कांग्रेस ने पहले देश लूटा, अब अराजकता फैला रही है : भाजपा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 4 अगस्त 2022

कांग्रेस ने पहले देश लूटा, अब अराजकता फैला रही है : भाजपा

congress-first-looted-the-country-now-it-is-spreading-anarchy-bjp
नयी दिल्ली 04 अगस्त, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने कांग्रेस एवं उसके नेता राहुल गांधी पर आज आरोप लगाया कि उन्होंने भ्रष्टाचार करके देश को लूटा और उसके बाद वे देश में अराजकता फैलाने का प्रयास कर रहे हैं। भाजपा के प्रवक्ता गौरव भाटिया ने यहां पार्टी के केन्द्रीय कार्यालय में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, “कांग्रेस और श्री राहुल गांधी को ये बताना आवश्यक है कि जिस प्रकार का आचरण कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं द्वारा किया जा रहा है, ये उचित नहीं है। पहले आप चोरी करते हैं, देश को लूटते हैं और उसके बाद पूरे देश में अराजकता फैलाने का प्रयास कर रहे हैं।” श्री भाटिया ने कहा कि ये तथ्य भी सर्वविदित है कि श्रीमती सोनिया गांधी और श्री राहुल गांधी दोनों भ्रष्टाचार के आरोप में जमानत पर बाहर हैं। सार्वजनिक जीवन में आप हैं और आपकी जिम्मेदारी भी बड़ी है। आपको चाहिए कि जो सवाल जनता पूछ रही है और हम यहां से उठा रहे हैं, आप उनका उत्तर दें। उन्होंने कहा कि ये अनर्गल बयान सुनने में आ रहे हैं कि ईडी को सोनिया गांधी, राहुल गांधी से पूछताछ के लिए उनके घर जाना चाहिए। कांग्रेस के लिए श्रीमती सोनिया गांधी और श्री राहुल गांधी संविधान से ऊपर हैं। लेकिन कोई आरोपी है तो कानून कहता है कि उससे पूछताछ होगी और पूछताछ करने वाली एजेंसी के कार्यालय में ही होगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और गांधी परिवार के करीबी स्वर्गीय मोतीलाल वोरा के सिर पर पूरा ठीकरा फोड़ा जा रहा है। ये कहा जा रहा है कि हमें कुछ पता ही नहीं है, जो किया वो मोतीलाल वोरा जी ने किया। क्या ये सत्य नहीं कि यंग इंडिया में 38 फीसदी श्री राहुल गांधी की है और 38 फीसदी श्रीमती सोनिया गांधी की हिस्सेदारी है। उन्होंने कहा कि आधी से ज्यादा हिस्सेदारी में आपकी नियंत्रणकारी हिस्सेदारी है। जब नियंत्रणकारी हिस्सेदारी श्री राहुल गांधी और श्रीमती सोनिया गांधी की है, तो ठीकरा एक ऐसे व्यक्ति पर फोड़ा जा रहा है जो आज दुनिया में नहीं है। ये जो घोटाला हुआ, मनी लॉन्ड्रिंग की गई, ये किसने किया? ये फैसला किसने लिया था? श्री भाटिया ने कहा कि जिस कंपनी के पास कोई संपत्ति नहीं है उसे दूसरी कंपनी एक करोड़ रुपये क्यों देती है। राहुल गांधी की जेब से एक रुपया भी नहीं गया। लेकिन 2,000 करोड़ रुपये की संपत्ति का नियंत्रणकारी हिस्सेदारी उनकी हो गयी। ऐसा हमने कभी नहीं देखा, ये कैसे हो गया राहुल गांधी इसका भी जवाब दें।

कोई टिप्पणी नहीं: