी,भू-दान ,सरजमीं सेवा समेत कटाव निरोधक कार्य व बाढ़ संघर्षात्मक तैयारियो आदि के बिन्दु पर गहन समीक्षा करते हुए पिछले बैठक में दिए गए निर्देश के अनुपालन की समीक्षा की गई. समाहर्त्ता, श्री श्रीकांत शास्त्री के द्वारा संभावित बाढ़ की तैयारियों के मद्देनजर सभी अंचल में उपलब्ध संसाधन व उनका ससमय सही ढंग से उपयोग करने,नदियों के बढ रहे जल स्तर व कटाव की समीक्षा कर सभी सीओ को निर्देश दिया गया कि बाढ के मद्देनजर नदियों के जल स्तर को मॉनिटर करते रहे.कोई भी अप्रिय घटना की सूचना प्राप्त होते ही रेस्क्यू कराए और आवश्यकतानुसार एनडीआरएफ का सहयोग लें.नदी कटाव ,क्षतिग्रस्त तटबंध/बांध मरम्मति के लिए बाढ़ नियंत्रण व जल निस्सरण के अंचल में कार्यरत कनीय अभियंता से समन्वय बनाकर संभावित बाढ़ की विभीषिका से लोगो को राहत दिलवाएं. इसी प्रकार वृहद परियोजनाओं के भू अर्जन यथा अररिया - गलगलिया रेल लाइन,इंडो नेपाल सड़क में अधिग्रहित होने वाली भूमि के निमित किए जाने वाले कार्यों में प्रगति संतोषजनक नहीं पाए जाने पर अंचल अधिकारी,ठाकुरगंज,दिघलबैंक और टेढ़ागांछ को संबंधित एजेंसी से समन्वय स्थापित कर कार्य निष्पादित करने का निर्देश दिया गया. राजस्व संग्रहण कार्य की समीक्षा उपरांत राजस्व वादों के त्वरित निष्पादन का निर्देश सभी अंचलाधिकारियों को दिया गया. ऑनलाइन दाखिल खारिज वाद सहित परिमार्जन पोर्टल पर डाटा एंट्री कार्य में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया. लंबित म्यूटेशन को शीघ्रातिशीघ्र निष्पादित करने तथा ऑपरेशन अभियान बसेरा अंतर्गत पर्चा वितरण,सर्वे सूची के आधार पर भूमिहीन को जमीन बंदोबस्त पर्चा वितरण करने के लिए आधिकारिक प्रस्ताव तैयार करने का निर्देश सभी सीओ को दिया गया. सभी अंचलाधिकारी को कंपाइलेशन शीट भी पूर्ण करने का भी निर्देश दिया गया.खराब प्रदर्शन वाले अंचल को निर्देश दिया गया कि डीसीएलआर ,किशनगंज से समन्वय करते हुए ऑनलाइन अपलोड,एंट्री सुनिश्चित कराए. सरकारी भूमि,रैयती जमीन के अतिक्रमण को जिलाधिकारी ने गंभीरता से लेते हुए लोक भूमि अतिक्रमण अधिनियम के आलोक में सख्त कार्रवाई करने का निर्देश सभी सीओ को दिया गया. भूमि विवाद और राजस्व संग्रहण को लेकर जिलाधिकारी काफी गंभीर दिखे. अंचलाधिकारियो के प्रदर्शन पर  नाराजगी व्यक्त करते हुए मौके पर सीओ,टेढ़ागाछ और दिघलबैंक का वेतन स्थगित रखने का निर्देश दिया. इसी प्रकार आंतरिक संसाधन समिति की बैठक में  राजस्व संग्रहण के बिन्दु पर विभागवार समीक्षा हुई.वाणिज्य कर,परिवहन, खनन,निबंधन,राष्ट्रीय बचत ,नगर परिषद किशनगंज,नगर निकाय बहादुरगंज व ठाकुरगंज, विधिक मापक,सहकारिता, विद्युत,मत्स्य,उत्पाद वन,कृषि,औषधि निरीक्षक से संबंधित कार्यों ,प्राप्त लक्ष्य के अनुरूप राजस्व संग्रह आदि के बिन्दु पर उनके पदाधिकारियों द्वारा कृत कार्रवाई से अवगत कराया गया। उनके कार्यों की समीक्षा के क्रम में समाहर्ता, श्री शास्त्री ने राजस्व संग्रह में वृद्धि समेत अपने संसाधनों को चिन्हित कर राजस्व वसूली का प्रतिशत बढ़ाने का निर्देश दिया. परिवहन विभाग की समीक्षा के क्रम में जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि अभियान चलाकर निर्धारित लक्ष्य की प्राप्ति करें। कार्य में कोताही नहीं बरतें.खनन विभाग की समीक्षा के क्रम में विभागीय अधिकारियों के राज्य मुख्यालय में आयोजित बैठक में भाग लेने की सूचना पर अलग से समीक्षा का निर्देश हुआ.माप तौल विभाग की समीक्षा के क्रम में बताया गया की उनका वार्षिक लक्ष्य के अनुरूप राजस्व संग्रहण के लिए कार्य किया जा रहा है.डीएम ने कहा कि कार्य के प्रति गंभीरता बरतें और रैंडम रूप से विभिन्न दुकान,पेट्रोल पंप पर माप तौल की जांच करें, अन्यथा कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार रहें.निबंधन कार्यालय,किशनगंज बहादुरगंज और ठाकुरगंज के अवर निबंधक और स्थानीय अंचलाधिकारी के बीच सामंजस्य का अभाव देखते हुए समाहर्त्ता ने संबधित पदाधिकारी को कड़ी फटकार लगाते हुए सरकारी भूमि के संरक्षण के लिए संकल्पित होकर दायित्व निर्वहन का निर्देश दिया. जिलाधिकारी ने सभी उपस्थित पदाधिकारियों को राजस्व वसूली अभियान में तेजी लाने का निर्देश दिया, ताकि वार्षिक लक्ष्य को प्राप्त किया जा सके.सभी अंचल अधिकारी को निर्देश दिया गया कि ईट - भट्ठा ,पेट्रोल पंप,होटल रेस्टोरेंट व अन्य वाणिज्यिक गतिविधि करने वाले स्थलों को चिन्हित कर उनका भू संपरिवर्तन कॉमर्शियल रूप में करवाए ताकि राजस्व क्षति को रोका जा सके.नियमानुसार यथाशीघ्र प्रस्ताव एसडीएम के पास भेजना सुनिश्चित करें. विधिक मापक को निर्देश दिया गया कि हाट बाजार में जाकर प्रयोग में लाए जा रहे माप तौल उपकरण व बाट,बटखरा की जांच औचक रूप से करें. साथ ही, नीलाम पत्र की समीक्षा के क्रम में सभी नीलाम पत्र पदाधिकारियों ,अंचल अधिकारियों के नीलाम पत्र वादों में प्रगति निराशाजनक रहने के कारण अधियाची पदाधिकारी के साथ समन्वय कर राजस्व वसूली तुरंत प्रारम्भ करने के निर्देश दिए गए. दिनांक 26 अगस्त को शिविर आयोजित कर संधारित राजस्व पंजी नौ व दस का मिलान करने का निर्देश सभी नीलाम पत्र पदाधिकारी को दिया गया. नीलम पत्र के वाद के निष्पादन में गंभीरता नहीं पाए जाने पर सीओ,ठाकुरगंज को सख्त चेतावनी देकर एक पक्ष में प्रगति लाने का निर्देश दिया गया. सरफेसी एक्ट 2002 अंतर्गत विभिन्न बैंक से कई प्रस्ताव प्राप्त हुए है,उनके बैंकर्स के स्तर से वाद के निष्पादन में गंभीरता नहीं दिखाए जाने पर समाहर्त्ता,श्री श्रीकांत शास्त्री ने नाराजगी व्यक्त करते हुए निर्देश दिया कि एलडीएम किशनगंज सुनिश्चित कराएंगे कि बैंक के प्रतिनिधि अनुमंडल दंडाधिकारी से समन्वय स्थापित कर वाद का निष्पादन अर्थात् नीलामी प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण करवाएं. उक्त बैठक में समाहर्त्ता के अतिरिक्त अपर समाहर्त्ता, अनुज कुमार , डीएलएओ संदीप कुमार,प्रभारी पदाधिकारी, जिला राजस्व प्रशाखा- सह- डीसीएलआर आफाक अहमद,जिला नीलाम पत्र पदाधिकारी रंजीत कुमार, सभी अंचल अधिकारी व राजस्व संग्रह करने वाले विभाग के अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे.

कोई टिप्पणी नहीं: