केजरीवाल ने 330 बेड के निर्माणाधीन अस्पताल का लिया जायजा - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 30 अगस्त 2022

केजरीवाल ने 330 बेड के निर्माणाधीन अस्पताल का लिया जायजा

kejriwal-took-stock-of-the-330-bedded-hospital-under-construction
नयी दिल्ली, 30 अगस्त, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सरिता विहार में 330 बेड के निर्माणाधीन अस्पताल का मंगलवार को दौरा कर जायजा लिया और कहा कि हमें उम्मीद है कि यह अस्पताल अक्टूबर-नवंबर में बनकर तैयार हो जाएगा। श्री केजरीवाल ने कहा कि सरिता विहार में यह 330 बेड का नया हॉस्पिटल बन रहा है। हम लोगों ने कोरोना के समय में इस तरह के सात अस्पताल पूरी दिल्ली के अंदर बनाने शुरू किए थे। यह सातों अस्पताल इस उद्देश्य से बनाने शुरू किए थे कि अगर कभी भविष्य में कोरोना की महामारी दोबारा आती है, तो बहुत बड़े स्तर पर आईसीयू और बेड तैयार मिले। अभी फिलहाल करोनो की बीमारी तो नहीं है। अब ऐसा लगता है कि शायद कोरोना से निजात मिल गई है, लेकिन यह सातों हॉस्पिटल पूरी दिल्ली के काम आएंगे। जिस स्थान पर हॉस्पिटल बन रहा है, यह जगह 20-25 साल पहले चिंहित की गई थी। उन्होंने कहा कि मुझे बताया गया कि हर चुनाव के पहले हर पार्टी यहां आकर नारियल फोड़ा करती थी कि हम अस्पताल बनाएंगे, लेकिन शायद बनाने की नियत किसी की नहीं थी। अब हमारी आम आदमी पार्टी की सरकार शिक्षा और स्वास्थ्य पर सबसे ज्यादा तवज्जो दे रही है। अब उम्मीद है कि यह अस्पताल अक्टूबर-नवंबर में बनकर तैयार हो जाएगा। इसके बन जाने से पूरे क्षेत्र के लोगों को काफी सुविधा मिलेगी। इसमें कई सारी चीजें हैं, जो आर्किटेक्चरल प्वाइंट ऑफ व्यू से पहली बार इस्तेमाल की गई है। जिसकी वजह से बहुत तेजी से और बहुत कम समय में यह हॉस्पिटल बनकर तैयार हो गया है। इसके अलावा, निर्माणाधीन सात में से छह अन्य हॉस्पिटल भी दिसंबर के अंत तक या जनवरी में बनकर तैयार हो जाएंगे। मैं समझता हूं कि इसके बाद पूरी दिल्ली के लोगों को काफी सुविधा होगी और दिल्ली में काफी बड़े स्तर के ऊपर मेडिकल सुविधाएं बढ़ेंगी। दिल्ली सरकार शालीमार बाग की तरह ही दिल्ली में अलग-अलग स्थानों पर सात सेमी परमानेंट/टेंपरेरी आईसीयू अस्पताल बना रही है। इन सातों सेमी आईसीयू अस्पतालों में करीब 6830 बेड्स होंगे। शालीमार बाग में 1430 बेड का आईसीयू अस्पताल का बनाया जा रहा है। इसी तरह, किराड़ी में 458 बेड का आईसीयू अस्पताल बनवाया जा रहा है। दिल्ली सरकार सुल्तानपुरी में भी 527 बेड का सेमी आईसीयू अस्पताल बनवा रही है। चाचा नेहरू बाल चिकित्सालय में 596 बेड का अस्पताल बनवाया जा रहा है। जीटीबी अस्पताल में 1912 बेड का सेमी आईसीयू अस्पताल बनाया जा रहा है और सरिता विहार 330 बेड और रघुबीर नगर में 1577 बेड का अस्पताल बनाया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) जांच को लेकर मीडिया के सवाल पर कहा कि यह बहुत अच्छी बात है कि जब हम सार्वजनिक जीवन में आते हैं, तो हमें किसी भी जांच के लिए हमेशा तैयार रहना चाहिए। सीबीआई ने पूरी जांच कर ली है। मनीष सिसोदिया के घर पर भी 14 घंटे जांच हुई लेकिन कुछ नहीं निकला। सीबीआई ने आज उनका लॉकर चेक किया। लॉकर में भी कुछ नहीं निकला। एक तरह से सीबीआई की तरफ से अनौपचारिक रूप से क्लीन चिट मिल गई है, लेकिन सीबीआई के ऊपर राजनीतिक कारणों की वजह से दबाव है। हमें लगता है कि ये लोग हफ्ते-दस दिन के अंदर गिरफ्तार तो करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: