बिहार : नौकरी के लिए नहीं करना होगा आंदोलन - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

गुरुवार, 18 अगस्त 2022

बिहार : नौकरी के लिए नहीं करना होगा आंदोलन

there-will-be-no-agitation-for-the-job-bihar
पटना : बिहार में नीतीश कुमार की नेतृत्व वाली महागठबंधन सरकार का कैबिनेट विस्तार होते ही अधिकांश मंत्रियों ने पदभार ग्रहण कर लिया है। इसी कड़ी में बिहार सरकार के शिक्षा मंत्री प्रो चन्द्रशेखर ने भी पदभार ग्रहण कर लिया। विभागीय अधिकारियों के साथ समीक्षा के बाद शिक्षा मंत्री चन्द्रशेखर ने प्रेस कांफ्रेस कर कहा कि हमारे नेता नीतीश कुमार और तेजस्वी यादव द्वारा जो रोजगार को लेकर वादा किया गया है, इसको लेकर हमलोग तत्पर है। हमलोग जल्द ही 10 लाख सरकारी नौकरी देने को लेकर काम करना शुरू करेंगे। दरअसल, बिहार सरकार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा था की जब बिहार में मेरी सरकार आएगी तो हर एक युवाओं को रोजगार दिया जाएगा। हमारी सरकार में 10 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएगा। जिसके बाद उनके सरकार में आते ही विपक्षी दलों द्वारा उनके इस वादे को लेकर सवाल उठाए जा रहे हैं। जिसके बाद राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सर्वाजनिक मंच से यह ऐलान किया था कि हमारी सरकार में 20 लाख लोगों को रोजगार दिया जाएग। जिसके बाद शिक्षा मंत्री ने इस मामले में अपना नजरिया साफ़ किया है। बिहार के शिक्षा मंत्री चन्द्रशेखर ने कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता राज्य की शिक्षा व्यवस्था को मजबूत करना है। शिक्षा विभाग द्वारा राज्य के सभी प्रधानाचार्य, कुलपति, प्राचार्य विभागाध्यक्ष से आगरा किया जाता है कि वह कम से कम 15 दिनों के अंदर वर्ग संचालन जरूर करवाएं। क्योंकि शिक्षाएं ऐसी ताकत है जिससे दुनिया बदली जा सकती है और यदि बिहार को विकास के पथ पर लाना है तो उसके लिए शिक्षा विभाग को मजबूती से काम करना होगा। इसके अलावा उन्होंने कहा कि हमारे सरकार में शिक्षा का भर्तियों को या कोई भी युवाओं को आंदोलन करने की जरूरत नहीं पड़ेगी क्योंकि हमारी सरकार व्यापक पैमाने पर नौकरी देने के लिए तत्पर है हो सकता है कि इसमें कुछ समय लग है लेकिन यदि उनको रोजगार करना है तो फिर सरकार को कुछ समय देना होगा ताकि सारी विभागीय प्रक्रिया पूरी की जा सके। शिक्षा मंत्री ने कहा कि युवाओं को यह समझना होगा कि सरकार उनकी सरकार है युवाओं की सरकार है इसलिए यदि वह सहयोग देंगे तो सरकार भी उन्हें अपना पूरा समर्थन देगी और इससे शिक्षा जैसे तमाम क्षेत्रों में रोजगार का अवसर प्रदान होगा।

कोई टिप्पणी नहीं: