झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 10 अगस्त - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

बुधवार, 10 अगस्त 2022

झाबुआ (मध्य प्रदेश) की खबर 10 अगस्त

विश्व आदिवासी दिवस पर जिले में अलग-अलग संगठनों और जयस ने निकाली रैली, जिले की संस्कृति और परपंरा का दिखा रंग

  • गीतों पर युवाओं ने किया नृत्य, उत्कृष्ट मैदान पर सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं सभा का हुआ आयोजन

jhabua-news
झाबुआ। 9 अगस्त, विश्व आदिवासी दिवस के उपलक्ष में मंगलवार को जिले में अलग-अलग संगठनों, जयस और समाजजनों द्वारा रैली निकालकर इस दिन का खुशियां मनाई गई। रैलियों मंे संगठनों के पदाधिकारी और समाज के लोग अपनी संस्कृति एवं परपंरा अनुसार संजकर नृत्य करते हुए शामिल हुए। समापन पर उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और सभा का आयोजन हुआ। जिसमें वक्ताओं ने समाज को संविधान में प्रदत्त किए गए अधिकारों और इतिहास के बारे में जानकारी दी। विश्व आदिवासी दिवस समारोह समिति द्वारा मंगलवार को दोपहर रानापुर तिराहे पर जिले के क्रांतिकारी टंट्या भील की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर रैली की शुरूआत की गई। जिसमें आगे डीजे पर युवा जिले की संस्कृति के अनुरूप सजकर ढोल और मांदल के बीच नृत्य करते हुए सम्मिलित हुए। इस बीच महिलाएं भी आदिवासी परिधानों में सजकर सम्मिलित हुई। यात्रा में बड़ी संख्या में समिति से जुड़े पदाधिकारी और समाजजनों ने हिस्सा लिया। यह यात्रा शहर के मोजीपाड़ा, गोपाल कॉलोनी, राजगढ़ नाका, डीआरपी लाईन तिराहा सहित अन्य मार्गों से होते हुए उत्कृष्ट विद्यालय पहुंची।


जयस ने दिलीप गेट से निकाली यात्रा

इसी बीच जय आदिवासी युवा शक्ति संगठन (जयस) द्वारा शहर के दिलीप गेट पर स्थापित स्व. सांसद दिलीपसिंह भूरिया की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए रैली निकाली गई। जिसमें जयस जिलाध्यक्ष विजय डामोर, बंटी सिंगार, वैभव खराड़ी सहित अन्य पदाधिकारी आगे संस्कृति के अनुरूप सजकर आगे चले। हाथों में तीर-कमान लेकर नारे लगाए गए। पीछे डीजे पर युवाओं की टोलियां नांचते हुए शामिल हुई। यह रैली चेतन्य मार्ग, विजय स्तंभ तिराहा, जिला चिकित्सालय मार्ग, बस स्टेंड चौराहा सहित अन्य मार्गों से होकर निकली। इस इन दिन शहर में कई अन्य संगठनों द्वारा भी रैली का आयोजन किया गया। दिनभर उत्साह बना रहा।


आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष में आध्यात्मिक रक्षा सूत्र एवं तिरंगा यात्रा का हुआ आयोजन

  • पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों को ब्रम्हकुमारी बहनों ने बांधे रक्षा सत्र, तिरंगा यात्रा में भी की भागीदारी

झाबुआ। भारत की आजादी के 75वें अमृत महोत्सव के उपलक्ष में आध्यात्मिक रक्षा सूत्र एवं तिरंगा यात्रा का आयोजन पुलिस अधीक्षक अरविंद तिवारी के नेतृत्व एवं प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की बहनों के सानिध्य में किया गया। इस अवसर पर पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित रहे। कार्यक्रम में रक्षाबंधन के आध्यात्मिक रहस्य को स्पष्ट करते हुए ब्रह्माकुमारी जयंती दीदी ने बताया कि वर्तमान समय में सबसे पहले हमे अपनी रक्षा करनी है अर्थात आत्मा की, और आत्मा की रक्षा के लिए स्वयं परमपिता परमात्मा इस धरा पर अवतरित होकर हम सभी आत्माओं के मन को पवित्र कैसे बनाएं, इसका मार्ग दिखाए जा रहे है। दीदी ने आगे बताया कि आत्मा की पांच विकारों से से रक्षा करने वाला स्वयं परम रक्षक पिता परमात्मा है। जिसके साथ हमें भाई का संबंध जोड़ कर प्यारे रक्षाबंधन में प्रतिदिन आत्मिक स्मृति का तिलक लगाकर परमात्मा की याद का सूत्र मन में बांधकर मधुर वचनों की मिठाई खाकर और अपने जीवन की बुराइयों को प्रभु अर्पण कर दान कर पवित्र आत्मा को निर्मल एवं शांत बनाना है, तभी हमारा रक्षाबंधन पर्व मनाना सहीं मायने में सार्थक होगा।


बुराई त्यागने का लिया संकल्प

इस अवसर पर पुलिस विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को ब्रम्हाकुमारी बहनों ने आत्मिक स्मृति का तिलक लगाकर राखी बांध मुंह मीठा करवाया। इस दौरान सभी ने अपने-अपने जीवन की एक बुराई को परमात्मा को दान करने का संकल्प लिया। सर्वश्रेष्ठ रक्षक परमात्मा शिव को याद कर अपने जीवन को सुरक्षित करने का भी संकल्प दोहराया।


तिरंगा हमारी आन-बान और शान है

इस अवसर पर तिरंगा यात्रा का भी शुभारंभ पुलिस स्टाफ एवं ब्रम्हकुमारी बहनों के कर कमलों द्वारा किया गया। बीके ज्योति दीदी ने कहा कि तिरंगा हमारी आन बान और शान ह,ै इसका हमे सम्मान करना चाहिए। तीन रंगों का महत्व बताते हुए आपने कहा कि हरा रंग जीवन को हरा-भरा करने, सफेद रंग जीवन में शांति लाने एवं केसरिया रंग जीवन में समृद्धि लाने का प्रतीक है, इसलिए हर व्यक्ति को अपने घर पर तिरंगा ध्वज फहराना चाहिए। यही हमारे सच्चे भारतीय होने की पहचान है।


जैन समाज व जीव दया अभियान के तहत होंगे निःशुल्क बड़े ऑपरेशन, आर्डिगार्डी मेडिकल कॉलेज उज्जैन द्वारा जिलें में लग रहे मेगा कैम्प


jhabua-news
थांदला। जैनाचार्य पूज्य श्री उमेशमुनिजी म.सा. की स्मृति में उज्जैन के प्रसिद्ध आर डी गार्डी मेडिकल कॉलेज के सहयोग से मेगा हेल्थ कैम्प प्रत्येक माह की 10, 20 व 30 तारीख को लगाये जा रहे है। हेल्थ कैंम्प के माध्यम से अंचल के मोतियाबिंद के साथ आँखों की विभिन्न बीमारियों की निःशुल्क जाँच व उनके ऑपरेशन, हर्निया, पथरी, बच्चेदानी, घुटने, जॉइंट पेन, गठान आदि की निःशुल्क जाँच व उनके ऑपरेशन, नाक - कान - गला व बच्चों के सभी छोटे बड़े रोगों की निःशुल्क जाँच व उनके ऑपरेशन भी निःशुल्क करवाये जा रहे है। आज स्थानीय महावीर भवन पर लगे मेगा कैम्प में संस्था के जनसम्पर्क अधिकारी डॉ. कैलाश शर्मा ने अपनी सेवाएं देते हुए आये हुए मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया। अंचल के शिविर संयोजक भरत भंसाली व पवन नाहर ने बताया कि इस दौरन 4 गम्भीर मरीजों को ऑपरेशन के लिये संस्था के वाहन से उज्जैन भेजा गया है जहाँ उनकी विभिन्न प्रकार की जाँच की जाकर निःशुल्क ऑपरेशन किया जाएगा। इस दौरान समाजसेवी भरत भंसाली, जीव दया प्रेमी पवन नाहर व जीव दया प्रेमी आतमराम शर्मा, मनीष नागर ने उपस्थित होकर जाने वालें मरीजों को फल वितरित कर उनके शीघ्र आरोग्यता की कामना की। उल्लेखनीय है कि जीव दया अभियान ने उज्जैन संस्था के माध्यम से इसके पहले भी शिविर के माध्यम से 2 पेशेंट के मेजर ऑपरेशन जिनका अनुमानित खर्च 2 से ढाई लाख रुपये तक आता है निःशुल्क करवाये है। वही आगे भी प्रत्येक माह की 10, 20 व 30 तारीख को कैम्प आयोजित किये जायेंगे। जैन समाज व जीव दया अभियान ने उज्जैन संस्था को धन्यवाद देते हुए क्षेत्रीय जनता से अपील करते हुए कहा कि यदि आपके परिवार, रिश्तेदार या आसपास कोई गम्भीर मरीज हो तो उनका  8770935562 व 9424567444 पर सम्पर्क कर पंजीयन करवाते हुए उसे माह की 10, 20 या 30 तारीख को थांदला लेकर आ सकते है व निःशुल्क परामर्श व ईलाज लेकर सदा के लिए बीमारी दूर कर सकते है।


श्री नमस्कार महामंत्र की आराधना के सातवे दिन गच्छाधपति आचार्य नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा ने ‘‘नमो लोए सव्वसाहूणं’’ पद की व्याख्या की,

  • लाभार्थी परिवार का चातुर्मास समिति ने किया बहुमान

jhabua-news
झाबुआ। शहर के लक्ष्मीनगर स्थित रॉयल गार्डन में श्री नमस्कार महामंत्र की आरधना चल रहीं है। आराधना के 7वें दिन 10 अगस्त, बुधवार को राष्ट्रसंत आचार्य श्रीमद् विजय जयंतसेन सूरीश्वरजी मसा के सुशिष्य आचार्य गच्छाधिपति नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा ने श्री नवकार महामंत्र के सातवे पद ‘‘नमो लोए सव्वसाहूणं’’ की व्याख्या की।  श्री नमस्कार महामंत्र के 8वें पद में आठ तीर्थो का वर्णन पूज्य मुनिराज प्रशमसेन विजयजी मसा द्वारा अत्यंत ही सुंदर ढंग से किया गया। इस दौरान गीतों एवं स्तुती की प्रस्तुत्ती मन मधुकर आर्केस्ट्रा पार्टी द्वारा दी गई। भाव यात्रा का लाभ यशवंत, निखिल, शार्दुल, जिनाश भंडारी परिवार ने संघपति बन कर लिया। आचार्य श्री नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा की निश्रा में लाभार्थी परिवार ने नवकार मंडप में पहुंचकर भाव यात्रा विधि सहित पूर्ण की। बाद लाभार्थी भंडारी परिवार का चातुर्मास समिति की ओर अध्यक्ष मुकेश जैन ‘नाकोड़ा’, सचिव भरत बाबेल एवं समाजजनों की ओर से शाल-श्रीफल से बहुमान भी किया गया। भंडारी परिवार द्वारा नवकार महामंत्र की आराधना के सातवे दिन करीब 700 से अधिक आराधकों के एकासने का भी लाभ लिया।


भारत स्काउट्स एवं गाइड्स की संभाग स्तर समीक्षा बैठक इंदौर में हुई संपन्न, जिले से भी एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने की सहभागिता


jhabua-news
झाबुआ। भारत स्काउट एवं गाईड की समीक्षा बैठक शासकीय एरिया केंद्रीय पुस्तकालय प्रीतमलाल दुआ सभागृह इंदौर में संपन्न हुई। बैठक डिविजनल कमिश्नर जनजाति कल्याण विभाग बृजेशचंद्र पांडे तथा स्काउट एवं गाइड एसोसिएशन के राज्य संगठन के उपाध्यक्ष रमेश अग्रवाल, उपाध्यक्ष श्रीमती मीना डामोर, एसएसओसी चंद्रकांता उपाध्याय, भोपाल पूर्व सहायक राज्य संगठन आयोग प्रमोद गंगराड़े के आतिथ्य में संपन्न हुई। बैठक का शुभारंभ विद्या एवं ज्ञान की देवी महा-सरस्वतीजी की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलित कर किया गया। अतिथियों का स्वागत स्कार्फ पहना कर हुआ। इस दौरान डिविजनल कमिश्नर श्री पांडे ने विभिन्न जिलों से आए एसोसिएशन के पदाधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जिलों के स्कूलों में स्काउट गाइड दलों का गठन एवं उनका संचालन अनिवार्य रूप से किया जाए, शिक्षक-शिक्षिकाओं को स्काउटिंग का प्रशिक्षण दिया जाए, ताकि क्षेत्र के विद्यालयों के छात्र-छात्राएं संभाग राज्य, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रमों में भी प्रतिभागिता कर लाभान्वित एवं सम्मानित हो सके। बैठक को श्री अग्रवाल एवं श्रीमती उपाध्याय ने भी संबोधित किया।


ये हुए शामिल

वृहद बैठक में इंदौर, बड़वानी, खरगोन, अलीराजपुर, धार एवं झाबुआ के जिला संघों के पदाधिकारियों ने सहभागिता की। जिसमें झाबुआ से भारत स्काउट-गाइड एसोसिएशन से जिला उपाध्यक्ष जयेंद्र बैरागी, जिला सचिव श्रीमती शशिकला त्रिवेदी, जिला सह-सचिव प्रदीपकुमार पंड्या, डीओसी गाइड श्रीमती सागरी निगवाल सीमा दशोदी, भारती गिधवानी आदि ने सहभागिता की। इस अवसर पर संभाग के विभिन्न जिलों से आए कुल 50 पदाधिकारियों ने भाग लिया। कार्यक्रम का संचालन सहायक राज्य संगठन आयुक्त इंदौर धीरज सोनी ने किया। विशेष सहयोग संभागीय कार्यालय के स्टॉफ में श्रीमती नमिता मसकोला, अरुणेश सिंह आदि ने प्रदान किया।


असत्य और कलह से दूर रहने पर जीव के मन में शुभ भावों की अभिवृद्धि होती है ।’ -प्रवर्तक जिनेन्द्रमुनि जी म.सा.


झाबुआ ।  आत्मोद्धार चातुर्मास में 10 अगस्त बुधवार को स्थानक भवन में पुज्य जिनेन्द्र मुनिजी म.सा.ने  कहा कि केवल ज्ञानी  धर्म का सही उपदेश देते है। उनके उपदेश श्रवण कर अनेक आत्मा सन्मार्ग गामी होते है ।  कई बार कई सन्मार्गी मात्र अपनी वाह वाही लूटने ,उपदेश सही नही होने के कारण ऐसे  उपदेश सुनाने वाले व्यक्ति के उपदेश सुनकर उन्मार्गगामी बन जाते है । सही आराधना नही करके ,विपरित आराधना करते है । ऐसे व्यक्ति खुद डूबते है,  तथा दूसरों को भी डुबाते है । ऐसे उन्मार्ग गामी गाढे कर्म का खुद बंध करते ही है तथा जो ऐसे मार्ग पर चलते है वे भी कर्म बंध करते है । सुधर्म को कुधर्म , सुगुरू को कुगुरू, सुशास्त्र को कुशास्त्र मानते है, ऐसा अनादि काल से, उन्मार्गगामी  इस मार्ग पर चल कर संसार में परिभ्रमण करते रहते है । उसका कभी अंत नही आता है । ’सबसे ज्यादा जीव को परिभ्रमण कराने वाला मार्ग उन्मार्ग (बुरा मार्ग) है ।


’’ जिनेश्वर देव द्वारा बताया गया मार्ग ही सन्मार्ग है ।

आपने आगे कहा कि 18 पापों में से मिथ्या दोषारोपण  करना ऐसा पाप है जो जेसा जिस रूप् में करता है, उस पर वेसा ही पाप  का उदय आता है । व्यक्ति अज्ञानवश, मोहवश किसी पर झुठा दोषारोपण करके गाढे कर्म का बंध कर लेता है अपने दोषों को दूसरो पर लगाता है। पाप खुद करता है, दूसरो के उपर  मढ कर महामोहनीय कर्म का बंध कर लेता है । समाज में , नगर में, परिवार में अच्छा दिखूं इसलिये ऐसे गलत कार्य करता है, परन्तु इसके परिणाम भी दुष्ट होते है । किसी दुसरें को कैसे फंसाना, किसी की छबि को कैसे धुमिल करना, इस प्रकार के कार्य करने से  उसके परिणाम लंबे समय तक उसे भोगना पडते है । व्यक्ति समाज में, परिवार में दबा रहता है , सच्चें को झुठा, झुठे को  सच्चा बना देता है । अपने दोष दिखाई नही देते, अंधा बन जाता है । आजकल  बडे घोटालें होते है, पर बरी हो जाते हे । इस प्रकार का कार्य करने वाला व्यक्ति अनेक लोगों की आहे ओर श्राप लेकर दुःखी होता है । आपने आगे कहा कि जो व्यक्ति जानते हुए लोगों के बीच सत्य को झुठ, मिलाकर कलह करता है, वह महामोहनीय कर्म का बंध करता है । सत्य को असत्य सिद्ध करना  असत्य को सत्य सिद्ध करना, जरा जरा सी बात पर झुठ बोलता है ।  संसार में इस प्रकार का झुठ चलता रहता है । झुठ बोलने वाले के मन में  हमेशा अशुभ भाव, अशुभ विचार चलते रहते है । बात बात में व्यक्ति  झुठी कसम खाता है । भगवान के नाम की झुठी कसम भी खा लेता है । ऐसे व्यक्ति का दिमाग अशुभ भाव में रहता है और कर्म बंध करता है । उनकी पुरी जिंदगी अशुभ भाव में निकल जाती है । झुठ का पुलिंदा बन जाने पर पाप का उदय होने पर उसे भयंकर परिणाम भोगना पडते है । जरा-जरा सी बात पर झगडा करना, कलह करना भी कर्म बंध का कारण है । जो कलह करता है वह मोक्ष के लक्ष्य को समाप्त  करता है । चाहे वह साधु साध्वी हो  या   श्रावक-श्राविका हो । ज्ञानी कहते है कि कलह की प्रवृर्ति से दूर रहना चाहिये , जो जितना  कलह से परे रहता है, शुभ भाव की उसमें अभिवृद्धि होती है। असत्य और कलह से दूर रहने पर जीव के मन में शुभ भावों की  वृद्धि होती है ।


’कुछ मनुष्यो की वृत्ति दूसरो को दुःख ओर पीड़ा देने की होती है ।’

अणुवत्स पूज्य संयतमुनिजी मसा ने कहा कि भगवान ऋषभदेव जी के 98 पुत्र भरत राजा की शिकायत करने  भगवान के पास आये थे, भगवान ने शिकायत सुनने के बाद कहा कि समझ बडी दुर्लभ है ,इसे समझो। भगवान की बात समझ कर सभी पुत्रों ने दीक्षा ले ली ।  वे समझ गये कि अगर संसार में रहेगें तो  भरत राजा  की आज्ञा मानना पडेगी । उनकी खुशामद  गरज करना पडेगी , चापलुसी करना पडेगी ।  पर दीक्षा लेने के बाद उनकी गरज खुशामद की जरूरत नही पड़ेगी ।संसार में गृहवास में रहते हुए कई लोगों की खुशामद करना पडती है । कई लोगों के सामने जीव दबा हुआ है । दबे हुए को भार लगता है । कुछ मनुष्यों की वृत्ति दुसरों को दुःख और पीडा देने की होती है । ऐसे व्यक्ति का सामना नही कर सकते है,तो उसकी खुशामद करना पड़ती है। चाहे सामने वाला हल्का हो, गरज पडने पर उसके सामने व्यक्ति को झुकना ही पडता हे ।  झूठा,आदर और सम्मान देना ही पडता है । जीव देवता-देवियों से भी डर कर खुशामद करता है ।’देव उसी को नमस्कार करते हे जिसका मन संयम में लगा रहता है ।’। व्यक्ति का धर्म में मन लग गया तो उसे  खुशामद नही करना पडती हे । गृहस्थ  दुर्बल मन वाले होतेे है,इसलिए उनको देवों से भी दबना पड़ता हे । व्यक्ति को दबना पसंद नही है , पर काम निकालने के लिये दबना पडता है । झुठी प्रशंसा  करने पर कर्म बंध होते है । जो भी समझ गये  वो आनंद में है, जो नही समझे वो दुःखी है । मजबुत मन वाले ही लंबी तपस्या करते है । ऐसे तपस्वी जो यहां तपस्या कर रहे है वे धन्यवाद के पात्र है ।

’खाना पीना छोड़ा, छोड़ा

स्वाद और चटकारा ।     

धन्य तपस्वी तुमको,       

तप से तन मन को संवारा ।’

मासक्षमण से भी आगे बढ कर उग्र तपस्या की ओर अग्रसर श्रीमती राजकुमारी कटारिया ने आज 33 उपवास के प्रत्याख्यान लिये । मास क्षमण की ओर कदम बढाते हुए श्रीमती आरती कटारिया, श्रीमती रश्मि, निधिता रूनवाल, श्रीमती चीना, नेहा घोडावत ने आज-30 उपवास के प्रत्याख्यान ग्रहण किये । श्री अक्षय गांधी ने 29 तथा श्रीमती आजाद बहन श्रीमाल ने 15उपवास  के पचखान लिए । 10 तपस्वीयो द्वारा उपवास,एकासन ,निवि तप से वर्षीतप कर रहे है । श्रीमती पूर्णिमा सुराणा सिद्धितप, श्रीमती उषा, सविता पद्मा,सुमन रूनवाल, श्रीमती रेखा कटकानी मेरू तप कर रही हे । अन्य कई तपस्वी विभिन्न प्रकार की तपस्या  कर रहे है । आज श्रीमती रश्मि मेहता के 30 उपवास पूर्ण होने पर जयकार यात्रा निकाली गई । वर्षावास प्रारंभ से तेला-आयम्बिल तप की लडी सतत चल रही है । 


निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार वोटर आईडी को आधार कार्ड से लिंक करवाए


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा अपनी वोटर आईडी को आधार से लिंक करवाई एवं आव्हान किया कि निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले के सभी निवासी स्वयं और अपने परिवार की भी वोटर आईडी के साथ आधार कार्ड से लिंक करवाए। इस संबंध में आधार लिंक करने हेतु जो एप जारी किया गया है उसके आधार पर आप आधार से जोड सकते है।


खनिज विभाग ने पकड़े 03 रेत के ओवरलोड डंपर


झाबुआ,। कलेक्टर महोदय झाबुआ श्री सोमेश मिश्रा  ने निर्देश दिए है कि जिले में खनिज माफिया के अवैध खनन पर सख्त कार्यवाही सुनिश्चित की जावे। इसके लिए सतत दबिश दी जाए। खनि अधिकारी धर्मेंद्र चौहान के निर्देश पर जिले में खनिजों के अवैध उत्खनन,परिवहन की रोकथाम हेतु खनिज विभाग के दल द्वारा मंगलवार शाम से पूरी रात बुधवार की सुबह तक जिले की अधिकांश तहसील क्षेत्रों में आकस्मिक निरीक्षण कर खनिज परिवहन एवं उत्खनन की सघन जांच की गई।जांच मे अधिकांश वाहनों में खनिज परिवहन हेतु अभिवहन पारपत्र (रॉयल्टी) होना पाया गया। खनिज दल को जांच के दौरान खनिज रेत से भरे डंपर वाहन क्रमांक ळश्र 20 ग् 0993, ळश्र 20 ग् 0674 एवं त्श्र 03 ळ। 9677 उचित वैधानिक पारपत्र  के बिना अवैध रूप से खनिज रेत का ओवरलोड परिवहन करते पाए जाने पर, मौके से जप्त कर थाना प्रभारी थाना काकनवानी की अभिरक्षा में दिया गया है।इन जब्तशुदा वाहनो पर ’मध्य प्रदेश (अवैध खनन,परिवहन और भंडारण)  नियम 2022 के प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जावेगी। इस कार्यवाही में खनि निरीक्षक शंकर कनेश व होमगार्ड सम्मिलित रहे।


महाविद्यालय झाबुआ की राष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) की संयुक्त इकाई द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत ‘‘हर घर तिरंगा अभियान‘‘ तिरंगा  रेली का आयोजन


jhabua-news
झाबुआ। शहीद चंद्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ की राष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) की संयुक्त इकाई द्वारा आजादी के अमृत महोत्सव “हर घर तिरंगा अभियान“ के अंतर्गत राष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) की संयुक्त इकाई तथा (एन. एस. एस.) एवं नेहरू युवा केंद्र के संयुक्त तत्वाधान संस्था प्रमुख एवं प्राचार्य डॉ. जे.सी. सिन्हा के मार्गदर्शन में महाविद्यालय परिसर में आजाद प्रतिमा से जन-जन को जागरूक करने के लिए और “हर घर तिरंगा अभियान“ के तहत देशभक्ति एवं तिरंगा मेरी आन तिरंगा मेरी शान, तिरंगा मेरी जान, तिरंगा मेरा अभिमान, हमने यह ठाना है हर घर तिरंगा फहराना है। के नारों के साथ तिरंगा रैली निकाली गई। रैली का प्रारंभ सर्वप्रथम प्रशासनिक अधिकारी डॉ. रविंद्र सिंह द्वारा आजाद प्रतिमा एवं वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ. उषा पोरवाल द्वारा गांधी जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया गया । रैली में सभी प्राध्यापक, सभी कर्मचारी एवं विद्यार्थियों ने उत्साह के साथ भाग लिया। रैली के प्रारंभ होते ही बारिश होने लगी लेकिन सभी के अंदर जोश तिरंगे के प्रति इतना था कि गिरते बारिश में भी रैली जारी रही। राष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) कार्यक्रम अधिकारी डॉ. संगीता मसानी भाबोर द्वारा उत्साह पूर्वक देशभक्ति नारे लगाकर विजय विश्व तिरंगा प्यारा गीत गाया गया।   इस अवसर पर (एन. एस. एस.) अधिकारी डॉ. गोपाल भूरिया, पूर्वराष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) कार्यक्रम अधिकारी डॉ. रीता गणावा, डॉ. मनीषा सिसोदिया एवं डॉ. कुंवरसिंह चौहान, डॉ. रंजना रावत प्रो. पी. एस. डावर, डॉ. हरिओम अग्रवाल, नेहरू युवा केंद्र की अधिकारी सुश्री प्रीति, राष्ट्रीय सेवा योजना (एन. एस. एस.) के कार्यक्रम अधिकारी प्रो. मुकामसिंह चौहान एवं  स्वयंसेवक मनीष गणावा, लोकेन्द्र बिलवाल, चेतन सोनी’ रिंकू सिंगार, चिराग तोमर, सोनाली कनेश, उमा कामलिया, मोहित श्रीवास्तव, जयदीप अन्य स्वयंसेवक उपस्थित थे।


‘‘जिले मे खरीफ 2022 फसलों हेतु उर्वरको का पर्याप्त भण्डारण‘‘


झाबुआ। जिले मे विगत दिवस मे अच्छी वर्षा हुई है। जिससे खरीफ 2022 फसलों की स्थिति मे भी सुधार हुआ है। पौध पोषण हेतू उर्वरकों की शेष मात्रा टॉप ड्रेसिंग के रूप मे दी जा रही है। जिला कलेक्टर श्री सोमेष मि़श्रा के मार्गदर्षन मे उर्वरको की उपलब्धता की निरंतर समीक्षा की जा रही है। श्री नगीन रावत ,उप संचालक, कृषि जिला झाबुआ द्वारा बताया गया कि जिले मे उर्वरको का पर्याप्त मात्रा मे भण्डारण करवाया गया है। जिले मे यूरिया की लक्ष्यांकित मात्रा 35000 मे.टन मे से 27148 मे.टन वितरण किया जा कर वर्तमान मे 4609 मे.टन यूरिया सिंगल लॉक, डबल लॉक मे शेष उपलब्ध है। आगामी 02-03 दिवस मे रेक पाईण्ट मेघनगर पर यूरिया की रेक से 1500 मे टन यूरिया जिले को और प्राप्त होने की संभावना है। डी.ए.पी. की लक्ष्यांकित मात्रा 13000 मे.टन के विरूद्ध 7759 मे.टन प्राप्त हुआ है जिसमे से 5919 मे.टन वितरण किया जा कर 1840 मे.टन डी.ए.पी. सिंगल लॉक, डबल लॉक मे  शेष उपलब्ध है। एम.ओ.पी. की लक्ष्यांकित मात्रा 1500 मे.टन के विरूद्ध 830 मे.टन जिले को प्राप्त हुआ है जिसमे से मे से 550 मे.टन वितरण किया जा कर शेष 280 मे.टन एम.ओ.पी. सिंगल लॉक, डबल लॉक मे उपलब्ध है, एन.पी.के. कॉम्पलेक्स. की लक्ष्यांकित मात्रा 2452 मे.टन के विरूद्ध 1337 मे.टन जिले को प्राप्त हुआ है जिसमे से मे से 708 मे.टन वितरण किया जा कर शेष 744 मे.टन सिंगल लॉक, डबल लॉक मे  उपलब्ध है। जिले मे एस.एस.पी. की लक्ष्यांकित मात्रा 4000 मे.टन के विरूद्ध 3793 मे.टन जिले को प्राप्त हुआ है जिसमे से मे से 2930 मे.टन वितरण किया जा कर शेष 863 मे.टन एस.एस.पी. सिंगल लॉक, डबल लॉक मे  उपलब्ध है। इस प्रकार जिले मे उर्वरको का पर्याप्त भण्डार है, अतः कृषक बंन्धू निष्चिंत हो कर अपनी खरीफ फसलो की आवष्यकता का उर्वरक सहकारी निजी विक्रेताओ से क्रय कर उपयोग कर सकते है।


प्रबंध संचालक, म.प्र.अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम भोपाल द्वारा अनुसूचित जाति वर्ग के लिये वित्तिय वर्ष 2022-23 हेतू संचालित योजनाओं के लक्ष्य प्राप्त हुए है


झाबुआ,। वित्तिय वर्ष 2022-23 हेतू सभी योजनाओं संत रविदास स्वरोजगार योजना में 17 का लक्ष्य, रू.1 से 50 लाख तक उद्योग परियोजनाओ के लिये एवं 25 लाख तक सेवा ईकाई एवं खुदरा व्यवसाय हेतू पात्रता 18-45 वर्ष। न्यूनतम 8वीं कक्षा उत्तीर्ण परिवार की वार्षिक आय 12 लाख से अधिक न हो, वित्तिय सहायता ब्याज अनुदान वितरित/शेष ऋण पर 5 प्रतिषत की दर से अधिकतम 7 वर्षो तक नियमित रूप से ऋण भुगतान की शर्त पर देय होगा। डॉ. भीमराव अम्बेडकर मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना मंे 200 का लक्ष्य 0.10 लाख से 1 लाख का लक्ष्य प्राप्त हुआ है, पात्रता 18 से 55 वर्ष, आयकर दाता न हो। वित्तिय सहायता ब्याज अनुदान वितरित शेष ऋण पर 7 प्रतिशत की दर से अधिकतम 5 वर्षो तक नियमित रूप से ऋण भुगतान की शर्त पर देय होगा।  इच्छुक आवेदक जिले के किसी भी ऑनलाईन सेंटर पर जाकर इस वेबसाईट से ीजजचेरूध्ध्ेंउेजण्उचवदसपदमण्हवअण्पद आवेदन करने के पश्चात कार्यालय जिला अंत्यावसायी सहकारी विकास समिति कलेक्टोरेट कार्यालय झाबुआ में आवेदन की प्रति के साथ सम्पर्क करे।


जेएमसी ईंडिया प्राइवेट लिमिटेड के अधिकारीयो - कर्मचारियों को छूटे हुए कोवीड 19 के टीके लगाए गए


झाबुआ। म.प्र. झाबुआ सिंचाई परियोजना के अंतर्गत पिलीया खदान मे स्थित जेएमसी ईंडिया प्राइवेट लिमिटेड के अधिकारीयो -कर्मचारियों के छूटे हुये कोवीड 19 के टीके डॉ. राहुल गणावा जिला टीकाकरण अधिकारी के सुपरविजन मे टीम दल मे सुपरवाइज़र प्रेमलता भाटी, सीएचओ श्रीमति आलमबाई डावर, एएनएम श्रीमति अनिता मैड़ा के द्वारा टीके लगाये गये। कंम्पनी की और से मैनेजर श्री कुद्दी पिद्दी राजु, एडमिन श्री राजशेखर घोष, हेल्थ सुरक्षा अधिकारी श्री गोविंद कुमार झा का सराहनीय योगदान होकर कंम्पनी के 85 से अधिक हितग्राहीयो को कोवीड के टीके लगाये गये।


मेघनगर नगरीय निकाय का प्रथम सम्मेलन आज, कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा व्यवस्था का जायजा लिया


झाबुआ कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सोमेश मिश्रा आज नगरीय निकाय मेघनगर के प्रथम सम्मेलन में पहुंचे एवं यहां पर व्यवस्था का जायजा लिया। श्री मिश्रा ने नगर परिषद मेघनगर में आज हो रहे नगर परिषद अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष के लिए की जा रही कार्यवाही का अवलोकन किया। नगर परिषद मेघनगर में 15 वार्ड के पार्षद निर्वाचित हुए है। जिसमंे से यह निर्वाचन होगा। इसके लिए पीठासीन अधिकारी एवं अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री अनिल भाना के द्वारा सम्पूर्ण कार्यवाही सम्पन्न कराई जा रही है। कानून व्यवस्था के लिए डिप्टी कलेक्टर श्री तरूण जैन एवं तहसीलदार श्री रविन्द्र चौहान एवं अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री आर.एस.राठी, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस झाबुआ सुश्री बबिता बामनिया, पुलिस निरीक्षक थाना प्रभारी श्री टी.एस.डावर आदि उपस्थित थे।


कलेक्टर के द्वारा आकस्मिक कोविड टीकाकरण केन्द्र का निरीक्षण किया

  • जिले में आज 278 केन्द्र बनाए गए जिसकी मानिटरिंग के लिए जिला अधिकारियों को नियुक्त किया 

झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा आज अचानक ग्राम नौगांवा मेघनगर जनपद क्षेत्र में पहुंचे एवं यहां पर हो रहे टीकाकरण की व्यवस्था का अवलोकन किया एवं ग्रामीणों से शतप्रतिशत टीकाकरण करवाने के लिए प्रेरित किया। यहां पर उपस्थित मेडिकल स्टॉफ का उत्साहवर्धन किया। टीकाकरण के लिए यहां पर बेहतर सुविधा उपलब्ध थी। श्री मिश्रा केे द्वारा दिए गए निर्देशानुसान आज जिले में सघन टीकाकरण का कार्य प्रातः से ही प्रारंभ हो गया था। जिसमें सतत मानिटरिंग के लिए जिला अधिकारियों को भेजा गया था। जिले में आज 278 केन्द्र बनाए गए थे। इस अभियान में 15 प्लस स्कूलों के बच्चे, युवा 18 प्लस और 60 प्लस का प्रथम, द्वितीय एवं प्रिकॉशन डोज, कोविशिल्ड और को-वैक्सीन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई थी। झाबुआ शहर में भी बुनियादी स्कूल, पुलिस लाईन डीआरपी, मोजीपाडा और दिलीप गेट पर संेटर बनाए गए थे।


जिला स्तर के बैंक अधिकारियों के साथ तिरंगा अभियान की बैठक


झाबुआ। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा आज प्रातः कलेक्टर कक्ष में जिले के विभिन्न बैंको के जिला अधिकारियों से रूबरू चर्चा की एवं दिनंाक 11 अगस्त से 17 अगस्त तक चलने वाले आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत तिरंगा अभियान में अधिक से अधिक भागीदारी सुनिश्चित करने का आव्हान किया। बैठक में बडी संख्या में बैंक अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर श्री मिश्रा ने बैंक अधिकारियों को तिरंगा भेट किया और जिले को हराभरा बनाने के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण कर शासन के वायुदूत एप में पोस्ट करने का आव्हान किया एवं उर्जा बचत के लिए उषा एप मंे पोस्ट कर अधिक से अधिक लोगों को उर्जा की बचत कर इस अभियान से जुडने का आव्हान किया।


9 वी कक्षा की छात्रा ने कलेक्टर को मेक्रम के धागे से हस्त निर्मित तिरंगा भेट किया


झाबुआ। आज प्रातः कलेक्टर कार्यालय में कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा को गर्ल्स हायर सेकेण्न्ड्री स्कूल झाबुआ की छात्रा कुमारी स्मृति चौहान के द्वारा मेक्रम के धागे से हस्त निर्मित तिरंगा भेट किया और बताया कि हम आजादी के अमृत महोत्सव तिरंगा अभियान में अधिक से अधिक लोगो को जोडेंगे। श्री मिश्रा ने छात्रा को बधाई दी और इस अभियान में जुडने के लिए शुभकामना दी।


मनरेगा के अंतर्गत 132 हैक्टर में 76425 पौधे रोपे गए


jhabua-news
झाबुआ । जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन ने बताया कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना अंतर्गत सा. वानित्र उ. प्रकल्प के तहत जिले में 07 अगस्त को 132 हैक्टेयर में 76425 पौधे रोपे गए। जिल में वृक्षारोपण हेतु कुल 400 हैक्टेयर का चयन किया गया है। जिनमें मनरेगा योजना से वनविभाग, उद्यानिकी विभाग एवं एनआरएलएम के माध्यम से वृक्षारोपण का कार्य किया जा रहा है। इस क्रम में वृक्षारोपण का कार्य किया गया। कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा एवं वनमण्डलाधिकारी श्री हरेसिंह ठाकुर के द्वारा भी वृक्षारोपण किया गया। जनपद पंचायत झाबुआ की शासकीय भूमि ग्राम पंचायत बिजलपुर में 30 हैक्टर भूमि पर 18 हजार 750 पौधे रोपे गए, जनपद पंचायत मेघनगर की शासकीय भूमि ग्राम पंचायत झाराडाबर में 30 हैक्टर भूमि पर 18 हजार 750 पौधे रोपे गए, जनपद पंचायत पेटलावद की शासकीय भूमि ग्राम पंचायत बोढायता, कर्दीखेडा, गुणावद में 44 हैक्टर भूमि पर 27 हजार 500 पौधे रोपे गए, जनपद पंचायत रामा की शासकीय भूमि ग्राम पंचायत खरडु बडी, वागलावाट भूरिया में 03 हैक्टर भूमि पर 01 हजार 825 पौधे रोपे गए, जनपद पंचायत राणापुर की शासकीय भूमि ग्राम पंचायत कंजावानी में 01 हैक्टर भूमि पर 600 पौधे रोपे गए। इस तरह 108 हैक्टर में 67425 पौधे रोपे गए। जनपद पंचायत झाबुआ के हितग्राहीमूलक योजना में ग्राम पंचायत माण्डली बडी के 10 किसानों द्वारा 1500 पौधे रोपे गए। जनपद पंचायत मेघनगर के हितग्राही मूलक योजना में ग्राम पंचायत तलावली के 11 किसानों द्वारा 550 पौधे रोपे गए। जनपद पंचायत पेटलावद के हितग्राही मूलक योजना में ग्राम पंचायत हनुमंतिया, करवड, रूणजी, गेंडी, गंगाखेडी के 40 किसानों द्वारा 3500 पौधे रोपे गए। जनपद पंचायत रामा के हितग्राही मूलक योजना में ग्राम पंचायत पिथनपुर के 10 किसानों द्वारा 200 पौधे रोपे गए। जनपद पंचायत राणापुर के हितग्राही मूलक योजना में ग्राम पंचायत गवसर, भूतखेडी के 10 किसानों द्वारा 1000 पौधे रोपे गए।जनपद पंचायत थांदला के हितग्राही मूलक योजना में ग्राम पंचायत डुंगरीपाडा, भीमपुरी, रन्नी, सेमलिया, भामल के 18 किसानों द्वारा 2250 पौधे रोपे गए। इस तरह 99 किसानों के द्वारा 9000 पौधे रोपित किए गए।

कोई टिप्पणी नहीं: