केन्द्र सरकार देश के स्वाभिमान को कभी झुकने नहीं देगी : राजनाथ - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 30 अगस्त 2022

केन्द्र सरकार देश के स्वाभिमान को कभी झुकने नहीं देगी : राजनाथ

government-will-never-let-the-self-respect-of-the-country-rajnath
उदयपुर 30 अगस्त, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने देश के लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा है कि केन्द्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत वर्तमान सरकार भारत के स्वाभिमान को कभी झुकने नहीं देंगी। श्री सिंह आज यहां उदयपुर नगर निगम की ओर से स्थापित बलिदानी पन्नाधाय की प्रतिमा का अनावरण करने के बाद आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत अब दुनिया का ताकतवर देश बन गया है। भारत ने आज तक किसी भी देश पर न आक्रमण किया है। न किसी जगह पर कब्जा किया है लेकिन भारत की ओर किसी ने आंख उठाकर बुरी नजरों से देखने की कोशिश की तो भारत ने उसका मुंह-तोड़ जवाब दिया है। श्री सिंह ने कहा कि रूस-यूक्रेन युद्ध का जिक्र करते हुये कहा कि रूस और यूक्रेन का युद्ध कुछ घंटे के लिए रोक दिया गया था और हमने 22 हजार से ज्यादा बच्चों को वहां से निकाल लिया। इसके लिए प्रधानमंत्री ने रूस और यूक्रेन के राष्ट्रपति से बात की थी। ऐसा कभी न हुआ, न होगा। उन्होंने कहा कि पहले सेना के जवानों के हाथों में जो बंदूक, मिसाइल हुआ करती थी वो दूसरे देशों के मुकाबले हल्की थी। अब हम बंदूक, रायफल, गोले, बारूद हम कुछ समय बाद दुनिया के देशों से नहीं खरीदेंगे। अब वह भारत की धरती पर बनेगा। उन्होंने कहा कि अब हम 13000 करोड़ का हथियार बेचते हैं। आठ साल पहले यह आंकड़ा सिर्फ 900 करोड़ था। वर्ष 2047 आते-आते यह 2.75 लाख करोड़ का होगा। 25 वर्षों का समय लगेगा। अमृतकाल खत्म होते-होते 2047 आते-आते भारत विश्वगुरू बनेगा। श्री सिंह ने लोगों से कहा कि पन्नाधाय का जो खून था वही खून आपके जिस्मों में है। बस याद करने की जरुरत है और याद कर लोगे तो कोई माई का लाल आंख उठाकर नहीं देखेगा। पन्नाधाय को याद करते हुए श्री सिंह ने कहा कि उनके सामने एक ही लक्ष्य था मेवाड़ साम्राज्य सुरक्षित रहना चाहिए। उन्होंने बलिदान देने वाली विश्नोई समाज की महिलाओं को भी याद किया। राजस्थान की तारीफ करते हुए श्री सिंह ने कहा कि यह राज्य देश ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया की ऐसी धरती है जहां वीरांगनाओं की हड्डी से धूल बनी है। यहां पर शोर्य और पराक्रम की इतनी गाथाएं है, जिनको कभी भुलाया नहीं जा सकता। कार्यक्रम में केंद्रीय राज्य मंत्री कृष्णपाल सिंह गुर्जर, राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया, उदयपुर संभाग के सांसद और विधायक मौजूद रहे। 

कोई टिप्पणी नहीं: